दिलशाद गार्डन मेट्रो स्टेशन दिल्ली


बारें में | मंदिर दर्शन | सेवाएं और मार्ग


In Delhi Metro, the Dilshad Garden Metro Station is located in Red Line.

By departing from Dilshad Garden Metro Station devotees can visit Shri Hanuman Balaji Mandir, Shri Ram Mandir, Gauri Shankar Mandir, Prachin Sidh Shri Hanuman Mandir, Laxmi Narayan Mandir. Other near by temples are Sai Baba Mandir, Shri Durga Shiv Mandir, Shani Mandir, Shri Varadha Ganesh Mandir, Shani Dev Temple, Durga Temple, Shiv Mandir, Badri Vishal Temple, Shri Ram Mandir, Radha Krishan Mandir, Chhath Ghat, Kali Mata Mandir, Hanuman Mandir, Manas Temple, Barafani Mandir and Shiv Shakti Mandir.

Dilshad Garden Metro Station serves the Dilshad Garden, Vivek Vihar from Delhi and Shameed Nagar, Chandan Nagar, Surya Nagar from Ghaziabad. #MandirDarshanViaDelhiMetro

दिलशाद गार्डन के निकट मंदिर - Mandir Near Dilshad Garden Metro Station

श्री हनुमान बालाजी मंदिर @Vivek Vihar New Delhi

श्री विनोद कुमार बिंदल जी द्वारा स्थापित श्री हनुमान बालाजी मंदिर गुर्दे और पित्ताशय की पथरी के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति द्वारा उपचार के लिए दिल्ली का सर्वाधिक लोकप्रिय मंदिर है।


श्री राम मंदिर @Vivek Vihar New Delhi

पूज्य पाद महा मंडलेश्वर श्री 1008 स्वामी गुरुचरण दास जी महाराज वेदान्ताचार्य के पावन सानिध्द्य में श्री राम मंदिर विवेक विहार का शिलान्यास व प्राण प्रतिष्ठा कराई गई है। मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा सन् 1979 की राम नवमी के दिन हुई था।


सेवाएं और मार्ग

एटीएम
HDFC BankPunjab National BankState Bank of IndiaCanara Bank
पार्किंग
yes
Red Line
elevated
2008
side

आरती: ॐ जय जगदीश हरे!

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे। भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥

आरती: श्री हनुमान जी

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ वातात्मजं वानरयुथ मुख्यं, श्रीरामदुतं शरणम प्रपद्धे॥

आरती: श्री शनि - जय शनि देवा

जय शनि देवा, जय शनि देवा, जय जय जय शनि देवा। अखिल सृष्टि में कोटि-कोटि जन करें तुम्हारी सेवा।

आरती: रघुवर श्री रामचन्द्र जी

आरती कीजै श्री रघुवर जी की, सत चित आनन्द शिव सुन्दर की॥

आरती: तुलसी महारानी नमो-नमो!

तुलसी महारानी नमो-नमो, हरि की पटरानी नमो-नमो। धन तुलसी पूरण तप कीनो, शालिग्राम बनी पटरानी।

🔝