नीली छतरी मंदिर - Neeli Chatri Mandir

महाभारत काल से स्थापित भगवान शिव का प्राचीन मंदिर, प्राचीन नीली छतरी मंदिर पांडवों कालीन, यह मंदिर जन साधारण में नीली छतरी मंदिर नाम से प्रसिद्ध है। नीली छतरी मंदिर यमुना नदी के तट पर, सलीमगढ़ किले के बहादुर शाही गेट या गेट नंबर 2 पर स्थित है।

स्थानीय समुदाय के अनुसार, यह माना जाता है कि पांडवों के सबसे बड़े भाई, धर्मराज युधिष्ठिर ने अपने अश्वमेध यज्ञ के दौरान इस मंदिर को स्थापित किया था। मंदिर का उल्लेख केवल दिल्ली के विभिन्न इतिहास में ही किया गया है।

प्रचलित नाम: प्राचीन नीली छतरी मंदिर पांडवों कालीन

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

  • धर्मराज युधिष्ठिर द्वारा स्थापित मंदिर।
  • यमुना नदी के तट पर, सलीमगढ़ किले के पास स्थित मंदिर।

समय - Timings

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
A blue shaded temple Shikhar with Blue roof, close to the banks of the Yamuna river.

A blue shaded temple Shikhar with Blue roof, close to the banks of the Yamuna river.

Temple location hold between two roads and adjacent to Nigambodh Ghat on river Yamuna

Temple location hold between two roads and adjacent to Nigambodh Ghat on river Yamuna

Neeli Chatri Mandir in English

The Prachin Neeli Chatri Mandir Pandvon Kalin is the ancient temple of Lord Shiva established from the time of Mahabharata, it is popularly known as Neeli Chatri Mandir.

जानकारियां - Information

धाम
Left-Righ: Shri Radha KrishnaShivling with GanYagyashalaNavgrah DhamMaa DurgaMaa TulsiPeepal TreeBanyan Tree
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Drinking Water, Power Backup, Shoe Store, Sitting Benches, Music System
संस्थापक
धर्मराज युधिष्ठिर
स्थापना
महाभारत कालीन
समर्पित
भगवान शिव
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
2067 Yamuna Bazar Delhi New Delhi
सड़क/मार्ग 🚗
Srinagar - Kanyakumari highway >> Mahatma Gandhi Road(Ring Road) >> Grand Trunk Road
रेलवे 🚉
Old Delhi
हवा मार्ग ✈
Indira Gandhi International Airport, New Delhi
नदी ⛵
Yamuna
निर्देशांक 🌐
28.66258°N, 77.242394°E
नीली छतरी मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/neeli-chatri-mandir

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती: तुलसी महारानी नमो-नमो!

तुलसी महारानी नमो-नमो, हरि की पटरानी नमो-नमो। धन तुलसी पूरण तप कीनो, शालिग्राम बनी पटरानी।

आरती: जय सन्तोषी माता!

जय सन्तोषी माता, मैया जय सन्तोषी माता। अपने सेवक जन की सुख सम्पति दाता..

श्री विश्वकर्मा आरती- जय श्री विश्वकर्मा प्रभु

जय श्री विश्वकर्मा प्रभु, जय श्री विश्वकर्मा। सकल सृष्टि के करता, रक्षक स्तुति धर्मा॥

🔝