Download Bhakti Bharat APP

श्री चंद्रमौलेश्वर स्वामी मंदिर - Shri Chandramouleswara Swamy Temple

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

  • तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम द्वारा संचालित मंदिर है।

भगवान शिव के चंद्रमौलेश्वर स्वरूप को समर्पित, तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम द्वारा संचालित यह श्री चंद्रमौलेश्वर स्वामी मंदिर (तेलुगू: శ్రీ చంద్రమోలేశ్వర స్వమయ్ టెంపల్) ऋषिकेश की हरिद्वार रोड पर स्थापित है।

प्रचलित नाम: तेलुगू: శ్రీ చంద్రమోలేశ్వర స్వమయ్ టెంపల్

समय - Timings

दर्शन समय
6:00 AM - 12:00 PM, 3:00 PM - 8:30 PM
त्योहार

Shri Chandramouleswara Swamy Temple in English

Shri Chandramouleswara Swamy Temple dedicated to Lord Shiv and organized by TTD - Tirumala Tirupati Devasthanams.

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
Welcome message board

Welcome message board

A direction board

A direction board

Full view of main entrance gate

Full view of main entrance gate

जानकारियां - Information

बुनियादी सेवाएं
Prasad, Water Cooler, Shoe Store, Washrooms, Sitting Benches, Music System, Puja Samagri
धर्मार्थ सेवाएं
Dharmshala
संस्थापक
TTD - तिरूमला तिरुपति देवस्थानम
देख-रेख संस्था
TTD - तिरूमला तिरुपति देवस्थानम
समर्पित
भगवान शिव
वास्तुकला
चोला, पाण्ड्या
फोटोग्राफी
🚫 नहीं (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)
नि:शुल्क प्रवेश
हाँ जी

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
TTD Andhra Ashram, NH-58 (Haridwar Road) Rishikesh Uttarakhand
सड़क/मार्ग 🚗
Haridwar Road (NH-58), Chandereshwar Nagar
रेलवे 🚉
Rishikesh, Haridwar
हवा मार्ग ✈
Dehradun Airport
नदी ⛵
Ganga
सोशल मीडिया
निर्देशांक 🌐
30.110873°N, 78.30307°E
श्री चंद्रमौलेश्वर स्वामी मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/ttd-shri-chandramouleswara-swamy-temple

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

भगवद्‍ गीता आरती

जय भगवद् गीते, जय भगवद् गीते। हरि-हिय-कमल-विहारिणि सुन्दर सुपुनीते॥

ॐ जय जगदीश हरे आरती

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे। भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥

आरती कुंजबिहारी की

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥ गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला।...

Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App