यशोमती नन्दन बृजबर नागर: भजन (Yashomati Nandan Brijwar Nagar)


यशोमती नन्दन बृजबर नागर: भजन

यशोमती नन्दन बृजबर नागर,
गोकुल रंजन कान्हा,
गोपी परण धन मदन मनोहर,
कालिया दमन विधान ।
यशोमति नन्दन बृजबर नागर,
गोकुल रंजन कान्हा ॥

अमलहरी नाम अमिय विलासा,
विपिन पुरंदर नवीन नगरबर,
बंशी बदन सुबासा ।
यशोमति नन्दन बृजबर नागर,
गोकुल रंजन कान्हा ॥

बृजजन पालन असुर कुल नाशन,
नन्द गोधन रखवाला,
गोविन्द माधव नवनीत तस्कर,
सुन्दर नन्द गोपाला ।
यशोमति नन्दन बृजबर नागर,
गोकुल रंजन कान्हा ॥

जामुन तट चल गोपी बसन हर,
रास रसिक कृपामय,
श्री राधावल्लभ बृन्दावन नटवर,
भकती विनोदाश्रय ।
यशोमति नन्दन बृजबर नागर,
गोकुल रंजन कान्हा ॥

यशोमती नन्दन बृजबर नागर,
गोकुल रंजन कान्हा,
गोपी परण धन मदन मनोहर,
कालिया दमन विधान ।
यशोमति नन्दन बृजबर नागर,
गोकुल रंजन कान्हा ॥

हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे,
हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे ।

हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे,
हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे ।

Yashomati Nandan Brijwar Nagar in English

Yashomati Nandan Brijbar Nagar, Gokul Ranjan Kanha, Gopi Paran Dhan Madan Manohar...
यह भी जानें

Bhajan Shri Krishna BhajanBrij BhajanBaal Krishna BhajanBhagwat BhajanJanmashtami BhajanLaddu Gopal BhajanRadhashtami BhajanPhalguna BhajanIskcon BhajanShri Shyam BhajanVarsha Shrivastava Bhajan

अन्य प्रसिद्ध यशोमती नन्दन बृजबर नागर: भजन वीडियो

Swarupa Damodar Das

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

लाल लाल चुनरी सितारो वाली: भजन

लाल लाल चुनरी सितारों वाली, सितारो वाली, जिसे ओढकर आई है...

शेरोवाली के दरबार में रंग बरसे: भजन

रंग बरसे देखो रंग बरसे, शेरोवाली के दरबार में रंग बरसे, अम्बेवाली दे दरबार में रंग बरसे...

जयपुर की चुनरिया मैं लाई शेरावालिये: भजन

जयपुर की चुनरिया, मैं लाई शेरावालिये, आगरा से लहंगा, जयपुर से चुनरिया...

जयपुर से लाई मैं तो चुनरी: भजन

जयपुर से लाई मैं तो, चुनरी रंगवाई के, गोटा किनारी अपने..

भजन: मुखड़ा देख ले प्राणी, जरा दर्पण में

मुखड़ा देख ले प्राणी, जरा दर्पण में हो, देख ले कितना, पुण्य है कितना, पाप तेरे जीवन में, देख ले दर्पण में..

कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना!

कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना, मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना॥

राधा को नाम अनमोल बोलो राधे राधे।

राधा को नाम अनमोल बोलो राधे राधे। श्यामा को नाम अनमोल बोलो राधे राधे॥

मंदिर

Download BhaktiBharat App Go To Top