Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel
Hanuman Chalisa - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Hanuman Chalisa -

मंदिर

मंदिर (English: Mandir, Gujarati: મંદિર, Bengali: মন্দির, Telugu: మందిరం, Malayalam: ക്ഷേത്രം, Kannada: ದೇವಸ್ಥಾನ) and gurudwara is the Hindu, Buddhist and Jain name for a place of worship or prayer. A space and structure designed to bring human beings and Gods together, infused with symbolism to express the ideas and beliefs. Bhakti Bharat Celebrating 301+ Temples.

बौद्ध बिरला मंदिर @Mandir Marg New Delhi

बौद्ध मंदिर का निर्माण लागत राजा सेठ जुगल किशोर बिड़ला की उदारता से दान दी गई भूमि पर हुआ था। जिसे महा बोधि सोसाइटी को सौंप दिया गया था। अतः मंदिर को बौद्ध बिरला मंदिर के नाम से भी जाना जाता है।

बौद्ध मंदिर का निर्माण लागत राजा सेठ जुगल किशोर बिड़ला की उदारता से दान दी गई भूमि पर हुआ था। जिसे महा बोधि सोसाइटी को सौंप दिया गया था। अतः मंदिर को बौद्ध बिरला मंदिर के नाम से भी जाना जाता है।


मोती डूंगरी गणेश जी मंदिर @Jaipur Rajasthan

मोती डूंगरी गणेश जी मंदिर, मोती डोंगरी पहाड़ी की चोटी, मोती डूंगरी महल, जयपुर, राजस्थान में स्थित है। यह मंदिर भगवान गणेश को समर्पित है और मूर्ति सिन्दूर से ढकी हुई है।

मोती डूंगरी गणेश जी मंदिर, मोती डोंगरी पहाड़ी की चोटी, मोती डूंगरी महल, जयपुर, राजस्थान में स्थित है। यह मंदिर भगवान गणेश को समर्पित है और मूर्ति सिन्दूर से ढकी हुई है।


श्री विनायक मंदिर, नोयडा-62 @Noida Uttar Pradesh

जेएसएस एकेडमी ऑफ टेक्निकल एजुकेशन के परिसर से जुड़ा हरी-भरी आभा के साथ, स्वच्छ वातावरण से पोषित श्री विनायक मंदिर को नोयडा के सबसे साफ मंदिरों मे से एक कहा जा सकता है।

जेएसएस एकेडमी ऑफ टेक्निकल एजुकेशन के परिसर से जुड़ा हरी-भरी आभा के साथ, स्वच्छ वातावरण से पोषित श्री विनायक मंदिर को नोयडा के सबसे साफ मंदिरों मे से एक कहा जा सकता है।


बड़े हनुमानजी मंदिर @Prayagraj Uttar Pradesh

यूपी की धर्म नगरी प्रयागराज (इलाहाबाद) में संगम किनारे गंगा यमुना के तट के निकट हनुमान जी का बहुत ही अनोखा मंदिर है। जहां पर हनुमान जी की लेटी हुई प्रतिमा की पूजा की जाती है। इस मंदिर को लेटे हुए हनुमान मंदिर या बड़े हनुमानजी मंदिर कहा जाता है। यह दुनिया का एकमात्र मंदिर है जो जमीन के नीचे बनाया गया है और भगवान हनुमान की मूर्ति का आसन पीछे की ओर झुका हुआ है।

यूपी की धर्म नगरी प्रयागराज (इलाहाबाद) में संगम किनारे गंगा यमुना के तट के निकट हनुमान जी का बहुत ही अनोखा मंदिर है। जहां पर हनुमान जी की लेटी हुई प्रतिमा की पूजा की जाती है। इस मंदिर को लेटे हुए हनुमान मंदिर या बड़े हनुमानजी मंदिर कहा जाता है। यह दुनिया का एकमात्र मंदिर है जो जमीन के नीचे बनाया गया है और भगवान हनुमान की मूर्ति का आसन पीछे की ओर झुका हुआ है।


