Download Bhakti Bharat APP

जगन्नाथ मंदिर, चेन्नई - Jagannath Temple Chennai

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

  • चेन्नई की प्रसिद्ध जगन्नाथ रथ यात्रा।
  • प्रतिदिन दोपहर भोग के पश्चात महाप्रसाद की व्यवस्था।
  • प्रसिद्ध ईसीआर बीच के पास।

चेन्नई जगन्नाथ मंदिर एक हिंदू मंदिर है जो भगवान जगन्नाथ, प्रभु बलदेव और देवी सुभद्रा को समर्पित है। यह ईस्ट कोस्ट रोड से कन्नथुर में स्थित है और यह कलिंग वास्तुकला में जगन्नाथ मंदिर, पुरी की याद दिलाता है। मंदिर में देवताओं की मूर्तियां पुरी मंदिर के समान ही नीम की लकड़ी से बनी हैं। इसकी उत्कृष्ट वास्तुकला ओडिशा में मूल पुरी जगन्नाथ मंदिर की वास्तविक प्रतिकृति है।

मंदिर का निर्माण: मंदिर को 26 जनवरी 2001 को निर्माण किया गया था। यह मंदिर पुरी में जगन्नाथ मंदिर की प्रतिकृति है और इसे उड़िया शैली में बनाया गया है। मंदिर उड़िया मंदिरों के समान दीवारों और छत पर पट चित्रों से भरा है, जिसमें भगवान विष्णु के दस अवतारों के चित्रण शामिल हैं।

अन्य देवी-देवता मंदिर: मंदिर में अन्य देवी-देवता मंदिर हैं, काशी विश्वनाथ, बट गणेश, विमला, देवी लक्ष्मी और नवग्रह। मुख्य मंदिर के प्रवेश द्वार में एक विशाल ध्वज स्तम्भ और यज्ञशाला है। मंदिर के आसपास बहुत ही शांत और शांतिपूर्ण है। हरे-भरे पृष्ठभूमि और फूलों के बगीचे मंदिर को और भी आकर्षक बनाता है। फूल केवल पूजा के लिए उपयोग किया जाता है, जो उड़िया शैली में आयोजित की जाती है। पुजारी और पूजा विधि पूरी तरह से जगन्नाथ पुरी धाम की तरह है।

प्रसाद: यहां भक्तों को जगन्नाथ पुरी धाम में महाप्रसाद की तरह हर दिन मध्यान प्रसाद (दोपहर के भोजन का समय) मिल सकता है। प्रसाद के लिए आपको एक दिन पहले बुकिंग करनी होगी जिसका भुगतान किया जाता है। प्रसाद लेने के लिए भक्तों को प्रसाद सेवन गृह जाना होता है। यहां सब कुछ ठीक से व्यवस्थित है।

मुख्य त्यौहार: रथयात्रा चेन्नई जगन्नाथ मंदिर का मुख्य त्योहार है जिसे हर साल भव्य तरीके से मनाया जाता है।

प्रचलित नाम: चेन्नई जगन्नाथ मंदिर

समय - Timings

दर्शन समय
6.30 AM - 12.30 PM, 3.30 PM - 7:30 PM
5:30 AM: मंगला आरती
8:00 AM: सूर्य पूजा, द्वारपाल पूजा
9:00 AM: भोग पूजा
12:30 PM: भोग पूजा
6:30 PM: संध्या धूपा
त्योहार
Dola Yatra, Chandan Yatra, Snana Yatra, Navakalevara, Jagannath Rathyatra, Janmashtami, Durga Puja, Navratri, Shivaratri, Kartik Purnima, Ram Navami, Nityanand Trayodasi | यह भी जानें: मानबसा गुरुवार

Jagannath Temple Chennai in English

Chennai Jagannath Temple is a Hindu temple dedicated to Bhagwan Jagannath, Prabhu Baladeva and Devi Subhadra.

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
Navgrah

Navgrah

Bhagwan Barah

Bhagwan Barah

Temple

Temple

Navgrah Dham

Navgrah Dham

Trivikram

Trivikram

Temple Dhwaja Sthambha

Temple Dhwaja Sthambha

जानकारियां - Information

मंत्र
॥ जय जगन्नाथ ॥
धाम
Yajna NursinghaBhagwan BarahaKashi VishwanathShri GaneshaDevi GajalakshmiDevi VimalaNavagraha SannidhiDhwaja SthambhaGarun Dev
YagyashalaNeemBanianPipal
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Power Backup, Shoe Store, Parking, Drinking Water
स्थापना
26 जनवरी 2001
देख-रेख संस्था
श्री जगन्नाथ आध्यात्मिक शैक्षिक सांस्कृतिक ट्रस्ट
समर्पित
भगवान जगन्नाथ
वास्तुकला
कलिंग बौद्ध वास्तुकला
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)
नि:शुल्क प्रवेश
हाँ जी

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Kannathur Reddykuppam (ECR) Kovalam Post Chennai Tamilnadu
सड़क/मार्ग 🚗
Reddikuppam Main Road >> Venkateswara Gardens Ave / CLV Nagar Main Road
रेलवे 🚉
Velachery
हवा मार्ग ✈
Chennai International Airport
वेबसाइट 📡
सोशल मीडिया
निर्देशांक 🌐
12.850491°N, 80.245580°E
जगन्नाथ मंदिर, चेन्नई गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/jagannath-mandir-chennai

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

श्री सूर्य देव - ऊँ जय सूर्य भगवान

ऊँ जय सूर्य भगवान, जय हो दिनकर भगवान। जगत् के नेत्र स्वरूपा, तुम हो त्रिगुण स्वरूपा।

हनुमान आरती

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ आरती कीजै हनुमान लला की । दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥..

अन्नपूर्णा आरती

बारम्बार प्रणाम, मैया बारम्बार प्रणाम । जो नहीं ध्यावे तुम्हें अम्बिके, कहां उसे विश्राम । अन्नपूर्णा देवी नाम तिहारो..

Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App