श्री कालकाजी मंदिर - Shri Kalkaji Mandir

माँ आदिशक्ति के काली रूप को समर्पित यह श्री कालकाजी मंदिर, जिसे जयंती पीठ या मनोकामना सिद्ध पीठ भी कहा जाता है। मनोकामना का शाब्दिक अर्थ है इच्छा, सिद्ध का अर्थ है प्रामाणिकता के साथ पूर्ण, और पीठ का अर्थ है तीर्थ। अतः यह पवित्र मंदिर माना जाता है, जहाँ सभी को अपनी इच्छाओं की पूर्ति हेतु माँ कालिका देवी का आशीर्वाद मिलता है। श्री स्वयंभू महाकालेश्वर शिव मंदिर भी इसी परिसर से जुड़ा है।

Shardiya Navratri Celebration: 17 - 25 October 2020 - Round The Clock

कहा जाता है कि महाभारत काल मे, भगवान कृष्ण और पांडवों ने युधिष्ठिर के शासन काल में देवी कालिका की पूजा की थी। मान्यता यह भी है कि, कालकाजी मंदिर दुनिया का सबसे पुराना माँ काली का मंदिर है।

मुख्य अनुष्ठान में प्रतिदिन दो बार मूर्ति का दूध से स्नान तथा उसके बाद आरती का आयोजन किया जाता है। वर्तमान स्थिति के अनुसार मंदिर पहुँचने का सबसे सरल साधन दिल्ली मेट्रो का कालकाजी स्टेशन है।

माता कालरात्रि के बारे मे जाने:
जब देवी पार्वती ने शुंभ और निशुंभ नाम के राक्षसों का वध लिए तब माता ने अपनी बाहरी सुनहरी त्वचा को हटा कर देवी कालरात्रि का रूप धारण किया। कालरात्रि देवी पार्वती का उग्र और अति-उग्र रूप है। देवी कालरात्रि का रंग गहरा काला है। अपने क्रूर रूप में शुभ या मंगलकारी शक्ति के कारण देवी कालरात्रि को देवी शुभंकरी के रूप में भी जाना जाता है।
सवारी: गधा
अत्र-शस्त्र: चार हाथ - दाहिने हाथ अभय और वरद मुद्रा में हैं, और बाएं हाथों में तलवार और घातक लोहे का हुक धारण किए हैं।
ग्रह: शनि

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

  • दिल्ली में माँ काली का केवल सिद्धपीठ।
  • दिल्ली का सबसे प्रसिद्ध मंदिर।
  • मुंडन संस्कार के लिए प्रसिद्ध।

समय - Timings

दर्शन समय
4:00 AM - 11:30 AM, 12:00 PM - 3:00 PM, 4:00 PM - 11:30 PM

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
Flag showing the faith community on Maa Kali, High of Main Shikar.

Flag showing the faith community on Maa Kali, High of Main Shikar.

Kamandal wale baba, Baba Bholenath. Shri Nandi having lot of love by His Bhaktgan.

Kamandal wale baba, Baba Bholenath. Shri Nandi having lot of love by His Bhaktgan.

Wall decoration of Main Shikar. Devotee full of motivation and confidence to take Darshan of Maa

Wall decoration of Main Shikar. Devotee full of motivation and confidence to take Darshan of Maa

Shri Kalkaji Mandir in English

Shri Kalkaji Mandir dedicated to Maa Aadi Shakti (Maa Kali), near Kalkaji Mandir metro station, also called Jayanti Peetha or Manokamna Siddha Peetha.

जानकारियां - Information

मंत्र
ॐ क्रीं कालिकायै नमः
धाम
Shri Radha KrishnaLord Hanuman JiShivling with GanLord Shiv FamilyShri Ram FamilyMaa DurgaShri Laxmi NarayanMaa SarswatiMaa SantoshiLord GaneshKaal Bhairav (Bhairon Baba)Shri Shani MaharajNavgrah DhamHawan ShalaPeepal TreeBanyan TreeTulsi Plant
बुनियादी सेवाएं
Drinking Water, Prasad, Puja Samagri, CCTV Security, 4-5 Shoe Stores
धर्मार्थ सेवाएं
Mundan Sanskar / Chudakarana(चूड़ाकरण), Homeopathic Dispensary (Summer: 9:00 AM - 12:30 PM, Winter: 9:30 AM - 1:00 PM)
स्थापना
सतयुग
देख-रेख संस्था
श्री कालका पीठ सेवा समिति
समर्पित
माँ काली
फोटोग्राफी
🚫 नहीं (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

वीडियो - Video Gallery

Navratri 2016 Evening Complete Aarti

Bhakti Bhajan Kirtan with the guidance of Mahant Ji.

Kaise Naiiyan Hogi Paar Toot Gai Patwaar - Shri Kalkaji Mandir

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Ma Anandmayee Marg, NSIC Estate, Okhla Phase III Kalkaji New Delhi
सड़क/मार्ग 🚗
Outer Ring Road >> Near Kalkaji Flyover / Lotus Temple Road
रेलवे 🚉
New Delhi
हवा मार्ग ✈
Indira Gandhi International Airport
नदी ⛵
Yamuna
वेबसाइट 📡
facebook
twitter
https://twitter.com/kalkajimandir
instagram
https://www.instagram.com/shrikalkajimandir
निर्देशांक 🌐
28.5499571°N, 77.2608069°E
श्री कालकाजी मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/shri-kalkaji-mandir

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती माँ लक्ष्मीजी - ॐ जय लक्ष्मी माता

ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता। तुमको निसदिन सेवत, हर विष्णु विधाता॥

श्री भैरव देव जी आरती

जय भैरव देवा, प्रभु जय भैरव देवा, जय काली और गौर देवी कृत सेवा॥

श्री सत्यनारायण जी आरती

जय लक्ष्मी रमणा, स्वामी जय लक्ष्मी रमणा। सत्यनारायण स्वामी, जन पातक हरणा॥

🔝