Navratri
Chaitra Navratri Specials 2024 - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Om Jai Jagdish Hare Aarti -

जप माला (Digital Jap Counter)


Add To Favorites
Change
0
Current Count
Target: Change
Remaning:
Subtract One Jap | Reset
About Digital Jap Counter

Bhaktibharat introduces a digital jap counter. This is a simple app that will help you simplify your counting method without the need for a physical garland or counting it at your fingertips.

This facility is also useful when traveling by bus or metro. Hence there is no need to carry chant garlands all the time.

Features of digital Jap counter:
◉ Original count by clicking the center button to increase the chant count.
◉ A number attribute in the button that indicates the current progress on the chant.
◉ App tells us how many times we chant in a day.
◉ This Jap app can also reset into 11, 21, 51, 101, 1001 or 1008 and the default value is 108.
◉ In the coming days, which mantra you want to chant, it will also reset on the top.
◉ Instead of Jap, one can also count the number of parikramas for different puja's like Vat Savitri, Tulasi Puja etc..

108 Jap, affects not only the human body but the entire solar system. According to astrology, the Sun and Moon have a great influence on humans due to the gravitational force of the Earth. We now have 9 planets revolving around 12 constellations that bring about various changes - negative as well as positive. It is believed that if we chant the mantras 108 times, it will reduce this negativity with its positive energy.

About Jap Counter AboutJap Mala AboutCounter AboutChants Counter AboutMantra Counter About

अगर आपको यह पेज पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस पेज को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आज की तिथि

हिंदू पंचांग के अनुसार आज के दिन की तिथि जानिए। यह तिथि भारत की राजधानी दिल्ली के प्रातः 8 बजे समय के अनुसार है।

भक्ति-भारत वार्षिकोत्सव 2023

भक्ति-भारत डॉट(.) कॉम के षष्टं वार्षिकोत्सव के उपलक्ष्य पर, फल प्रसाद भोग पाने हेतु आप सादर आमन्त्रित हैं | समय: रविवार 22 अक्टूबर 2023, सुबह 10:00 से उपलब्धता तक।

हमारे साथ विज्ञापन करें

प्रति दिन भक्ति भारत पर एक लाख विज़िटर्स आते हैं। हम आपकी सुविधा के अनुरूप भिन्न-भिन्न प्रारूपों में आपकी पॉकेट फ्रेंडली भी हैं।

ब्राउज़िंग हिस्ट्री

आपके द्वारा विज़िट किए गये पेज की हिस्टरी भविष्य के लिए सुरक्षित की गई है। आप इस सुविधा का यूज़ करें तथा अपनी प्रतिक्रिया कॉमेंट बॉक्स मे अवश्य लिखें।

नोटिफिकेशन

भक्तिभारत मंदिर, त्योहारों, आज की तिथि, आरती, भजन, कथा, मंत्र, वंदना, चालीसा और पंचांग आदि पर सभी प्रामाणिक जानकारी और समाचारों को सूचित करता है।

Cookie Policy

We never store any cookie from our end, this police applied for all users over the world.

आपके पसंदीदा

भक्ति-भारत ने आपके पसंदीदा पेज को सेलेक्ट करने की सुविधा प्रारंभ की है, आप स्टार(❤️) आइकान(icon) पर क्लिक करके, अपनी पसंदीदा लिस्ट मे जोड़ सकते है।

Hanuman Chalisa -
Ram Bhajan -
×
Bhakti Bharat APP