Download Bhakti Bharat APP
Download APP Now - Hanuman Chalisa - Aditya Hridaya Stotra - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel -

🌊वरुणी पर्व - Varuni Festival

Varuni Parv Date: Thursday, 27 March 2025
Varuni Parv

वरुणी पर्व, जिसे महा वरुणी योग भी कहा जाता है, स्नान अनुष्ठान करने के लिए एक अत्यंत शुभ अवधि है।वरुणी योग एक शुभ समय है और हिंदू समुद्र देवता वरुण से जुड़ा है। विभिन्न पवित्र नदियों में पवित्र स्नान करने का यह एक शुभ समय है।

वरुणी योग कब बनता है?
विभिन्न पुराणों में भी वरुणी योग का वर्णन मिलता है। यह महायोग तीन प्रकार का होता है, चैत्र कृष्ण त्रयोदशी को यदि वरुण नक्षत्र यानि शतभिषा हो तो वरुणी योग बनता है। यदि चैत्र कृष्ण त्रयोदशी में शतभिषा नक्षत्र और शनिवार हो तो महावरुणी योग बनता है और यदि चैत्र कृष्ण त्रयोदशी में शतभिषा नक्षत्र, शनिवार और शुभ योग हो तो महा-महावरुणी योग बनता है। इस योग में गंगा आदि तीर्थ स्थानों में स्नान, दान और उपवास करने से करोड़ों सूर्य-चंद्र ग्रहणों में किए गए जप अनुष्ठानों के समान शुभ फल प्राप्त होते हैं।

वरुणी योग में क्या करें?
◉ वरुणी योग में गंगा, यमुना, नर्मदा, कावेरी, गोदावरी सहित अन्य पवित्र नदियों में स्नान और दान का बहुत महत्व है।
◉ वरुणी योग में हरिद्वार, इलाहाबाद, वाराणसी, उज्जैन, रामेश्वरम, नासिक आदि स्थानों पर नदियों में स्नान करके भगवान शिव की पूजा की जाती है। यह जीवन में सभी प्रकार के सुख और ऐश्वर्य लाता है। वरुणी योग के दिन भगवान की पूजा करें। शिव और अभिषेक मोक्ष की ओर ले जाते हैं।
◉ इस दिन मंत्र जाप, अनुष्ठान, यज्ञ, हवन आदि का बहुत महत्व है। पुराणों में कहा गया है कि इस दिन किए गए एक यज्ञ का फल हजारों यज्ञों के बराबर होता है।
◉ यदि पवित्र नदियों में स्नान करना संभव न हो तो पवित्र नदियों का जल अपने ही घर में डाल कर स्नान करें।

वरुणी योग के क्या लाभ हैं?
✽ वरुणी योग में शिक्षा से संबंधित कार्य प्रारंभ होते हैं। पढ़ाई शुरू करना, कोई भी ट्रेनिंग कोर्स शुरू करना सफल होना तय है।
✽ नया व्यवसाय या व्यवसाय शुरू करने के लिए वरुणी योग बहुत शुभ माना जाता है।
✽ वरुणी योग में आप कोई नए प्रोजेक्ट पर काम शुरू कर सकते हैं।
✽ वरुणी योग में नया घर, दुकान, प्लॉट खरीदना शुभ होता है। इससे उनमें उत्तरोत्तर वृद्धि होती है।
✽ वरुणी योग में एक नया स्कूल, कॉलेज, कोचिंग संस्थान खोलना शुभ है।
✽ वरुणी योग में अगर शादी की बात करें तो रिश्ते के पक्की होने में कोई शक नहीं है। इस दिन शिवलिंग पर गंगाजल चढ़ाएं और बेलपत्र की माला चढ़ाएं। शिवलिंग पर एक-दो केले चढ़ाएं और वहां बैठकर शिव पंचाक्षरी मंत्र का जाप करें। इससे शीघ्र विवाह का रास्ता खुल जाता है।
✽ यदि आप किसी विशेष मंत्र की पूर्ति करना चाहते हैं तो इस दिन अवश्य करें, मंत्र शीघ्र सिद्ध होता है।

इस दौरान इन सभी विशेष उपायों को अपनाकर आपका जीवन सुखी और समृद्ध बनाया जा सकता है।

शुरुआत तिथिचैत्र कृष्ण त्रयोदशी

Varuni Festival in English

Varuni Parva, also known as Maha Varuni Yoga, is an extremely auspicious period for performing bathing rituals.

संबंधित जानकारियाँ

आवृत्ति
वार्षिक
समय
1 दिन
शुरुआत तिथि
चैत्र कृष्ण त्रयोदशी
समाप्ति तिथि
चैत्र कृष्ण त्रयोदशी
महीना
मार्च / अप्रैल
पिछले त्यौहार
6 April 2024, 19 March 2023, 30 March 2022, 29 March 2022
अगर आपको यह त्योहार पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस त्योहार को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

Hanuman Chalisa -
Ram Bhajan -
×
Bhakti Bharat APP