सिद्ध महावीर मंदिर, पुरी - Sidh Mahavir Mandir Puri

जगन्नाथ पुरी मे सिद्ध महावीर मंदिर श्री राम भक्त हनुमान को समर्पित है। श्री हनुमान को महावीर भी कहा गया है अतः मंदिर को महावीर मंदिर कहा जाता है। यह मंदिर गुंडिचा मंदिर से करीब एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।


पुरी भगवान श्री जगन्नाथ मंदिर, समुद्र तट और विश्व में कोणार्क मंदिर के लिए प्रसिद्ध है। इन स्थानों के अलावा, पुरी धार्मिक दृष्टि से कई छोटे मंदिरों के लिए भी प्रसिद्ध है जिसमें सिद्ध महावीर मंदिर भी शामिल है।

पुरी शहर में आठ महावीर की पूजा की जाती है और सिद्ध-महावीर के मंदिर उनमें से एक हैं। पुरी के बहुत से लोग भगवान जगन्नाथ और भगवान महावीर का अनुसरण करते हैं।

स्थानीय लोगों के अनुसार, राम चरित मानस के प्रसिद्ध लेखक तुलसी दास ने पुरी का दौरा किया और कुछ समय के लिए यहां रुके थे।

पांच मुख वाले हनुमान की मूर्ति के लिए प्रसिद्ध देवता भगवान सिद्ध महावीर की अध्यक्षता करते हैं। भगवान हनुमान की विभिन्न मुद्राओं जैसे बाली, सुग्रीव, जंबबान, सुसेना, और अंगद ने इस मंदिर में नक्काशी की है।

देवताओं की पूजा की - सिद्ध महावीर (हनुमान)
स्थान - गुंडिचा मंदिर से एक किलोमीटर
जगन्नाथ मंदिर से दूरी - 7 किमी
प्रसिद्ध अनुष्ठान - मकर संक्रांति, राम नवमी

प्रचलित नाम: Hanuman Mandir

समय - Timings

दर्शन समय
05:30 AM - 10:30 PM
त्यौहार

Sidh Mahavir Mandir Puri in English

Siddha Mahavir Mandir Puri is famous for presiding deity Bhagwan Mahavir. This Mandir is located nearer to Gundicha Mandir about a distance of one kilometer.

जानकारियां - Information

बुनियादी सेवाएं
Prasad, Shoe Store, Sitting Benches, Music System, Lake
समर्पित
श्री हनुमान
वास्तुकला
कलिंग बौद्ध वास्तुकला
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)
नि:शुल्क प्रवेश
हाँ जी

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Atta Kolo Lane Puri Odisha
सड़क/मार्ग 🚗
Sidha Mohabir Road / Atta Kolo Ln
रेलवे 🚉
Puri Railway Station
हवा मार्ग ✈
Biju Patnaik International Airport, Bhubaneswar
नदी ⛵
Dhaudia
निर्देशांक 🌐
19.819189°N, 85.847543°E
सिद्ध महावीर मंदिर, पुरी गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/sidh-mahavir-mandir-puri

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment


अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

श्री बृहस्पति देव की आरती

जय वृहस्पति देवा, ऊँ जय वृहस्पति देवा । छिन छिन भोग लगा‌ऊँ..

श्री खाटू श्याम जी आरती

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे। खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे॥

श्री विश्वकर्मा आरती- जय श्री विश्वकर्मा प्रभु

जय श्री विश्वकर्मा प्रभु, जय श्री विश्वकर्मा। सकल सृष्टि के करता, रक्षक स्तुति धर्मा॥

🔝