Hanuman Chalisa
Chaitra Navratri Specials 2024 - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Hanuman Chalisa -

पौष मास 2024 (Pausha Maas 2024)

पौष मास, यह हिंदू महीना मार्गशीर्ष मास के बाद आता है, जो हिंदू कैलेंडर के अनुसार 10वां महीना है। पौष मास दिसंबर के महीने में पूर्णिमा या अमावस्या से शुरू होता है। शिशिर ऋतु को पौष का शीत मास कहा जाता है जो विभिन्न श्राद्ध कर्मों और पिंडदान के लिए शुभ माना जाता है। इस दौरान सूर्य देव की पूजा की जाती है। जो लोग इस महीने कोई पूजा-पाठ करना चाहते हैं, उनके लिए यह बहुत ही कारगर रहेगा। पौष मास में विभिन्न त्योहार जैसे पाश अमावस्या, बनदा अष्टमी, पौष पूर्णिमा आदि शामिल हैं। पौष पूर्णिमा माघ मास की तपस्या से शुरू होती है और शाकंभरी नवरात्रि के साथ समाप्त होती है।
पौष मास 2024
सोमवार, 16 दिसंबर - सोमवार, 13 जनवरी 2025 [दिल्ली]

पौष मास की पूजा विधि
❀ पौष मास में सूर्य देव और भगवान शिव की पूजा की जाती है।
❀ भक्त ब्राह्मणों और जरूरतमंद लोगों को अरहर की दाल और चावल की खिचड़ी को घी के साथ दान करते हैं।
❀ लाल रंग को शुभ माना जाता है और किसी भी तरह के नए काम की मनाही होती है।
❀ पौष मास का पालन करने वाले लोग पान के पत्ते की जड़ या लकड़ी को लाल धागे में बांधकर गले में धारण करते हैं।
❀ इस दौरान तांबे के बर्तन का दान किया जाता है।

पौष मास पूजा अनुष्ठान
❀ लोग सुबह जल्दी उठकर सूर्य देव को जल चढ़ाते हैं।
❀ तांबे के पात्र से जल चढ़ाया जाता है।
❀ जल में लाल रंग के फूल डाल के अर्घ्य डाला जाता है।
❀ सूर्य देव के उपासकों द्वारा 'ओम आदित्याय नमः' जैसे मंत्र का जाप करना चाहिए।

पौष मास के व्रत, त्योहार, जयंती एवं उत्सव
❋ पौष बड़ा उत्सव
अखुरथ संकष्टी चतुर्थीव्रत
सफला एकादशी
प्रदोष व्रत
त्रयोदशी व्रत
किलकारी भैरव जयंती, दिल्ली
❋ विनायक चतुर्थी
गुरु गोबिन्द सिंह जयन्ती
❋ अष्टमी व्रत
पौष अमावस्या
पौष पुत्रदा / पवित्रा / वैकुण्ठ एकादशी
शाकंभरी पूर्णिमा
❋ पौष पूर्णिमा

हिंदू मान्यता है कि पौष पूर्णिमा की शुरुआत में त्रिवेणी संगम में स्नान करने से मोक्ष प्राप्ति होती है। पौष पूर्णिमा की समाप्ति को भक्त शाकंभरी पूर्णिमा के रूप में मनाते हैं। उस दिन सभी लोग फल, सब्जी और साग की देवी शाकंभरी देवी की स्तुति करते हैं।

Pausha Maas 2024 in English

Pausha month, this Hindu month, comes after Margashirsha month, which is the 10th month according to the Hindu calendar.
यह भी जानें

Blogs Pausha Maas BlogsMaas BlogsHindu Pavitra Maas BlogsDeepdan Blogs

अगर आपको यह ब्लॉग पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस ब्लॉग को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

चैत्र नवरात्रि विशेष 2024

हिंदू पंचांग के प्रथम माह चैत्र मे, नौ दिनों तक चलने वाले नवरात्रि पर्व में व्रत, जप, पूजा, भंडारे, जागरण आदि में माँ के भक्त बड़े ही उत्साह से भाग लेते है। Navratri Dates 9 April 2024 - 16 April 2024

वैशाख मास 2024

वैशाख मास पारंपरिक हिंदू कैलेंडर में दूसरा महीना होता है। यह महीना ग्रेगोरियन कैलेंडर में अप्रैल और मई के साथ मेल खाता है। आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और महाराष्ट्र में इसे दूसरे महीने के रूप में गिना जाता है। गुजराती कैलेंडर में, यह सातवां महीना है। पंजाबी, बंगाल, असमिया और उड़िया कैलेंडर में वैशाख महीना पहला महीना है।

तिलक लगाने के पीछे क्या कारण है?

तिलक लगाना हिंदू परंपरा में इस्तेमाल की जाने वाली एक विशेष रस्म है।

नवरात्रि में कन्या पूजन की विधि

नवरात्रि में विधि-विधान से मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है। इसके साथ ही अष्टमी और नवमी तिथि को बहुत ही खास माना जाता है, क्योंकि इन दिनों कन्या पूजन का भी विधान है। ऐसा माना जाता है कि नवरात्रि में कन्या की पूजा करने से सुख-समृद्धि आती है। इससे मां दुर्गा शीघ्र प्रसन्न होती हैं।

पौष मास 2024

पौष मास, यह हिंदू महीना मार्गशीर्ष मास के बाद आता है, जो हिंदू कैलेंडर के अनुसार 10वां महीना है।

घटस्थापना 2024

घटस्थापना मंगलवार, 9 अप्रैल 2024 को मनाई जाएगी। यह 9 दिवसीय नवरात्रि उत्सव के दौरान पालन किया जाने वाला एक अनुष्ठान है।

नवरात्रि व्रत के भोजन और लाभ

खाद्य पदार्थ जिनका सेवन आप नवरात्रि के दौरान कर सकते हैं। यह आवश्यकता के अनुसार सही मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन प्रदान करता है।

Hanuman Chalisa -
Hanuman Chalisa -
×
Bhakti Bharat APP