त्यौहार

22 September 2021पितृ पक्ष

🙏 पितृ पक्ष - Pitru Paksha

पितृ पक्ष जिसे श्राद्ध या कानागत भी कहा जाता है, श्राद्ध पूर्णिमा के साथ शुरू होकर सोलह दिनों के बाद सर्व पितृ अमावस्या के दिन समाप्त होता है।

29 September 2021जितिया

👶 जितिया - Jitiya

हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक वर्ष आश्विन मास की कृष्ण अष्टमी को सुहागन स्त्रियां द्वारा जितिया व्रत रखा जाता है। जितिया व्रत को जीवित्पुत्रिका एवं जिउतिया व्रत भी कहा जाता है।

2 October 2021इंदिरा एकादशी

🐚 इंदिरा एकादशी - Indira Ekadashi

हिंदू पंचांग के अंतर्गत प्रत्येक माह की 11वीं तीथि को एकादशी कहा जाता है। एकादशी को भगवान विष्णु को समर्पित तिथि माना जाता है..

4 October 2021प्रदोष व्रत

🔱 प्रदोष व्रत - Pradosh Vrat

माह की त्रयोदशी तिथि का प्रदोष काल मे होना, प्रदोष व्रत होने का सही कारण है।

4 October 2021शिवरात्रि

🔱 शिवरात्रि - Shivaratri

शिवरात्रि साल मे 12/13 बार आने वाला मासिक त्यौहार है, जो अमावस्या से एक दिन पहिले त्रियोदशी के दिन आता है। 6 अगस्त सावन शिवरात्रि 2021

6 October 2021अमावस्या

🌚 अमावस्या - Amavasya

अमावस्या एक वर्ष मे 12 बार आने वाला मासिक उत्सव है, अधिक मास की स्थिति मे यह एक वर्ष मे 13 बार भी हो सकती है।

8 October 2021शारदीय नवरात्रि

🐅 शारदीय नवरात्रि - Shardiya Navratri

नवरात्रि, नवदुर्ग नौ दिनों का उत्सव है, सभी नौ दिन माँ आदि शक्ति के विभिन्न रूपों को समर्पित किए गये हैं।

14 October 2021दुर्गा पूजा

🐅 दुर्गा पूजा - Durga Puja

दुर्गा पूजा को माँ दुर्गा द्वारा दुष्ट राक्षस महिषासुर पर विजय प्राप्‍ति की खुशी में मनाया जाता है, इसलिए माँ को दुर्गतनाशिनी के रूप में पूजा जाता है।

15 October 2021विजयादशमी

🏹 विजयादशमी - Vijayadashami

दशमी तिथि को श्री राम द्वार विजय प्राप्ति के कारण ही इस पर्व को विजयादशमी के नाम से जाना जाता है।

17 October 2021पद्मनाभ द्वादशी

🐚 पद्मनाभ द्वादशी - Padmanabha Dwadashi

पापांकुशा एकादशी के अलगे दिन द्वादशी तिथि को पद्मनाभ द्वादशी व्रत आता है। पद्मनाभ द्वादशी आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी को मनाई जाती है।

17 October 2021तुला संक्रांति

☀️ तुला संक्रांति - Tula Sankranti

हिंदू पंचांग के अनुसार, संक्रांति (Sankranti) का अर्थ है सूर्य का एक राशि से दूसरी राशि में जाना। भारत के कुछ हिस्सों में, प्रत्येक संक्रांति को एक महीने की शुरुआत के रूप में चिह्नित किया जाता है।

19 October 2021टेसू पूनै

👰 टेसू पूनै - Tesu Punain

शरद पूर्णिमा के ही दिन, ब्रज क्षेत्र में टेसू और झेंजी का विवाह संपन्न होता है। इस विवाह के बाद हिंदुओं में विवाह उत्सव प्रारम्भिक कार्य सुरू हो जाते हैं।

19 October 2021कोजागरी पूजा

कोजागरी पूजा - Kojagari Puja

शरद कोजागरी पूजा भारतीय राज्य जैसे उड़ीसा, पश्चिम बंगाल और असम में अश्विन पूर्णिमा के दौरान देवी लक्ष्मी को समर्पित है। लक्ष्मी पूजा का यह दिन कोजागरी पूर्णिमा या बंगला लक्ष्मी पूजा के रूप में भी जाना जाता है।

19 October 2021शरद पूर्णिमा

🌕 शरद पूर्णिमा - Sharad Purnima

शरद पूर्णिमा, पूर्णिमा के दिन आने वाले प्रसिद्ध हिंदू त्यौहारों में से एक है। शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा सभी सोलह कलाओं के साथ पृथ्वी के नजदीक होता है।

20 October 2021मीराबाई जयंती

🪕 मीराबाई जयंती - Meerabai Jayanti

लेकिन हिंदू पांचांग के अनुसार, शरद पूर्णिमा अथवा बाल्मिकी जयंती का दिन ही मीराबाई की जयंती के रूप में मनाया जाता है।

20 October 2021वाल्मीकि जयंती

📿 वाल्मीकि जयंती - Valmiki Jayanti

आदि कवि महर्षि वाल्मीकि के जन्म दिवस पर मनाये जाने वाले त्यौहार को वाल्मीकि जयंती कहा जाता है।

20 October 2021पूर्णिमा

🌕 पूर्णिमा - Purnima

पूर्णिमा प्रत्येक माह की शुक्ला पक्ष मे आने वाला मासिक उत्सव है, अतः पूर्णिमा वर्ष मे 12 बार, तथा अधिक मास की स्थिति मे 13 बार भी हो सकती है।

24 October 2021करवा चौथ

करवा चौथ - Karwa Chauth

हिंदू सनातन पद्धति में करवा चौथ सुहागिनों का महत्वपूर्ण त्यौहार माना गया है। इस पर्व पर सुहागिन पतिव्रता महिलाएं हाथों में मेहंदी व सोलह श्रृंगार कर अपने सास-ससुर एवं पति की दीर्घायु के लिए व्रत रखतीं हैं।

28 October 2021अहोई अष्टमी

👩‍👦 अहोई अष्टमी - Ahoi Ashtami

हिंदू कैलेंडर के अनुसार कार्तिक माह में कृष्ण पक्ष के दौरान दीवाली से 8 दिन पहले अहोई अष्टमी मनाई जाती है।

29 October 2021बिश्नोई स्थापना दिवस

🍀 बिश्नोई स्थापना दिवस - Bishnoi Sthapana Divash

बिश्नोई स्थापना दिवस सन् 1485 से कार्तिक कृष्णा अष्टमी को बिश्नोई संप्रदाय के द्वारा मनाया जाता है। इस संप्रदाय की स्थापना गुरु जम्भेश्वर जी ने की थी।

मंदिर

🔝