मंदिर

मंदिर (English: Mandir, Gujarati: મંદિર, Bengali: মন্দির, Telugu: మందిరం, Malayalam: ക്ഷേത്രം, Kannada: ದೇವಸ್ಥಾನ) and gurudwara is the Hindu, Buddhist and Jain name for a place of worship or prayer. A space and structure designed to bring human beings and Gods together, infused with symbolism to express the ideas and beliefs. Bhakti Bharat Celebrating 301+ Temples.

गुलमोहर शिवालय @Vaishali Uttar Pradesh

वैशाली सेक्टर 5 का सबसे प्रसिद्ध शिव मंदिर गुलमोहर शिवालय है। यह शिव मंदिर, गुलमोहर लेन में स्थित होने के कारण गुलमोहर शिवालय कहलाया।

वैशाली सेक्टर 5 का सबसे प्रसिद्ध शिव मंदिर गुलमोहर शिवालय है। यह शिव मंदिर, गुलमोहर लेन में स्थित होने के कारण गुलमोहर शिवालय कहलाया।


श्री गायत्री शक्तिपीठ, द्वारका @Dwarka Gujarat

सन् 1983 से श्री गायत्री शक्तिपीठ द्वारिका मे माँ गायत्री का एक मात्र मंदिर है, जिसके साथ-साथ यहाँ धार्मिक यात्रियों के रुकने के लिए धर्मशाला भी जुड़ी हुई है।

सन् 1983 से श्री गायत्री शक्तिपीठ द्वारिका मे माँ गायत्री का एक मात्र मंदिर है, जिसके साथ-साथ यहाँ धार्मिक यात्रियों के रुकने के लिए धर्मशाला भी जुड़ी हुई है।


श्री बांके बिहारी मन्दिर @Delhi Delhi

 श्री बांके बिहारी मंदिर 1981 से पंजाबी बाग में श्री वृंदावन बांके बिहारी भगवान की सच्ची प्रेरणादायक जीवन को जीवन्त कर रहा है।

श्री बांके बिहारी मंदिर 1981 से पंजाबी बाग में श्री वृंदावन बांके बिहारी भगवान की सच्ची प्रेरणादायक जीवन को जीवन्त कर रहा है।


कर्ण घाट मंदिर @Hastinapur Uttar Pradesh

कर्ण घाट मंदिर पर सूर्यपुत्र दानवीर कर्ण भगवान शिव की पूजा करने के पश्‍चात, सवामन सोना प्रतिदिन दान किया करते थे। मान्यता के अनुसार, उसी स्थान 2012 की दीपावली को शिवलिंग की पुनः स्थापना कर दी गयी है।

कर्ण घाट मंदिर पर सूर्यपुत्र दानवीर कर्ण भगवान शिव की पूजा करने के पश्‍चात, सवामन सोना प्रतिदिन दान किया करते थे। मान्यता के अनुसार, उसी स्थान 2012 की दीपावली को शिवलिंग की पुनः स्थापना कर दी गयी है।


द्रौपदी घाट मंदिर @Hastinapur Uttar Pradesh

द्रौपदी घाट मंदिर वह जगह है जहाँ रानी द्रौपदी स्नान के लिए आतीं थीं, और दैनिक पूजा किया करती थीं। आधुनिक भारत में पंडित जवाहरलाल नेहरू द्वारा कर्ण घाट के पास इस स्थान का नवीकरण कराया गया है।

द्रौपदी घाट मंदिर वह जगह है जहाँ रानी द्रौपदी स्नान के लिए आतीं थीं, और दैनिक पूजा किया करती थीं। आधुनिक भारत में पंडित जवाहरलाल नेहरू द्वारा कर्ण घाट के पास इस स्थान का नवीकरण कराया गया है।


श्री आदि शंकर विमान मंडपम @Prayagraj Uttar Pradesh

कांची कामकोटि पीठ की पहल पर बनाया गया। 130 फीट ऊँच द्रविड़ शैली में बनाया मंदिर।

कांची कामकोटि पीठ की पहल पर बनाया गया। 130 फीट ऊँच द्रविड़ शैली में बनाया मंदिर।


प्राचीन शिव शनि मंदिर @Noida Uttar Pradesh

नोएडा के सबसे पुराने शनि मंदिरों में से एक है यह प्राचीन शिव शनि मंदिर है। कुछ वर्षों के पश्चात मंदिर मे शिवलिंग की भी स्थापना की गई।

नोएडा के सबसे पुराने शनि मंदिरों में से एक है यह प्राचीन शिव शनि मंदिर है। कुछ वर्षों के पश्चात मंदिर मे शिवलिंग की भी स्थापना की गई।


श्री राम मंदिर @Bhimashankar Maharashtra

श्री राम मंदिर, भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग परिसर का सबसे निकटतम मंदिर है। तथा यह राम मंदिर ऐसे ही प्रतीत होता है मानो यह भगवान शिव ज्योतिर्लिंग परिसर का ही भाग हो।

