टॉप मंदिर

  • श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर


    श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर

    श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर नाशिक पंचवटी के तपोवन का एक महत्वपूर्ण मंदिर है। कुम्भ मेले के दौरान प्रशासन द्वारा भी सर्व प्रथम संत, महंतो और महामंडलेश्वरों के रुकने की व्यवस्था इसी मंदिर में की जाती है।

  • भगवान वाल्मीकि मंदिर

    भगवान वाल्मीकि मंदिर, वाल्मीकि समाज द्वारा निर्मित महर्षि वाल्मीकि को समर्पित मंदिर है। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 अक्टूबर 2014 को महात्मा गांधी की जयंती पर यहीं से स्वच्छ भारत अभियान का आह्वान किया था।

  • प्रेम मंदिर

    प्रेम मंदिर भगवान के प्यार का एक स्मारक है। यह भक्ति केंद्र ज्ञान और भक्ति के व्यावहारिक अनुभव के माध्यम से उन सभी को सेवा प्रदान करता है, जो भगवान के प्यार की खोज में आते हैं।

  • श्री शिव मंदिर, कीठौत

    ग्राम कीठौत मे स्थित श्री शिव मंदिर, माननीय श्री उदय वीर सिंह जी द्वारा स्थापित किया गया है। मंदिर तीन मंजिल ऊँचा एवं भूमितल से मंदिर के शिखर की ऊंचाई 60+ फीट है।

  • गुफा वाला मंदिर

    पूर्वी दिल्ली के विशाल एवं रमणीय आध्यात्मिक शिव मंदिर मे माँ वैष्णो की गुफा भक्तों को बहुत भाती है।..

  • श्री रघुनाथ मंदिर

    मर्यादा पुरुषोत्तम श्री रामचंद्र जी को समर्पित प्रसिद्ध पुराने श्री रघुनाथ मंदिर की स्थापना सन् 1983 में श्री रघुनाथ मंदिर सभा, रामप्रस्थ द्वारा की गई थी।

  • दक्षिण दिल्ली कालीबाड़ी

    दक्षिण दिल्ली कालीबाड़ी (बंगाली: দক্ষিণ দিল্লি কালীবাড়ি) रामकृष्ण पुरम में पहाड़ी पर स्थित मलाई मंदिर की तलहटी में माँ काली को समर्पित मंदिर है।

श्याम सम्भालों मुझे: भजन

आया हूँ मैं दरबार तुम्हारे, सारे जग से हार, श्याम सम्भालो मुझे..

माँ मैं खड़ा द्वारे पे पल पल: भजन

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो, तेरी दया का हम सदा गुणगान करेंगे, तेरा ध्यान करेंगे...

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो: भजन

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो, तेरी दया का हम सदा गुणगान करेंगे, तेरा ध्यान करेंगे...

तेरे नाम का करम है ये सारा: भजन

तेरे नाम का करम है ये सारा, भक्तो पे छाया है सुरूर शेरावालिये, शेरावाली मैहरवाली..

द्वारका, गुजरात के विश्व विख्यात मंदिर
द्वारका, गुजरात के विश्व विख्यात मंदिर

भगवान श्री कृष्ण की कर्म स्थली के नाम से विश्व विख्यात द्वारका शहर गुजरात व भारत के आखिरी पश्चिमी छोर पर स्थित है।...

दिल्ली के प्रसिद्ध वाल्मीकि मंदिर
दिल्ली के प्रसिद्ध वाल्मीकि मंदिर

आइए जानें नई दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद और गुरुग्राम के प्रसिद्ध अग्रणी भगवान वाल्मीकि मंदिरों की सूची...

बृजभूमि के प्रसिद्ध मंदिर
बृजभूमि के प्रसिद्ध मंदिर

बृजभूमि अथवा ब्रिजभूमि भगवान कृष्ण की बचपन से संबंधित गतिविधियों से जुड़ा क्षेत्र है।

श्री विष्णु चालीसा
श्री विष्णु चालीसा

नमो विष्णु भगवान खरारी । कष्ट नशावन अखिल बिहारी ॥ प्रबल जगत में शक्ति तुम्हारी ।...

श्री राधा चालीसा - जय वृषभान कुंवारी श्री श्यामा
श्री राधा चालीसा - जय वृषभान कुंवारी श्री श्यामा

जय वृषभान कुंवारी श्री श्यामा । कीरति नंदिनी शोभा धामा ॥ नित्य विहारिणी श्याम अधर ।

श्री हनुमान चालीसा
श्री हनुमान चालीसा

श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि। बरनउँ रघुबर बिमल जसु जो दायकु फल चारि॥

हमारी लालसाएँ और वृत्तियाँ नहीं बदलती: प्रेरक कहानी

एक पेड़ पर दो बाज रहते थे। दोनों अक्सर एक साथ शिकार की तलाश में निकलते और जो भी पाते, उसे शाम को मिल-बांट कर खाते..

मुश्किल में पड़े व्यक्ति की मदद के बदले क्या लें?: प्रेरक कहानी

अस्पताल में एक एक्सीडेंट का केस आया। अस्पताल के मालिक डॉक्टर ने तत्काल खुद जाकर आईसीयू में केस की जांच की। दो-तीन घंटे के ओपरेशन के बाद डॉक्टर बाहर आया..

राजा की सम्यक् दृष्टि: प्रेरक कहानी

एक दिन राजा अपनी शैया पर लेेटे-लेटे सोचने लगा, मैं कितना भाग्यशाली हूँ। कितना विशाल है मेरा परिवार, कितना समृद्ध है मेरा अंत:पुर, कितनी मजबूत है मेरी सेना..

पवित्र कार्तिक मास में क्या करें?

कार्तिक मास (माह) हिंदुओं के लिए सबसे पवित्र महीना है, इस महीने की अधिष्ठात्री देवी श्रीमती राधारानी हैं।

कालाष्टमी क्या है? पालने की तरीकें बतायें?

हिन्दू पंचांग के अनुसार कालाष्टमी, प्रत्येक माह में कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाई जाती है।

प्रसिद्ध स्कूल प्रार्थना

भारतीय स्कूलों में विद्यार्थी सुवह-सुवह पहुँचकर सबसे पहिले प्रभु से प्रार्थना करते है, उसके पश्चात ही पढ़ाई से जुड़ा कोई कार्य प्रारंभ करते हैं। इसे साधारण बोल-चाल की भाषा में प्रातः वंदना भी कहा जाता है।

ISKCON एकादशी कैलेंडर 2021

यह एकादशी तिथियाँ केवल वैष्णव सम्प्रदाय इस्कॉन के अनुयायियों के लिए मान्य है | Monday, 1 November 2021 रमा एकादशी व्रत कथा - Rama Ekadasi Vrat Katha

मखाने की खीर बनाने की विधि
मखाने की खीर बनाने की विधि

व्रत, कथा, भोज, रक्षाबंधन तथा जन्माष्टमी में प्रयोग आने वाली प्रमुख मिष्ठान, मखाने की खीर बनाने की सरल रेसिपी...

चावल की पारंपरिक खीर बनाने की विधि
चावल की पारंपरिक खीर बनाने की विधि

सबसे पहले चावलों को अच्छी तरह धोने के बाद आधा घण्टे के लिए भिगोने रख देते हैं।

समा के चावल की खीर बनाने की विधि
समा के चावल की खीर बनाने की विधि

अधिकतम व्रत जिसमें अन्न ग्रहण करना वर्जित होता है, उस व्रत में समा के चावल की खीर का उपयोग किया जाता है। आइए जानें इसे बनाने की विधि...

Download BhaktiBharat App Go To Top