विवाह पंचमी | आज का भजन!

श्री शुभ सिद्धि विनायका मंदिर - Shri Subha Siddhi Vinayaka Mandir


Sep 20, 2015 07:35 AM 🔖 बारें में | 🕖 समय सारिणी | 📷 फोटो प्रदर्शनी | ✈ कैसे पहुचें | 🌍 मानचित्र | 🖋 कॉमेंट्स


श्री शुभ सिद्धि विनायका मंदिर (Shri Subha Siddhi Vinayaka Mandir) - Khudi Ram Bose Marg, Pocket 4, Mayur Vihar Phase 1, Delhi - 110091 Delhi New Delhi

Dravidian temple architecture of type cholas, situated near Arya Samaj Mandir named as श्री शुभ सिद्धि विनायका मंदिर (Shri Subha Siddhi Vinayaka Mandir) dedicated to Lord Shri Ganesh (विनायक).

यह भी जानें - Read Also

समय सारिणी - Timings

दर्शन समय
Summer: 6:00 AM - 11:00 AM, 5:00 PM - 9:00 PM

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
Main Shikhar

Main Shikhar

Shri Subha Siddhi Vinayaka Mandir

Shri Subha Siddhi Vinayaka Mandir

Top of the Shikhar

Top of the Shikhar

Front Look

Front Look

जानकारियां - Information

धाम
Shivling with Lord Shiv FamilyHawan ShalaLord Kartikeya (MuruganSubrahmanyam)
बुनियादी सेवाएं
Drinking Water, Prasad<
समर्पित
Lord Shri Ganesh
वास्तुकला
Cholas
फोटोग्राफी
🚫 नहीं (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Khudi Ram Bose Marg, Pocket 4, Mayur Vihar Phase 1, Delhi - 110091 Delhi New Delhi
सड़क/मार्ग 🚗
Khudi Ram Bose Marg via Noida Link Road
निर्देशांक 🌐
28.604125°N, 77.291725°E
श्री शुभ सिद्धि विनायका मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/shri-subha-siddhi-vinayaka-mandir

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती: रघुवर श्री रामचन्द्र जी।

आरती कीजै श्री रघुवर जी की, सत चित आनन्द शिव सुन्दर की॥

आरती: श्री रामचन्द्र जी।

आरती कीजै रामचन्द्र जी की। हरि-हरि दुष्टदलन सीतापति जी की॥

आरती: तुलसी महारानी नमो-नमो!

तुलसी महारानी नमो-नमो, हरि की पटरानी नमो-नमो। धन तुलसी पूरण तप कीनो, शालिग्राम बनी पटरानी।

top