शकुनि से जुड़ी कुछ जानकारियाँ.. (Shakuni Se Judi Kuch Informations)

शकुनि के पिता का क्या नाम था?
शकुनि के पिता का नाम राजा सुबल था।

शकुनी की माता का क्या नाम था?
शकुनि की माता का नाम सुदर्मा था।

शकुनि किस देश का राजा था?
शकुनि गांधार का राजा था जो वर्तमान मे अफगानिस्तान मैं है।

शकुनि की पत्नी का क्या नाम था?
शकुनि की पत्नी का नाम आरशी था।

शकुनि के बेटे का क्या नाम था?
शकुनि के पुत्र का नाम उलूक था।

शकुनि का वध किसने किया था?
शकुनि का वध पांडु पुत्र सहदेव ने किया था।

महाभारत के युद्ध मे शकुनी के पुत्र का वध किसने किया था?
शकुनि एवं उनके पुत्र का वध पांडु पुत्र सहदेव ने ही किया था।

युद्ध में सहदेव ने वीरतापूर्वक युद्ध करते हुए शकुनि और उलूक को घायल कर दिया और देखते ही देखते उलूक का वध दिया। अपने पुत्र का शव देखकर शकुनि को बहुत दु:ख हुआ और वह युद्ध छोड़कर भागने लगा। सहदेव ने शकुनि का वध युद्ध के 18वे दिन किया था। शकुनि के अन्य भाइयों ने भी युद्ध में हिस्सा लिया था। उनका वध अर्जुन ने किया था।

Shakuni Se Judi Kuch Informations in English

What was the name of Shakuni's father, mother, wife, son? In the battle, Sahadev bravely wounded Shakuni and Uluka while fighting and killed Uluka on seeing him.
यह भी जानें

Blogs Vaidik BlogsShakuni BlogsMahabharat BlogsQnA BlogsQuestion And Answer Blogs

अगर आपको यह ब्लॉग पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस ब्लॉग को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

शारदीय नवरात्रि विशेष 2021

शारदीय नवरात्रि वर्ष 2020 में 17 अक्टूबर से प्रारंभ हो रही है। आइए जानें! ऊर्जा से भरे इस उत्सव के जुड़ी कुछ विशेष जानकारियाँ, आरतियाँ, भजन, मंत्र एवं रोचक कथाएँ त्वरित(quick) लिंक्स के द्वारा...

जैन धर्म विशेष

आइए जानें! जैन धर्म से जुड़ी कुछ जानकारियाँ, प्रसिद्ध भजन एवं सम्वन्धित अन्य प्रेरक तथ्य..

गणेशोत्सव विशेष 2021

आइए जानें! श्री गणेशोत्सव, श्री गणेश चतुर्थी, अनंत चतुर्दशी एवं गणपति विसर्जन से जुड़ी कुछ जानकारियाँ, प्रसिद्ध भजन एवं सम्वन्धित अन्य प्रेरक तथ्य..

ISKCON एकादशी कैलेंडर 2021

यह एकादशी तिथियाँ केवल वैष्णव सम्प्रदाय इस्कॉन के अनुयायियों के लिए मान्य है | Saturday, 2 October 2021 इंदिरा एकादशी व्रत कथा - Indira Ekadashi Vrat Katha

विश्वकर्मा पूजा 2021

भगवान विश्वकर्मा की पूजा हर साल सितंबर के महीने में की जाती है, जिन्हें सृष्टि और सृष्टि के देवता देवताओं का शिल्पी कहा जाता है। विश्वकर्मा पूजा 17 सितंबर शुक्रवार को है

बुढ़वा मंगल विशेष 2021

इस वर्ष बुढ़वा मंगल एवं राधाष्टमी दोनों ही पर्व एक ही दिन अर्थात 14 सितंबर 2021 को आयोजित किए जा रहे हैं।

अधूरा पुण्य

दिनभर पूजा की भोग, फूल, चुनरी, आदि सामिग्री चढ़ाई - पुण्य; पूजा के बाद, गन्दिगी के लिए समान पेड़/नदी के पास फेंक दिया - अधूरा पुण्य

🔝