close this ads

आरती: श्री पार्वती माँ


जय पार्वती माता, जय पार्वती माता
ब्रह्मा सनातन देवी, शुभ फल की दाता।
॥ जय पार्वती माता... ॥

अरिकुल कंटक नासनि, निज सेवक त्राता,
जगजननी जगदम्बा हरिहर गुण गाता।
॥ जय पार्वती माता... ॥

सिंह को वहान साजे, कुंडल है साथा,
देव वधू जस गावत, नृत्य करत ता था।
॥ जय पार्वती माता... ॥

सतयुग रूप शील अतिसुंदर, नाम सती कहलाता,
हेमाचंल घर जन्मी, सखियाँ संगराता।
॥ जय पार्वती माता... ॥

शुम्भ निशुम्भ विदारे, हेमाचंल स्थाता,
सहस्त्र भुजा तनु धरिके, चक्र लियो हाथा।
॥ जय पार्वती माता... ॥

सृष्टि रूप तुही है जननी, शिव संग रंगराता,
नन्दी भृंगी बीन लही, सारा जग मदमाता।
॥ जय पार्वती माता... ॥

देवन अरज करत हम, चरण ध्यान लाता,
तेरी कृपा रहे तो, मन नहीं भरमाता।
॥ जय पार्वती माता... ॥

मैया जी की आरती, भक्ति भाव से जो नर गाता,
नित्य सुखी रह करके, सुख संपत्ति पाता।
॥ जय पार्वती माता... ॥

जय पार्वती माता, जय पार्वती माता,
ब्रह्मा सनातन देवी, शुभ फल की दाता।

जय पार्वती माता, जय पार्वती माता
ब्रह्मा सनातन देवी, शुभ फल की दाता।

Read Also:
» कब, कैसे, कहाँ मनाएँ शिवरात्रि? | सावन के सोमवार | द्वादश(12) शिव ज्योतिर्लिंग! | भोग प्रसाद
» दिल्ली और आस-पास के प्रसिद्ध शिव मंदिर - Famous Shiv Mandir of Delhi NCR
» चालीसा: श्री शिव जी | भजन: शिव शंकर को जिसने पूजा उसका ही उद्धार हुआ
» श्री शिवसहस्रनामावली | श्री शिवमङ्गलाष्टकम् | भगवान शिव शतनाम-नामावली स्तोत्रम्!

Hindi Version in English

Jai Parvati Mata, Jai Parvati Mata, Brahma Sanatan Devi, Shubh Fal Ki Data। Jai Parvati Mata ॥
Arikul Kantak Nasani, Nij Sevak Trata, Jagjanani Jagdamba Harihar Gun Gata। Jai Parvati Mata ॥

Singh Ko Vahan Saje, Kundal Hai Satha, Dev Vadhu Jas Gavat, Niratya Karat Ta Tha। Jai Parvati Mata ॥
Satyug Roop Atisundar, Nam Sati Kahlata, Hemanchal Ghar Janmi, Sakhiyan Sang Rata। Jai Parvati Mata ॥

Shumbh Nishumbh Vidare, Hemachal Sthata, Sahastra Bhuja Tanu Dharike, Chakra Liyo Hatha। Jai Parvati Mata ॥
Srashti Roop Tumhi Hai Janani, Shiv Sang Rang Rata, Nandi Bhringi Been Lahi, Sara Jag Madmata। Jai Parvati Mata ॥

Devan Araj Karat Hum, Charan Dhyan Lata, Teri Kripa Rahe Too, Man Nahi Bharmata। Jai Parvati Mata ॥
Maiya Ji Ki Aarati, Bhakti Bhav Se Jo Nar Gata, Nity Sukhi Rah Karake, Sukh Sampatti Pata। Jai Parvati Mata ॥

Jai Parvati Mata, Jai Parvati Mata, Brahma Sanatan Devi, Shubh Fal Ki Data। Jai Parvati Mata ॥

AartiMaa Parvati AartiMata Aarti


If you love this article please like, share or comment!

* If you are feeling any data correction, please share your views on our contact us page.
** Please write your any type of feedback or suggestion(s) on our contact us page. Whatever you think, (+) or (-) doesn't metter!

आरती: श्री गणेश - शेंदुर लाल चढ़ायो!

शेंदुर लाल चढ़ायो अच्छा गजमुखको। दोंदिल लाल बिराजे सुत गौरिहरको।...

आरती: श्री गणेश जी

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा। माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥...

भोग आरती: आओ भोग लगाओ प्यारे मोहन…

आओ भोग लगाओ प्यारे मोहन, भिलनी के बैर सुदामा के तंडुल, रूचि रूचि भोग लगाओ प्यारे मोहन…

आरती: श्री बाल कृष्ण जी

आरती बाल कृष्ण की कीजै, अपना जन्म सफल कर लीजै। श्री यशोदा का परम दुलारा...

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥

आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥ गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला।...

आरती युगलकिशोर की कीजै!

आरती युगलकिशोर की कीजै। तन मन धन न्योछावर कीजै॥ गौरश्याम मुख निरखन लीजै।...

आरती: श्री पार्वती माँ

जय पार्वती माता, जय पार्वती माता, ब्रह्मा सनातन देवी, शुभ फल की दाता...

आरती: श्री शिव, शंकर, भोलेनाथ

जय शिव ओंकारा, ॐ जय शिव ओंकारा। ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा॥

आरती: श्री बृहस्पति देव

जय वृहस्पति देवा, ऊँ जय वृहस्पति देवा। छिन छिन भोग लगा‌ऊँ...

आरती: जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी।

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी, तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी॥

Latest Mandir

^
top