टॉप मंदिर

  • माँ बगलामुखी मंदिर


    माँ बगलामुखी मंदिर

    बाबा बालकनाथ मंदिर से प्रारंभ होकर शक्तिपीठ की सिद्धियों को समायोजित किए यह मंदिर, बाबा बालकनाथ माँ बगलामुखी पीठ के नाम से प्रसिद्ध है।

  • प्राचीन हनुमान मंदिर, अलीगंज

    दिल्ली के अलीगंज में स्थित सिद्ध श्री प्राचीन हनुमान मंदिर भक्तों के बीच मनोकामनयों की सिद्धि के लिए सर्वाधिक प्रसिद्ध है। मंदिर की प्राचीनता का कोई प्रमाण उपलब्ध नहीं है..

  • कैला देवी मंदिर

    जादौंन राजपूतों की कुलदेवी राज राजेश्वरी श्री कैला महारानी का सिद्धपीठ श्री कैला देवी मंदिर राजस्थान के करौली जिले में स्थित है।

  • भगवान परशुराम मंदिर

    त्रंबकेश्वर के परशुराम मंदिर में भगवान के बाल स्वरूप की पूजा की जाती है। मंदिर में चतुर्भुजी बाल परशुराम का विग्रह, सफेद आभा के साथ सुशोभित हो रहा है।

  • बाबा बटेश्वर धाम

    बाबा बटेश्वरनाथ धाम, प्राचीन 101 भगवान शिव मंदिरों की एक श्रृंखला है, इसलिए इसे धाम कहा जाता है।

  • फतेह नगर गुरुद्वारा

    फतेह नगर गुरुद्वारा नई दिल्ली के तिलक नगर में प्रसिद्ध सिख गुरुद्वारा है।

  • मुक्तेश्वर धाम

    मुक्तेश्वर से 1 किलोमीटर सड़क मार्ग से आते हुए 100 सीढ़ियो की चढ़ाई के बाद आप पहुचेंगे भगवान शिव के मंदिर मुक्तेश्वर धाम।

ओम जय कैला रानी - कैला माता आरती

ओम जय कैला रानी, मैया जय कैला रानी । ज्योति अखंड दिये माँ, तुम सब जगजानी ॥

श्री हनुमान जी आरती

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ आरती कीजै हनुमान लला की । दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥..

रामयुग: जय हनुमान - हर हर है हनुवीर का

जय हनुमान ज्ञान गुन सागर । हे हर हर है हनुवीर, संसार है हनुवीर का, बालकपन नटखटपन..

कब दर्शन देंगे राम परम हितकारी: भजन

कब दर्शन देंगे राम परम हितकारी, कब दर्शन देंगे राम दीन हितकारी, रास्ता देखत शबरी की उम्र गयी सारी..

भोले नाथ का मैं बनजारा: भजन

भोले नाथ का मैं बनजारा, छोड़ दिया मैंने जग सारा, सुबह से हो गई शाम..

नोएडा के प्रसिद्ध मंदिर
नोएडा के प्रसिद्ध मंदिर

नोएडा भारत की धार्मिक आस्था के काफी नजदीक जान पड़ता है, आइए जानते हैं यहाँ के प्रसिद्ध मंदिरों के बारे में...

दिल्ली के प्रसिद्ध हनुमान बालाजी मंदिर
दिल्ली के प्रसिद्ध हनुमान बालाजी मंदिर

हनुमान जी श्री राम के बहुत बड़े भक्त हैं और भगवान शिव के अवतार हैं। हनुमान जी के माता-पिता का नाम अंजना और केसरी है इसलिए उन्हें अंजनी-पुत्रा और केसरी-नंदन कहा जाता है।

सोमनाथ के प्रमुख सिद्ध मंदिर
सोमनाथ के प्रमुख सिद्ध मंदिर

विश्व प्रसिद्ध श्री सोमनाथ ज्योतिर्लिंग, भगवान शिव के शिवलिंग रूप की नगरी है जो वैरावल क्षेत्र में आती है।

भजन: जय राम रमा रमनं समनं।

जय राम राम रमनं समनं। भव ताप भयाकुल पाहि जनम॥ अवधेस सुरेस रमेस बिभो।...

