रोहिणी पूर्व मेट्रो स्टेशन दिल्ली


बारें में | मंदिर दर्शन | सेवाएं और मार्ग


रोहिणी पूर्व Metro StationIn Delhi metro’s red line Rohini East Metro Station is located. This station named due to the nearest sub-city Rohini.

By departing from this Rohini East Metro Station devotees can visit Shree Ayyappa Temple, Rohini Valmiki Mandir, rohini kalibari mandir. Other nearby temples are Saibaba Mandir, Tirupati Balaji Darshan, Shree Ram Mandir, Shri Balaji Babosa Mandir, Shiv Shakti Hanuman Mandir Dayadham, Prachin Mahakali Mandir, Shri Shantinath Digambar Jain Mandir and Rani Sati Dadi Mandir.

Metro station facilitate food and gift shop mobile repair and irctc. It serves Saraswati Vihar, Rohini Sector-7, Sector-8, Rohini District Park, Rohini Sports Complex, CRPF Public School, Bal Bharati Public School, PVR and Post Office Prashant Vihar. #MandirDarshanViaDelhiMetro

रोहिणी पूर्व के निकट मंदिर - Mandir Near Rohini East Metro Station

श्री अय्यप्पा मंदिर @Delhi New Delhi

श्री अय्यप्पा मंदिर, भगवान गणेश, भगवान अय्यप्पा और माता दुर्गा का पवित्र स्थल है। मंदिर वास्तुकला श्री एदवलम नारायणन नांबुथिरी के मार्गदर्शन के अनुरूप ही हुई है।


रोहिणी वाल्मीकि मंदिर @Rohini New Delhi

दिल्ली उदासीन आश्रम के स्वामी राघवानंद जी महाराज के कर कमलों से सन् 2015 की वाल्मीकि जयंती के अवसर पर भगवान वाल्मीकि मंदिर का उद्घाटन किया गया।


रोहिणी कालीबाड़ी @Delhi New Delhi

पेटीएम के डिजिटल डोनेशन बॉक्स (दानपात्र) के उपयोग के साथ रोहिणी कालीबारी मंदिर डिजिटल भारत अभियान का हिस्सा बना हुआ है।


सेवाएं और मार्ग

एटीएम
HDFC BankPunjab National BankYes BankRatnakar BankCanara Bank
पार्किंग
yes
Red Line
Pitam Pura
elevated
2004
side

आरती: जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी, तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी॥

विन्ध्येश्वरी आरती: सुन मेरी देवी पर्वतवासनी

स्तुति श्री हिंगलाज माता और श्री विंध्येश्वरी माता सुन मेरी देवी पर्वतवासनी...

आरती: माँ दुर्गा, माँ काली

अम्बे तू है जगदम्बे काली जय दुर्गे खप्पर वाली। तेरे ही गुण गाये भारती...

श्री चिंतपूर्णी देवी की आरती

चिंतपूर्णी चिंता दूर करनी, जग को तारो भोली माँ, काली दा पुत्र पवन दा घोड़ा...

हवन-यज्ञ प्रार्थना: पूजनीय प्रभो हमारे

पूजनीय प्रभो हमारे, भाव उज्जवल कीजिये। छोड़ देवें छल कपट को, मानसिक बल दीजिये॥

🔝