जोर बाग़ मेट्रो स्टेशन दिल्ली


बारें में | मंदिर दर्शन | सेवाएं और मार्ग


In Delhi Metro’s yellow line Jorbagh Metro station is located.

By departing from Jorbagh Metro station devotees can visit the nearest famous temples like Shri Sanatan Dharm Mandir, Prachin Hanuman Mandir, Aliganj, Prachin Shri Batuk Bhairav mandir.

Jor Bagh serves the famous Aurobindo Marg, Lodhi Road, Mughal mausoleum, Safdarjung Airport and Safdarjung Tomb. #MandirDarshanViaDelhiMetro

जोर बाग़ के निकट मंदिर - Mandir Near Jor Bagh Metro Station

श्री सनातन धर्म मंदिर @Lodhi Road New Delhi

बी.के. दत्ता कॉलोनी के श्री सनातन धर्म मंदिर मे, उत्तर भारत मे पूजे जाने वाले सभी देवी-देवतों को प्रतिष्ति किया गया है...


भगवान श्री वाल्मीकि आश्रम @Delhi New Delhi

भगवान श्री वाल्मीकि आश्रम (Bhagwan Shri Valmiki Ashram) नेहरू पार्क के बड़े परिसर में अखिल भारतीय वाल्मीकि साधु अखाड़ा परिषद की आध्यात्मिक सभा है। वाल्मीकि आश्रम प्रसिद्ध श्री बटुक भैरव मंदिर के पास स्थित है।


प्राचीन हनुमान मंदिर, अलीगंज @Lodhi Road New Delhi

दिल्ली के अलीगंज में स्थित सिद्ध श्री प्राचीन हनुमान मंदिर भक्तों के बीच मनोकामनयों की सिद्धि के लिए सर्वाधिक प्रसिद्ध है। मंदिर की प्राचीनता का कोई प्रमाण उपलब्ध नहीं है..


प्राचीन श्री हनुमान मंदिर @Chanakyapuri New Delhi

अगस्त 1960 से श्री राम भक्त हनुमान, नेहरू पार्क के विशाल क्षेत्र में स्थित प्राचीन श्री हनुमान मंदिर के प्रमुख आराध्य के रूप में भक्तों का भय दूर करते हुए मनवांछित वर प्रदान कर रहे हैं।


प्राचीन श्री बटुक भैरव मंदिर @Chanakyapuri New Delhi

प्राचीन श्री बटुक भैरव मंदिर पांडवों द्वारा बनाए गये मंदिरों मे सर्व प्रथम है। जिनके बिग्रह मे भैरव बाबा का चेहरा और दो बड़ी-बड़ी आँखों के साथ बाबा का त्रिशूल दिखाई पड़ता है।


सेवाएं और मार्ग

एटीएम
Yes Bank
सुलभ
Yes
Yellow Line
underground
2010
island
INA

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥ गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला।...

ॐ जय जगदीश हरे आरती

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे। भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥

श्री खाटू श्याम जी आरती

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे। खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे॥

श्री भैरव देव जी आरती

जय भैरव देवा, प्रभु जय भैरव देवा, जय काली और गौर देवी कृत सेवा॥

श्री हनुमान जी आरती

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ आरती कीजै हनुमान लला की । दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥..

Download BhaktiBharat App