श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर @Nashik Maharashtra

श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर नाशिक पंचवटी के तपोवन का एक महत्वपूर्ण मंदिर है। कुम्भ मेले के दौरान प्रशासन द्वारा भी सर्व प्रथम संत, महंतो और महामंडलेश्वरों के रुकने की व्यवस्था इसी मंदिर में की जाती है।

श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर नाशिक पंचवटी के तपोवन का एक महत्वपूर्ण मंदिर है। कुम्भ मेले के दौरान प्रशासन द्वारा भी सर्व प्रथम संत, महंतो और महामंडलेश्वरों के रुकने की व्यवस्था इसी मंदिर में की जाती है।


श्री कालाराम मंदिर @Nashik Maharashtra

मंदिर में विराजित प्रभु श्रीराम की मूर्ति काले पत्थर से निर्मित है, इसलिए इसे कालाराम मंदिर कहा जाता है।..

मंदिर में विराजित प्रभु श्रीराम की मूर्ति काले पत्थर से निर्मित है, इसलिए इसे कालाराम मंदिर कहा जाता है।..


किलकारी भैरव मंदिर @Pragati Maidan New Delhi

श्री किलकारी बाबा भैरव नाथ जी पांडवों कालीन मंदिर, बाबा भैरव नाथ जी को समर्पित हैं, जोकि भगवान शिव का एक उग्र अवतार माने जाते हैं।

श्री किलकारी बाबा भैरव नाथ जी पांडवों कालीन मंदिर, बाबा भैरव नाथ जी को समर्पित हैं, जोकि भगवान शिव का एक उग्र अवतार माने जाते हैं।


दाँतरे मंदिर @Gwalior Madhya Pradesh

आज से लगभग 200 वर्ष पहिले भगवन शिव का श्री लोकेश्वरनाथ मन्दिर गंगा-मालनपुर गाँव में स्थापित किया गया था।

आज से लगभग 200 वर्ष पहिले भगवन शिव का श्री लोकेश्वरनाथ मन्दिर गंगा-मालनपुर गाँव में स्थापित किया गया था।


पंचवटी @Nashik Maharashtra

रामायण में, भगवान राम के 14 वर्षों के वनवास काल खंड के प्रसंग में पंचवटी का नाम अत्यधिक प्रचलित है। मान्यताओं के अनुसार माता सीता, भगवान राम एवं लक्ष्मण के साथ इस स्थान पर बहुत समय तक रुकीं थीं।

रामायण में, भगवान राम के 14 वर्षों के वनवास काल खंड के प्रसंग में पंचवटी का नाम अत्यधिक प्रचलित है। मान्यताओं के अनुसार माता सीता, भगवान राम एवं लक्ष्मण के साथ इस स्थान पर बहुत समय तक रुकीं थीं।


पीताम्बरा पीठ @Datia Madhya Pradesh

माँ पीताम्बरा सिद्धपीठ मध्य प्रदेश के दतिया जिले में स्थित है। यहाँ भक्तों का मेला हर समय लगता है, लेकिन नवरात्रि में माता की पूजा का विशेष फल मिलता है।

माँ पीताम्बरा सिद्धपीठ मध्य प्रदेश के दतिया जिले में स्थित है। यहाँ भक्तों का मेला हर समय लगता है, लेकिन नवरात्रि में माता की पूजा का विशेष फल मिलता है।


माँ बगलामुखी मंदिर @Janakpuri New Delhi

बाबा बालकनाथ मंदिर से प्रारंभ होकर शक्तिपीठ की सिद्धियों को समायोजित किए यह मंदिर, बाबा बालकनाथ माँ बगलामुखी पीठ के नाम से प्रसिद्ध है।

बाबा बालकनाथ मंदिर से प्रारंभ होकर शक्तिपीठ की सिद्धियों को समायोजित किए यह मंदिर, बाबा बालकनाथ माँ बगलामुखी पीठ के नाम से प्रसिद्ध है।


Hanuman Chalisa -
Ram Bhajan -
×
Bhakti Bharat APP