विवाह पंचमी | आज का भजन!

श्री राणी सती दादी जी मंदिर - Shri Rani Sati Dadi Ji Mandir


Oct 20, 2019 07:39 AM 🔖 बारें में | 🕖 समय सारिणी | ♡ मुख्य आकर्षण | 📷 फोटो प्रदर्शनी | ✈ कैसे पहुचें | 🌍 मानचित्र | 🖋 कॉमेंट्स


श्री राणी सती दादी जी मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा सन् 1960 में पूज्य श्री अरुण सेठ मित्तल जी के प्रयासों से हुई थी। इस प्राण प्रतिष्ठा से पहले यह मंदिर श्री राधा कृष्ण मंदिर के रूप में विख्यात था। श्री राणी सती दादी को माँ दुर्गा का रूप माना गया है।

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

  • सन् 1960 से स्थापित श्री राणी सती मंदिर।
  • प्राण प्रतिष्ठा से पहले, श्री राधा कृष्ण मंदिर के रूप में विख्यात।

समय सारिणी - Timings

दर्शन समय
6:30 AM - 12:00 PM, 4:00 PM - 9:00 PM
6:15 AM: सुवह आरती
6:15 AM: संध्या आरती

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

Shri Rani Sati Dadi Ji Mandir in English

The life of Shri Rani Sati Dadi Ji Temple was established in 1960 due to the efforts of Pujya Shri Arun Seth Mittal. Before this Prana Pratishthan, this temple was famous as Shri Radha Krishna Temple.

जानकारियां - Information

धाम
Shri Hanumant DhamMaa Rani Sati DadiShiv Dham with Shivling
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Pasad Shop, Gift Shop, Drinking Water, Sitting Benches, CCTV Security, Shoe Store
संस्थापक
अरुण सेठ मित्तल
स्थापना
1960
देख-रेख संस्था
अरुण सेठ मित्तल परिवार
समर्पित
माँ राणी सती दादी जी
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Mahalaxmi West, Breach Candy, Cumballa Hill Mumbai Maharashtra
सड़क/मार्ग 🚗
Dr Gopalrao Deshmukh Marg / Bhulabhai Desai Marg
रेलवे 🚉
Mumbai Central Station
हवा मार्ग ✈
Chhatrapati Shivaji International Airport
नदी ⛵
Mithi
निर्देशांक 🌐
18.977310°N, 72.808157°E
श्री राणी सती दादी जी मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/rani-sati-dadi-mandir-mahalaxmi

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती: रघुवर श्री रामचन्द्र जी।

आरती कीजै श्री रघुवर जी की, सत चित आनन्द शिव सुन्दर की॥

आरती: श्री रामचन्द्र जी।

आरती कीजै रामचन्द्र जी की। हरि-हरि दुष्टदलन सीतापति जी की॥

आरती: तुलसी महारानी नमो-नमो!

तुलसी महारानी नमो-नमो, हरि की पटरानी नमो-नमो। धन तुलसी पूरण तप कीनो, शालिग्राम बनी पटरानी।

top