करवा चौथ | अहोई अष्टमी | आज का भजन!

ग्रेटर नोएडा कालीबाड़ी - Greater Noida Kalibari


updated: Oct 11, 2019 23:34 PM 🔖 बारें में | 🕖 समय सारिणी | ♡ मुख्य आकर्षण | 📜 इतिहास | 📷 फोटो प्रदर्शनी | ✈ कैसे पहुचें | 🌍 मानचित्र | 🖋 कॉमेंट्स


ग्रेटर नोएडा कालीबाड़ी की परिकल्पना का प्रारूप सन् 2003 से ही ग्रेटर नोएडा शारदीय संस्‍कृति समिति द्वारा तैयार कर लिया गया था। परंतु ग्रेटर नोएडा काली मंदिर अभी भी निर्माणाधीन अवस्था में है। काली मंदिर का 6,000 वर्ग मीटर बड़ा प्रांगण इसे ग्रेटर नोएडा के सबसे बड़े कालीबाड़ी की श्रेणी मे खड़ा करता है।

Laxmi Puja will be held on Sunday, Oct 13th 2019 at our Kalibari complex. The Puja will start around 6:00 PM; Bhog and Prasad will be distributed after the puja.

मंदिर में अभी माँ काली तथा भगवान शिव धाम उपस्थित है, परंतु पूर्ण होने पर मंदिर में श्री राधा-कृष्ण धाम की स्थापना भी की जाएगी। मंदिर समिति का अगला पड़ाव है, एक सत्संग हॉल, पुस्तकालय, धर्मार्थ औषधालय, उपवन एवं धर्मशाला जैसी मूलभूत सुविधाओं का निर्माण करना।

सन् 2012 से निर्माणाधीन मंदिर प्रांगण में दुर्गा पूजा का आयोजन किया जारहा है। मंदिर में महीने की प्रत्येक अमावस्या को पूजा का आयोजन, तथा प्रत्येक पूर्णिमा को श्री सत्यनारायण कथा का वाचन किया जाता है।

भक्तजन मंदिर के निर्माणकार्य में अपनी सामर्थ के अनुरूप, अपना योगदान नीचे दी गयी जानकारियों द्वारा कर सकते हैं।
Bank Account details:
Name: GREATER NOIDA SHARADIA SANSKRITIK SAMITI
A/C No: 98250100001508
Bank: Bank of Baroda, G Block Market, Gamma - 2, Greater Noida, UP - 201308
IFS Code: BARB0GAMNO1
Pan No: AAATG 7333C
For more details concat: greaternoidakalibari@outlook.com & kalibarign@gmail.com

मुख्य आकर्षण

  • ग्रेटर नोएडा का सबसे बड़ा कालीबाड़ी।
  • अब तक मंदिर निर्माणाधीन है।

समय सारिणी

दर्शन समय
Winter: 9:00 AM - 11:30 PM, 6:00 PM - 9:00 PM; Summer: 8:30 AM - 11:00 PM, 7:00 PM - 11:00 PM
5:30 AM: ग्रीष्म: मंगला आरती
6:00 AM: शारदीय: मंगला आरती
11:00 AM: पूजा एवं भोग
6:15 PM: शारदीय: संध्या आरती
7:15 PM: ग्रीष्म: संध्या आरती
त्यौहार
Durga Puja, Janmashtami, Navratri, Shivaratri, Amabashya Kalipuja, Poornima, Kali Puja, Republic Day, Independence Day, Bengali New Year, Rabindra Jayanti, Saraswati Puja | Read Also: नवरात्रि

फोटो प्रदर्शनी

Photo in Full View
माँ काली विग्रह

माँ काली विग्रह

भगवान शिव धाम

भगवान शिव धाम

मंदिर का प्रमुख शिखर

मंदिर का प्रमुख शिखर

भगवान शिव धाम

भगवान शिव धाम

माँ काली मंदिर प्रस्तावित वास्तुकला

माँ काली मंदिर प्रस्तावित वास्तुकला

माँ काली मंदिर प्रस्तावित ड्राइंग लेआउट

माँ काली मंदिर प्रस्तावित ड्राइंग लेआउट

Greater Noida Kalibari - Available in English

The concept of Greater Noida Kalibari was planned since 2003 by the Greater Noida Shardiya Culture Committee. But the Greater Noida Kali Temple is still under construction.

जानकारियां

बुनियादी सेवाएं
Prasad, Power Backup, Shoe Store, Parking, Sitting Benches, Music System
धर्मार्थ सेवाएं
प्रस्तावित: एक सत्संग हॉल, पुस्तकालय, धर्मार्थ औषधालय, उपवन एवं धर्मशाला
संस्थापक
ग्रेटर नोएडा शारदीय संस्‍कृति समिति
स्थापना
निर्माणाधीन
देख-रेख संस्था
ग्रेटर नोएडा शारदीय संस्‍कृति समिति
समर्पित
माँ काली
क्षेत्रफल
6,000 m2
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

क्रमवद्ध

2012

मंदिर की अपनी भूमि पर दुर्गा पूजा मनाना प्रारंभ किया।

2009

ग्रेटर नोएडा द्वारा 6,000 वर्ग मीटर भूमि आवंटित की गई।

2003

ग्रेटर नोएडा शारदीय संस्‍कृति समिति की स्थापना।

कैसे पहुचें

पता 📧
Plot - F1, Pi 2, Pi I & II, Greater Noida Uttar Pradesh
सड़क/मार्ग 🚗
Greater Noida West Link Road >> Fashion Station Road
रेलवे 🚉
Boraki, Dadri
हवा मार्ग ✈
Indira Gandhi International Airport, New Delhi
नदी ⛵
Hindon, Yamuna
वेबसाइट 📡
http://www.gnkalibari.in/
निर्देशांक 🌐
28.479867°N, 77.538134°E
ग्रेटर नोएडा कालीबाड़ी गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/greater-noida-kalibari

अगला मंदिर दर्शन

अपने विचार यहाँ लिखें

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती: तुलसी महारानी नमो-नमो!

तुलसी महारानी नमो-नमो, हरि की पटरानी नमो-नमो। धन तुलसी पूरण तप कीनो, शालिग्राम बनी पटरानी।

आरती: जय जय तुलसी माता

जय जय तुलसी माता, मैया जय तुलसी माता। सब जग की सुख दाता, सबकी वर माता॥

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥ गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला।...

top