🍚शाकंभरी पूर्णिमा - Shakambari Purnima

Shakambari Purnima Date: Friday, 6 January 2023
सहारनपुर की शिवालिक पर्वत श्रृंखला में स्थित माँ शाकम्भरी देवी का प्राकाट्य पौष शुक्ल पूर्णिमा को हुआ, माता के इस प्राकाट्य उत्सव को शाकंभरी पूर्णिमा तथा शाकंभरी जयन्ती के नाम से जाना जाता है।

सहारनपुर की शिवालिक पर्वत श्रृंखला में स्थित माँ शाकंभरी देवी का प्राकाट्य पौष शुक्ल पूर्णिमा को हुआ, माता के इस प्राकाट्य उत्सव को शाकंभरी पूर्णिमा तथा शाकंभरी जयन्ती के नाम से जाना जाता है। माता शाकंभरी को सहारनपुर एवं उत्तर प्रदेश में कहीं-कहीं माता शाकुंभरी भी कहा जाता है।

शाकंभरी पूर्णिमा, पौष अष्टमी से आठ दिनों तक चलने वाले शाकंभरी नवरात्रि का समापन दिवस है। माँ शाकंभरी देवी को शाक सब्जियों और वनस्पतियों की देवी कहा जाता है।

माता शाकंभरी को लिखते एवं पुकारते समय भक्तजन स्थानीय साधारण बोल-चाल की भाषा में शाकुंभरी, शाकुंबरी तथा शाकम्भरी का प्रयोग करते हैं।

संबंधित अन्य नाम
शाकंभरी जयन्ती, शाकुंभरी जयन्ती

Shakambari Purnima in English

Mata Shakambhari Devi situated in the shivalik mountain range of saharanpur. Devi appeared on Paush Shukla Purnima ,this Prakatya festival was celebrated Shakambhari Purnima and It is also known as Shakambhari Jayanti.

संबंधित जानकारियाँ

भविष्य के त्यौहार
25 January 202413 January 20253 January 202622 January 202712 January 202831 December 202819 January 2030
आवृत्ति
वार्षिक
समय
1 दिन
सुरुआत तिथि
पौष शुक्ला पूर्णिमा
समाप्ति तिथि
पौष शुक्ला पूर्णिमा
महीना
दिसंबर / जनवरी
कारण
माँ शाकंभरी देवी का प्राकाट्य।
उत्सव विधि
व्रत, पूजा, व्रत कथा, भजन-कीर्तन, माँ शाकंभरी मंदिर में पूजा।
महत्वपूर्ण जगह
घर, माँ शाकंभरी मंदिर, माता के मंदिर, सहारनपुर।
पिछले त्यौहार
17 January 2022
अगर आपको यह त्यौहार पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस त्यौहार को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

Download BhaktiBharat App