अधिक मास 2020: 18 सितंबर - 16 अक्टूबर (Adhik Maas 2020: 18 September - 16 October)


18 सितंबर - 16 अक्टूबर, 2020
आधिक-मास को प्रायः अशुभ महीना माना गया है, इस महीने में सभी प्रकार के शुभ कार्य करने पर प्रतिबंध होता है। इसे पुरुषोत्तम मास अथवा मलमास भी कहा जाता है।

इस वर्ष अर्थात 2020 मे अधिक मास आश्विन-मास के रूप मे 18 सितंबर से शुरू होकर 16 अक्टूबर तक रहेगा। वर्ष 2020 मे पितृपक्ष समाप्त होते ही नवरात्रि प्रारंभ न होकर मलमास का महीना शुरू हो जाएगा। इस वर्ष शारदीय नवरात्रि 17 अक्टूबर से शुरू होगी।

इस वर्ष, 17 सितंबर से 16 अक्टूबर तक, अश्विन प्रवेश मास भी रहेगा। इसका मतलब है कि दो अश्विन। इसके कारण, श्राद्ध पक्ष जैसे नवरात्रि, दशहरा, दीपावली आदि के बाद सभी त्योहार 20 से 25 दिन बाद शुरू होंगे। श्राद्ध और नवरात्रि के बीच लगभग एक महीने का अंतर होगा। 25 अक्टूबर को दशहरा और 14 नवंबर को दीपोत्सव मनाया जाएगा। देव प्रबोधिनी एकादशी 25 नवंबर को है। 19 वर्षों के बाद, अश्विन फिर से आदमियों के रूप में आए हैं, फिर 2039 में 19 वर्षों के बाद, अश्विन आदिमास के रूप में आएंगे, लेकिन लीप वर्ष और आधि मास 160 वर्षों के बाद एक साथ आए हैं। इससे पहले संयोग 1860 में बना था।

भगवान विष्णु अधिक मास के पूज्य देव हैं, अतः इस दौरान भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। कोई भी शुभ कार्य जैसे विवाह, मुंडन, गृह प्रवेश आदि मांगलिक कार्य इस महीने में नहीं किए जाते हैं।

Adhik Maas 2020: 18 September - 16 October in English

Adhik Maas is an extra month in the Hindu calendar. This time Adhik Maas will start from 18 September and will be till 16th October.
यह भी जानें

BlogsAdhik Maas BlogsMalmas BlogsPurushottam Maas Blogs


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

राम मंदिर अयोध्या के लिए दान/योगदान का प्रामाणिक तरीका

राम मंदिर के लिए कैसे सहयोग करें? कैसे दान करें? कहाँ दान दें? सभी ऑप्षन्स को जानें!

महा शिवरात्रि विशेष 2021

11 मार्च 2021 को संपूर्ण भारत मे महा शिवरात्रि का उत्सव बड़ी ही धूम-धाम से मनाया जाएगा। महा शिवरात्रि क्यों, कब, कहाँ और कैसे? | आरती: | चालीसा | मंत्र |नामावली | कथा | मंदिर | भजन

ISKCON एकादशी कैलेंडर 2021

यह एकादशी तिथियाँ केवल वैष्णव सम्प्रदाय इस्कॉन के अनुयायियों के लिए मान्य है | 9 January 2021 Sunday सफला एकादशी व्रत कथा - Saphala Ekadasi Vrat Katha

Importance of Sawan Somvar Vrat and its benefits?

Monday is considered special in the month of Sawan. The day of Monday is dedicated to Bhagwan Shiv, so the importance of Monday in the month of Sawan increases considerably.

How To Register Vaishno Devi Darshan?

The holy journey of mata Vaishno Devi has started once again. Some special rules have also been made to visit the mata Vaishno Devi to be safe from the corona virus.

दीवाली विशेष 2021

दीवाली/दीपावली क्यों, कब, कहाँ और कैसे? आरती माँ लक्ष्मीजी, भगवान श्री कुबेर जी की आरती, आरती श्री गणेश जी, आरती श्री रामचन्द्र जी की कीजै, श्री गोवर्धन महाराज आरती

🔝