श्री राम मंदिर, भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग परिसर का सबसे निकटतम मंदिर है। तथा यह राम मंदिर ऐसे ही प्रतीत होता है मानो यह भगवान शिव ज्योतिर्लिंग परिसर का ही भाग हो।


श्री शिव नवग्रह मंदिर धाम @Chandni Chowk New Delhi

श्री शिव नवग्रह मंदिर धाम, भगवान शिव की उपस्थिति के साथ नवग्रह को समर्पित है। मंदिर का एक मुख्य भाग शनि धाम के रूप मे श्री शनि महाराज जी को समर्पित है।

श्री शिव नवग्रह मंदिर धाम, भगवान शिव की उपस्थिति के साथ नवग्रह को समर्पित है। मंदिर का एक मुख्य भाग शनि धाम के रूप मे श्री शनि महाराज जी को समर्पित है।


श्री किलकारी भैरव नाथ मंदिर @ New Delhi

श्री किलकारी बाबा भैरव नाथ जी पांडवों कालीन मंदिर, बाबा भैरव नाथ जी को समर्पित हैं, जोकि भगवान शिव का एक उग्र अवतार माने जाते हैं।

श्री किलकारी बाबा भैरव नाथ जी पांडवों कालीन मंदिर, बाबा भैरव नाथ जी को समर्पित हैं, जोकि भगवान शिव का एक उग्र अवतार माने जाते हैं।


दूधिया भैरव नाथ मंदिर @ New Delhi

श्री दूधिया बाबा भैरव नाथ जी पांडवों कालीन मंदिर, बाबा भैरव नाथ जी को समर्पित है, जिन्हें भैरों तथा भैरव नाम से भी जाना जाता है।

श्री दूधिया बाबा भैरव नाथ जी पांडवों कालीन मंदिर, बाबा भैरव नाथ जी को समर्पित है, जिन्हें भैरों तथा भैरव नाम से भी जाना जाता है।


जगन्नाथ पुरी के विश्व प्रसिद्ध मंदिर!

पुरी भारत के चार धाम में से एक धाम है। जानिए, जगन्नाथ पुरी के शीर्ष प्रसिद्ध मंदिरों की सूची...

दिल्ली मे कहाँ मनारहे? जगन्नाथ रथ यात्रा

4 जुलाई 2019 के दिन बहु प्रतीक्षित जगन्नाथ रथयात्रा महोत्सव को दिल्ली वाले कहाँ-कहाँ माना रहे हैं। आइए जानें दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा, गुरूग्राम और फरीदाबाद के प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर...

भुवनेश्वर के विश्व प्रसिद्ध मंदिर!

उड़ीसा राज्य की राजधानी भुवनेश्वर, अपनी प्राचीन शिल्प कला को सजोए रखने के लिए प्रसिद्ध है। आइए जानें अन्य मंदिरों के वारे में...

भारत मे बिरला के प्रसिद्ध मंदिर!

बिड़ला मंदिर भारत के पुराने प्रमुख उद्योगपति बिड़ला परिवार द्वारा निर्मित हिंदू मंदिर हैं। बिड़ला मंदिरों की सूची निम्न प्रकार है...

दिल्ली के प्रसिद्ध श्री शनिदेव मंदिर

सूर्य देव के पुत्र श्री शनिदेव, नवग्रह के सदस्यों में से एक शनि ग्रह है। भक्त, साप्ताहिक दिन शनिवार को मुख्यतया इनकी पूजा-अर्चना करते हैं।

आरती: श्री गंगा मैया जी

ॐ जय गंगे माता श्री जय गंगे माता। जो नर तुमको ध्याता मनवांछित फल पाता॥ हर हर गंगे, जय माँ गंगे...

माता श्री गायत्री जी की आरती

जयति जय गायत्री माता, जयति जय गायत्री माता। सत् मारग पर हमें चलाओ, जो है सुखदाता॥

आरती: ॐ जय जगदीश हरे!

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे। भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥

भजन: कुमार मैने देखे, सुंदर सखी दो कुमार!

कुमार मैने देखे, सुंदर सखी दो कुमार। हाथों में फूलों का दौना भी सोहे, सुंदर गले में सोहे हार, कुमार मैने देखे...

मंगल गीत: हेरी सखी मंगल गावो री..

हेरी सखी मंगल गावो री, धरती अम्बर सजाओ री, चोख पुरावो, माटी रंगावो, आज मेरे पिया घर आवेंगे..

भजन: राम को देख कर के जनक नंदिनी, और सखी संवाद

राम को देख कर के जनक नंदिनी, बाग में वो खड़ी की खड़ी रह गयी। थे जनक पुर गये देखने के लिए...

🔝