🥻हरियाली तीज - Hariyali Teej

Hariyali Teej Date: 31 July 2022
उत्तर भारत की विवाहित महिलाओं के बीच लोकप्रिय त्योहारों मे से एक है, यह हरियाली तीज का त्योहार।

उत्तर भारत की विवाहित महिलाओं के बीच लोकप्रिय त्यौहार मे से एक है, यह हरियाली तीज का त्यौहार। हरियाली तीज का उत्सव श्रावण मास में शुक्ल पक्ष तृतीया को मनाया जाता है। इसे श्रावणी तीज, हरितालिका तीज, सिंधारा तीजछोटी तीज के नाम से भी जाना जाता है। हरियाली तीज का त्यौहार हरियाली अमावस्या के दो दिन के बाद मनाया जाता है।

नाथद्वारा के श्रीजी मंदिर मे हरियाली तीज को परम पूज्या श्री राधारानी को समर्पित करते हुए इसे ठाकुरानी तीज नाम दिया गया है।

मुख्यत: यह स्त्रियों का त्यौहार है। भारत में इस समय वर्षा ऋतु होने के कारण, इस समय प्रकृति चारों तरफ हरियाली की चादर सी बिछा देती है, तो प्रकृति की इस छटा को देखकर मन पुलकित होकर नाच उठता है। हरियाली तीज पर विवाहित महिलाएं नए कपड़े, गहने पहन कर अपने मायके / पीहर जातीं हैं। महिलाएं पारम्परिक परिधान और पूर्ण श्रृंगार धारण किए समूह में लोक गीतों को गा-गाकर झूले का आनंद लेतीं हैं।
सावन के भजन: आई बागों में बहार, झूला झूले राधा प्यारी | सावन की बरसे बदरिया

संबंधित अन्य नाम
सिंधारा तीज, छोटी तीज, श्रावण तीज, श्रावणी तीज, हरितालिका तीज, ठाकुरानी तीज

Hariyali Teej in English

Hariyali Teej is one of the popular festivals among the married women of north India.

संबंधित जानकारियाँ

भविष्य के त्यौहार
19 August 20237 August 202427 July 2025
आवृत्ति
वार्षिक
समय
1 दिन
सुरुआत तिथि
श्रावण शुक्ल तृतीया
समाप्ति तिथि
श्रावण शुक्ल तृतीया
महीना
जुलाई / अगस्त
कारण
देवी पार्वती विवाह के उपरांत अपने मातृ घर लौटीं।
उत्सव विधि
भजन कीर्तन, झूले, मेले।
महत्वपूर्ण जगह
उत्तर भारत के घरों मे।
पिछले त्यौहार
11 August 2021, 23 July 2020

वीडियो

हरियाली तीज गीत

हरियाली तीज | मालिनी की पाठशाला

अगर आपको यह त्यौहार पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस त्यौहार को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

मंदिर

🔝