Hanuman Chalisa
Hanuman Chalisa - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Hanuman Chalisa -

उच्ची पिल्लयार मंदिर - Ucchi Pillayar Temple

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

◉ उच्ची पिल्लयार मंदिर 1,000 साल से अधिक पुराना है।
◉ उच्ची पिल्लयार मंदिर तमिलनाडु के सबसे बड़े मंदिरों में से एक है।
◉ कहा जाता है कि उच्ची पिल्लयार मंदिर एक ऐसी जगह है जहां चमत्कार होते हैं।

उच्ची पिल्लयार मंदिर एक हिंदू मंदिर है जो भगवान गणेश को समर्पित है, जिसे उच्ची पिल्लयार के नाम से भी जाना जाता है और रॉकफोर्ट गणपति मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। यह भारत के तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली शहर में स्थित है। यह मंदिर तिरुचिरापल्ली के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है।

उच्ची पिल्लयार मंदिर का इतिहास और वास्तुकला
इस मंदिर का निर्माण 12वीं शताब्दी में चोल राजवंश द्वारा किया गया था। यह वास्तुकला की द्रविड़ शैली में बनाया गया है, जिसकी विशेषता इसके ऊंचे, अलंकृत टावर हैं। मंदिर में एक बड़ा गोपुरम या प्रवेश द्वार है, जिसे हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियों से सजाया गया है। मंदिर में एक बड़ा प्रांगण भी है, जो कई मंदिरों से घिरा हुआ है। मंदिर में मुख्य मंदिर उच्ची पिल्लयार को समर्पित है। यह मंदिर प्रांगण के मध्य में स्थित है। मंदिर को गणेश की कई मूर्तियों से सजाया गया है।

रॉकफोर्ट मंदिर परिसर में तीन मंदिर हैं, जिनमें से दो भगवान गणेश को समर्पित हैं, निचले भाग में मणिक्का विनयगर मंदिर और उनके बीच तायुमानवर मंदिर के शीर्ष पर रॉकफोर्ट उच्ची पिल्लयार मंदिर है। थाइमानावर मंदिर, तीनों में से सबसे महत्वपूर्ण है, जिसमें अम्मान (देवी) और मुख्य देवता हैं।

पौराणिक कथा के अनुसार, यह चट्टान वह स्थान है जहां श्रीरंगम में रंगनाथस्वामी देवता की स्थापना के बाद भगवान गणेश, राजा विभीषण से भागे थे।

उच्ची पिल्लयार मंदिर दर्शन का समय
मंदिर हर दिन भक्तों के लिए खुला रहता है, भक्त सुबह 6 बजे से रात 8 बजे तक दर्शन कर सकते हैं। मंदिर में विनायक चतुर्थी के त्योहार के दौरान सबसे अधिक भीड़ होती है। इस त्योहार के दौरान, पूरे दक्षिण भारत से लोग गणेश की पूजा करने के लिए मंदिर में आते हैं।

उच्ची पिल्लयार मंदिर तक कैसे पहुँचें?
त्रिची शहर सड़क मार्ग, रेलवे और वायुमार्ग द्वारा अन्य शहरों से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। तो आप आसानी से उस स्थान तक पहुंच सकते हैं। अभयारण्य 273 फीट ऊंचा है और मंदिर तक पहुंचने के लिए आपको 400 सीढ़ियां चढ़नी पड़ती हैं। मंदिर तक सड़क मार्ग से भी पहुंचा जा सकता है और मंदिर के पास पार्किंग स्थल भी है।

यह मंदिर अपनी खूबसूरत वास्तुकला और धार्मिक महत्व के कारण एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। यह एक ऐसा स्थान है जहां लोग सौभाग्य और समृद्धि के लिए प्रार्थना करने आ सकते हैं।

समय - Timings

दर्शन समय
6 AM - 8 PM
त्योहार
Vinayak Chaturthi, Shivratri | यह भी जानें: एकादशी

Ucchi Pillayar Temple in English

Ucchi Pillayar and also known as Rockfort Ganapathi Temple. It is located in the city of Tiruchirappalli, Tamil Nadu, India. The temple is one of the most popular tourist destinations in Tiruchirappalli.

जानकारियां - Information

बुनियादी सेवाएं
पेयजल, प्रसाद, सीसीटीवी सुरक्षा, जूता स्टोर, पार्किंग स्थल
संस्थापक
चोल राजवंश
समर्पित
भगवान गणेश
वास्तुकला
द्रविड़ शैली
नि:शुल्क प्रवेश
हाँ जी

क्रमवद्ध - Timeline

6 AM - 8 PM

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Tiruchirapalli Rock Fort N Andar St Tamil Nadu
सोशल मीडिया
निर्देशांक 🌐
10.828°N, 78.697°E
उच्ची पिल्लयार मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/ucchi-pillayar-temple

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

हनुमान आरती

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ आरती कीजै हनुमान लला की । दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥..

शिव आरती - ॐ जय शिव ओंकारा

जय शिव ओंकारा, ॐ जय शिव ओंकारा। ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा॥

श्री राम स्तुति

Ram Stuti Lyrics in Hindi and English - श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन हरण भवभय दारुणं। नव कंज लोचन कंज मुख...

×
Bhakti Bharat APP