श्री राधा मदन मोहन मंदिर - Shri Radha Madan Mohan Mandir

चैतन्य महाप्रभु के आग्रह पर, श्री वृन्दावन धाम को पुनः प्रकट करने वाले श्रील सनातन गोस्वामी ने प्रथम मंदिर के रूप मे श्री राधा मदन मोहन मंदिर की स्थापना की थी। श्री श्री राधा-मदनमोहन जी का यह मंदिर, अभी के वृंदावन का सबसे प्राचीनतम मंदिर है। मंदिर के प्रमुख विग्रह मे श्री मदन गोपाल, श्री राधा रानी एवं प्रमुख सखी गोपी ललिता हैं।

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

◉ वृंदावन के प्रसिद्ध एवं प्राचीनतम मंदिरों में से एक।
◉ मंदिर की मूल मूर्ति करौली मदन मोहन मंदिर में मौजूद है।
◉ समृद्ध ऐतिहासिक पृष्ठभूमि के कारण, भारत सरकार द्वारा घोषित पुरातात्विक स्थान।

समय - Timings

दर्शन समय
Summer : 6:00 AM - 11:00 AM, 5:00 PM – 9:30 PM; Winter : 7:00 AM - 12:00 PM, 4:00 PM – 8:00 PM
त्यौहार
Janmashtami, Kathik, Sharad Purnima, diwali|Govardhan Puja, Srila Prabhuapad Tirobhav, Gopaastami, Devotthan Ekadasi | यह भी जानें: एकादशी 2021

Temple History

Maharaja Jai Singh brought Madana-Mohan to Jaipur from Vrindavan. His brother-in-law, Maharaja Gopal Singh, had a dream in which Madana-Mohan said `Take Me to Karoli.` He then told Maharaja Jai Singh about the dream and asked permission to bring Madana-Mohan to Karoli. Near by place Kali Ghat, Sanatana Goswami Samadhi, Ashta Sakhi Mandir, Shri Shanti Hari Mandir and comman Car Parking

About Sanatana Goswami
Bookes: Brihat Bhagavtamrita, Hari Bhakti Vilasa, Krishna Lila Stava, Brihad Vaishnava Toshani

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
All new and old Shikhar related to history.

All new and old Shikhar related to history.

Photo taken by main Street side from Banke Bihari Temple.

Photo taken by main Street side from Banke Bihari Temple.

Near by Ashta Sakhi Mandir (http://ashtasakhimandir.org) from the high stage of Madan Mohan Temple, under the concept of Mandir se Mandir Tak.

Near by Ashta Sakhi Mandir (http://ashtasakhimandir.org) from the high stage of Madan Mohan Temple, under the concept of Mandir se Mandir Tak.

Destroyed Original Shikhar with new one. Destroyed by mugal emperor Aurangzeb

Destroyed Original Shikhar with new one. Destroyed by mugal emperor Aurangzeb

श्री राधा मदन मोहन मंदिर

श्री राधा मदन मोहन मंदिर

A large view of Vrindavan through the hight of Madan Mohan Temple.

A large view of Vrindavan through the hight of Madan Mohan Temple.

Shri Shanti Hari Mandir can also be visible through Madan Mohan Mandir, as the concept of Mandir se Mandir Tak.

Shri Shanti Hari Mandir can also be visible through Madan Mohan Mandir, as the concept of Mandir se Mandir Tak.

Shri Radha Madan Mohan Mandir in English

Shri Radha Madan Mohan Mandir is one of the oldest temple in Vrindavan with main deity as Madana Mohan, Radha Rani and Shakhi Lalita.

जानकारियां - Information

धाम
Bhajan kutir of Sanatana GoswamiSamadhi of Sanatana Goswami
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Drinking Water, Common Parking
धर्मार्थ सेवाएं
श्रील सनातन गोस्वामी जी की भजन कुटीर।
संस्थापक
श्रील सनातन गोस्वामी
स्थापना
1580
देख-रेख संस्था
भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण
समर्पित
श्री राधा कृष्णा
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)
नि:शुल्क प्रवेश
हाँ जी

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Bankebihari Colony Vrindavan Uttar Pradesh
सड़क/मार्ग 🚗
Parikrama Marg >> Madan Mohan Banke Bihari Path
रेलवे 🚉
Mathura, Agra
हवा मार्ग ✈
Pandit Deen Dayal Upadhyay Airport Agra
नदी ⛵
Yamuna
वेबसाइट 📡
निर्देशांक 🌐
27.58015°N, 77.687671°E
श्री राधा मदन मोहन मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/madan-mohan-mandir

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती: श्री गंगा मैया जी

ॐ जय गंगे माता श्री जय गंगे माता। जो नर तुमको ध्याता मनवांछित फल पाता॥ हर हर गंगे, जय माँ गंगे...

श्री खाटू श्याम जी आरती

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे। खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे॥

आरती: श्री बांके बिहारी तेरी आरती गाऊं..

श्री बांके बिहारी तेरी आरती गाऊं, हे गिरिधर तेरी आरती गाऊं।...

🔝