श्री राम स्तुति: श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन

श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन हरण भवभय दारुणं। नव कंज लोचन कंज मुख...

संकट मोचन हनुमानाष्टक

बाल समय रवि भक्षी लियो तब।.. लाल देह लाली लसे, अरु धरि लाल लंगूर।...

श्री बजरंग बाण पाठ

निश्चय प्रेम प्रतीति ते, बिनय करैं सनमान। तेहि के कारज सकल शुभ, सिद्ध करैं हनुमान॥

कैला देवी चालीसा
कैला देवी चालीसा

जय जय जय कैला महारानी । नमो नमो जगदम्ब भवानी ॥ सब जग की हो भाग्य विधाता । आदि शक्ति तू सबकी माता ॥..

श्री हनुमान चालीसा
श्री हनुमान चालीसा

श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि। बरनउँ रघुबर बिमल जसु जो दायकु फल चारि॥

श्री शिव चालीसा
श्री शिव चालीसा

जय गणेश गिरिजा सुवन, मंगल मूल सुजान। कहत अयोध्यादास तुम, देहु अभय वरदान॥

मानव सेवा में गोल्ड मेडेलिस्ट: प्रेरक कहानी

वासु भाई और वीणा बेन गुजरात के एक शहर में रहते हैं। आज दोनों यात्रा की तैयारी कर रहे थे।..

कठिनाइयों में शांत रहना, वास्तव में शांति है।

एक राजा ने घोषणा की कि जो कोई भी चित्रकार उसे एक ऐसा चित्र बना कर देगा जो शांति को दर्शाता हो तो वह उसे मुँह माँगा पुरस्कार देगा।

सलाह नहीं, साथ चाहिए: प्रेरक कहानी

एक बार एक पक्षी समुंदर में से चोंच से पानी बाहर निकाल रहा था। दूसरे ने पूछा: भाई ये क्या कर रहा है।

रामयुग वेब सीरीज़: रामायण की कथा

रामयुग कुणाल कोहली द्वारा निर्देशित एक भारतीय वेब सीरीज़ है। सीरीज़ 6 मई 2021 को MX player पर जारी की गई थी। सीरीज़ रामायण के एक रूपांतरण पर आधारित है। इस शो के पहले लुक में श्री अमिताभ बच्चन की आवाज में हनुमान चालीसा का इस्तेमाल किया गया है।

हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया का महत्व

अक्षय तृतीया का महत्व हिंदू धर्म में बहुत खास है। संस्कृत शब्द अक्षय का अर्थ है वह जो कभी कम न हो या अनन्त (एकांत) हो। इस दिन देवी लक्ष्मी की पूजा की जाती है।

शांति मंत्र कैसे कोविड की दुश्चिंता से निपटने में मदद करता है?

वर्तमान COVID-19 महामारी में तनावपूर्ण स्थिति से गुजरना निश्चित रूप से अवसाद एक चिंता दयाक लक्षण हो सकता है। आंतरिक शांति और चिंता से निपटने के लिए आप शांति मंत्र का जाप कर सकते हैं।

ISKCON एकादशी कैलेंडर 2021

यह एकादशी तिथियाँ केवल वैष्णव सम्प्रदाय इस्कॉन के अनुयायियों के लिए मान्य है | Sunday, 23 May 2021 मोहिनी एकादशी व्रत कथा - Mohini Ekadasi Vrat Katha

साबूदाने की खीर बनाने की विधि
साबूदाने की खीर बनाने की विधि

...इस प्रकार भोग के लिए आपकी साबुदाने की खीर बन कर तैयार हो गई।

चूरमा के लड्‍डू बनाने की विधि
चूरमा के लड्‍डू बनाने की विधि

इस प्रकार भोग के लिए चूरमा के लड्डू तैयार हो जाते हैं...

सिंघाड़े का हलवा बनाने की विधि
सिंघाड़े का हलवा बनाने की विधि

सिंघाड़े का हलवा बन कर तैयार हो जाता है। कतलियों को अपने स्वादानुसार काजू अथवा बादाम 1-1 चम्मच से सजा लेते हैं।

🔝