ISKCON एकादशी कैलेंडर 2021 (ISKCON Ekadashi Calendar 2021)

ISKCON एकादशी कैलेंडर 2021

यह एकादशी तिथियाँ केवल वैष्णव सम्प्रदाय इस्कॉन के अनुयायियों के लिए मान्य है। यह तिथियाँ भारत की राजधानी दिल्ली के अनुसार है, दिन के विभिन्न समयों पर तथा अन्य जगहों यह तिथि अलग-अलग भी हो सकती है।

4 August 2021 (Wednesday)
कामिका एकादशी व्रत कथा - Kamika Ekadasi Vrat Katha

18 August 2021 (Wednesday)
पवित्रा एकादशी व्रत कथा - Pavitropana Ekadashi Vrat Katha

4 September 2021 (Friday)
अन्नदा एकादशी व्रत कथा - Annada Ekadashi Vrat Katha

17 September 2021 (Friday)
पार्श्व एकादशी व्रत कथा - Parshva Ekadashi Vrat Katha

2 October 2021 (Saturday)
इंदिरा एकादशी व्रत कथा - Indira Ekadashi Vrat Katha

16 October 2021 (Saturday)
पापांकुशा एकादशी व्रत कथा - Papankusha Ekadasi Vrat Katha

1 November 2021 (Monday)
रमा एकादशी व्रत कथा - Rama Ekadasi Vrat Katha

15 November 2021 (Monday)
देवोत्थान एकादशी व्रत कथा - Utthana Ekadasi Vrat Katha

30 November 2021(Tuesday)
उत्पन्ना एकादशी व्रत कथा - Utpanna Ekadasi Vrat Katha

14 December 2021 (Tuesday)
मोक्षदा एकादशी व्रत कथा - Mokshada Ekadasi Vrat Katha

30 December 2021 (Thursday)
सफला एकादशी व्रत कथा - Saphala Ekadasi Vrat Katha

9 January 2021 (Sunday)
सफला एकादशी व्रत कथा - Saphala Ekadasi Vrat Katha

24 January 2021 (Sunday)
पवित्रा एकादशी व्रत कथा - Putrada Ekadasi Vrat Kath

8 February 2021 (Monday)
षटतिला एकादशी व्रत कथा - Sat-tila Ekadasi Vrat Kath

23 February 2021 (Tuesday)
जया / भैमी एकादशी व्रत कथा - Jaya / Bhaimi Ekadasi Vrat Kath

9 March 2021 (Tuesday)
विजया एकादशी व्रत कथा - Vijaya Ekadasi Vrat Kath

25 March 2021 (Thursday)
आमलकी एकादशी व्रत कथा - Amalaki Ekadasi Vrat Kath

7 April 2021 (Wednesday)
पापमोचनी एकादशी व्रत कथा - Papamocani Ekadasi Vrat Kath

23 April 2021 (Friday)
कामदा एकादशी व्रत कथा - Kamada Ekadasi Vrat Kath

7 May 2021 (Friday)
वरुथिनी एकादशी व्रत कथा- Varuthini Ekadashi Vrat Katha

23 May 2021 (Sunday)
मोहिनी एकादशी व्रत कथा - Mohini Ekadasi Vrat Katha

6 June 2021 (Sunday)
अपरा / अचला एकादशी व्रत कथा - Apara / Achala Ekadashi Vrat Katha

21 June 2021 (Monday)
पाण्डव निर्जला एकादशी व्रत कथा - Pandava Nirjala Ekadasi Vrat Katha

6 July 2021 (Tuesday)
योगिनी एकादशी व्रत कथा - Yogini Ekadasi Vrat Katha

20 July 2021 (Tuesday)
देवशयनी एकादशी व्रत कथा - Devshayani Ekadashi Vrat Katha

ISKCON Ekadashi Calendar 2021 in English

These ekadasi dates are valid only for Vaisnava Sampradaya ISKCON followers | Wednesday, 4 August 2021 Kamika Ekadasi Vrat Katha
यह भी जानें

Blogs ISKCON BlogsEkadasi BlogsISKCON Event BlogsYear 2021 BlogsVaisnava Sampradaya BlogsISKCON Calendar BlogsEkadashi Calendar BlogsGauriya Sampradaya Blogs

अगर आपको यह ब्लॉग पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस ब्लॉग को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

शकुनि से जुड़ी कुछ जानकारियाँ..

शकुनि के पिता, माता, पत्नी, बेटे का क्या नाम था? युद्ध में सहदेव ने वीरतापूर्वक युद्ध करते हुए शकुनि और उलूक को घायल कर दिया और देखते ही देखते उलूक का वध दिया।

श्री कृष्ण जन्माष्टमी विशेषांक 2021

आइए जानें! श्री कृष्ण जन्माष्टमी से जुड़ी कुछ जानकारियाँ, प्रसिद्ध भजन एवं सम्वन्धित अन्य प्रेरक तथ्य..

सावन शिवरात्रि विशेषांक 2021

जानें! सावन की शिवरात्रि से जुड़ी कुछ जानकारियाँ एवं सम्वन्धित प्रेरक तथ्य..

क्यों मनाई जाती है गुरु पूर्णिमा?

24 जुलाई, 2021 को गुरु पूर्णिमा मनाया जाएगा। गुरु पूर्णिमा का पबित्र पर्व आषाढ़ मास की पूर्णिमा तिथि को हिन्दू पंचांग के अनुसार मनाया जाता है। भारत में इस दिन को बड़ी श्रद्धा के साथ गुरु की पूजा की जाती है।

ISKCON एकादशी कैलेंडर 2021

यह एकादशी तिथियाँ केवल वैष्णव सम्प्रदाय इस्कॉन के अनुयायियों के लिए मान्य है | Wednesday, 4 August 2021 कामिका एकादशी व्रत कथा - Kamika Ekadasi Vrat Katha

विविध: आर्य समाज के नियम

ईश्वर सच्चिदानंदस्वरूप, निराकार, सर्वशक्तिमान, न्यायकारी, दयालु, अजन्मा, अनंत, निर्विकार, अनादि, अनुपम, सर्वाधार, सर्वेश्वर, सर्वव्यापक, सर्वांतर्यामी, अजर, अमर, अभय, नित्य, पवित्र और सृष्टिकर्ता है, उसी की उपासना करने योग्य है।

बिश्नोई पन्थ के उनतीस नियम!

बिश्नोई पन्थ के उनतीस नियम निम्नलिखित हैं: तीस दिन सूतक, पांच ऋतुवन्ती न्यारो। सेरो करो स्नान, शील सन्तोष शुचि प्यारो॥...

मंदिर

🔝