Navratri
Chaitra Navratri Specials 2024 - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Shiv Chalisa -

श्री राम जन्मभूमि - Shri Ram Janmabhoomi

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

◉ भगवान श्री राम की अवतरण / जन्म स्थली।

श्री राम जन्मभूमि मंदिर भगवान विष्णु के सातवें अवतार श्रीरामचंद्र जी का अवतरण / जन्म स्थल है। उनका अवतरण त्रेता युग मे हुआ था।

पूर्व में भाजपा के उदय के लिए अयोध्या के श्री राम जन्मभूमि का चुनावी मुद्दा होना सबसे बड़ा कारण था। अतः इस मंदिर का उत्तर प्रदेश की राजनीति में ही नही देश की राजनीति में अत्यधिक महत्ता है।

भगवान श्री राम को भारत के लोग अपने आदर्श पुरुष के रूप मानते हैं, तथा उनके प्रशासनिक कौशल को दुनियाँ मे सबसे उत्तम माना जाता है, और इस कौशल को राम-राज्य के नाम से संबोधित किया जाता है। मंदिर के ही समीप स्थित नदी को, भगवान श्रीराम के मानव रूप त्याग कर वैकुण्ठ लोक प्रस्थान गमन स्थान के रूप मे मानते है।

मंदिर की देखरेख का दायित्व नवगठित श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा किया जाएगा। माननीय प्रधान मंत्री नरेन्द्र भाई मोदी ने 5 अगस्त को अयोध्या में पूजन करके मंदिर निर्माण की प्रक्रिया प्रारंभ की है। मंदिर के वास्तु का दायित्व अहमदाबाद के चंद्रकान्त सोमपुरा जी वर्ष १९८६ से ही कर रहे हैं।

मंदिर के बारे मे जाने!
मेट्रियल: पत्थर
फ्लोर / तल: 3
फ्लोर / तल की ऊँचाई: 20 फीट
लंबाई: 360 फीट
चौड़ाई: 235 फीट
भूतल से मंदिर की ऊँचाई: 16.5 फीट
प्रमुख शिखर की ऊँचाई: 161 फीट
धरती के नीचे भूकम्प टेस्ट: 200 फीट
मंदिर निर्माण का कार्य लार्सन टुब्रो कम्पनी तथा सलाहकार के रूप में ट्रस्ट ने टाटा कंसल्टेंट इंजीनियर्स के द्वारा किया जा रहा है।

प्रचलित नाम: श्री राम जन्मभूमि मंदिर

समय - Timings

दर्शन समय
6:00 AM - 10:00 PM
7:00 AM: प्रभात आरती
12:00 PM: आरती
7:00 PM: संध्या आरती
त्योहार
Ram Navami, Diwali, Tulsi Vivah, Makar Sankranti, Hanuman Jayanti|Hanuman Janmotsav | यह भी जानें: एकादशी

रामो विग्रहवान् धर्मः

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का रामो विग्रहवान् धर्मः॥ मूल महवाक्य है जिसका अर्थ है `राम धर्म के मूर्त स्वरूप हैं।`

जिसे वाल्मीकि रामायण के निम्न लिखित श्लोक से लिया गया है।
रामो विग्रहवान् धर्मः साधुः सत्यपराक्रमः ।
रजा सर्वस्य लोकस्य देवानामिव वासवः ॥ [३।३७।१३]
अर्थात्: श्रीराम साक्षात् विग्रहवान् धर्म हैं। वे साधु और सत्यपराक्रमी हैं। जैसे इन्द्र समस्त देवताओंके अधिपति हैं, उसी प्रकार श्रीराम समस्त जगत् के राजा हैं।

दान पात्र - Donate

Shri Ram Janmabhoomi in English

Shri Ram Janmbhoomi Temple is the incarnation of Shri Ramchandra ji, the seventh incarnation of Bhagwan Vishnu. His incarnation happens in Treta Yug.

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
Donation Options Via SBI

Donation Options Via SBI

Donation Options Via PNB

Donation Options Via PNB

Donation Options Via BoB

Donation Options Via BoB

श्री राम जन्मभूमि

श्री राम जन्मभूमि

श्री राम जन्मभूमि

श्री राम जन्मभूमि

जानकारियां - Information

मंत्र
रामो विग्रहवान् धर्मः ॥
स्थापना
त्रेतायुग
देख-रेख संस्था
श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र
समर्पित
श्री राम
फोटोग्राफी
🚫 नहीं (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)
नि:शुल्क प्रवेश
हाँ जी

क्रमवद्ध - Timeline

5 Aug 2020

श्री राम मंदिर का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संभावित भूमि पूजन।

15 Mar 2021

प्रातःकाल शुभ मुहूर्त में नींव भराई का कार्य प्रारंभ हो गया है।

3 Aug 2020

श्री राम मंदिर भूमि पूजन हेतु गौरी-गणेश पूजा प्रारम्भ।

5 Feb 2020

राम मंदिर ट्रस्ट श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की संसद मे घोषणा।

9 Nov 2019

उच्चतम न्यायालय का श्री राम जन्मभूमि पर अंतिम निर्णय।

वीडियो - Video Gallery

श्री राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र

Bhoomi Punaj Live

रामलला अस्थायी मंदिर में शिफ्ट, विशेष पूजा अर्चना के साथ शुरु हुआ।

HG Amogh Lila Prabhu

कैसे पहुचें - How To Reach

सड़क/मार्ग 🚗
Kosi Parikrama Road
रेलवे 🚉
Ayodhya Junction, Faizabad Junction
हवा मार्ग ✈
Faizabad Airport
नदी ⛵
Ghaghara
वेबसाइट 📡
सोशल मीडिया
YouTube Channel Facebook Twitter
निर्देशांक 🌐
26.795462°N, 82.194216°E
श्री राम जन्मभूमि गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/ram-janmabhoomi?truecan

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी - आरती

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी, तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी॥

विन्ध्येश्वरी आरती: सुन मेरी देवी पर्वतवासनी

स्तुति श्री हिंगलाज माता और श्री विंध्येश्वरी माता सुन मेरी देवी पर्वतवासनी...

अम्बे तू है जगदम्बे काली: माँ दुर्गा, माँ काली आरती

अम्बे तू है जगदम्बे काली जय दुर्गे खप्पर वाली। तेरे ही गुण गाये भारती...

×
Bhakti Bharat APP