close this ads

भजन: मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की।


नवदुर्गा, दुर्गा पूजा, नवरात्रि, नवरात्रे, नवरात्रि, माता की चौकी, देवी जागरण, जगराता, शुक्रवार दुर्गा तथा अष्टमी के शुभ अवसर पर गाये जाने वाला प्रसिद्ध व लोकप्रिय भजन।

मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की।
मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की।
जय जय संतोषी माता जय जय माँ॥
जय जय संतोषी माता जय जय माँ
जय जय संतोषी माता जय जय माँ

बड़ी ममता है बड़ा प्यार माँ की आँखों मे।
माँ की आँखों मे।
बड़ी करुणा माया दुलार माँ की आँखों मे।
माँ की आँखों मे।
क्यूँ ना देखूँ मैं बारम्बार माँ की आँखों मे।
माँ की आँखों मे।
दिखे हर घड़ी नया चमत्कार आँखों मे।
माँ की आँखों मे।
नृत्य करो झूम झूम, छम छमा छम झूम झूम,
झांकी निहारो रे॥

मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की।
मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की।
जय जय संतोषी माता जय जय माँ॥
जय जय संतोषी माता जय जय माँ
जय जय संतोषी माता जय जय माँ

सदा होती है जय जय कार माँ के मंदिर मे।
माँ के मंदिर मे।
नित्त झांझर की होवे झंकार माँ के मंदिर मे।
माँ के मंदिर मे।
सदा मंजीरे करते पुकार माँ के मंदिर मे।
माँ के मंदिर मे।
वरदान के भरे हैं भंडार, माँ के मंदिर मे।
माँ के मंदिर मे।
दीप धरो धूप करूँ, प्रेम सहित भक्ति करूँ,
जीवन सुधारो रे॥

मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की।
मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की।
जय जय संतोषी माता जय जय माँ॥
जय जय संतोषी माता जय जय माँ
जय जय संतोषी माता जय जय माँ

Read Also:
» आरती: जय सन्तोषी माता!
» नवरात्रि - Navratri | दुर्गा पूजा - Durga Puja
» दिल्ली के आस-पास माता के प्रसिद्ध मंदिर! | जानें दिल्ली के कालीबाड़ी मंदिरों के बारे मे!
» अम्बे तू है जगदम्बे काली | जय अम्बे गौरी | आरती माँ लक्ष्मीजी | आरती: श्री पार्वती माँ | आरती: माँ सरस्वती जी

English Version

Popular and famous bhajan used on the auspicious occasion of Navdurga, Durga Puja, Navratri, Navratri, Navratri, Mata ki Chauki, Devi Jagran, Jagrata, Friday, Durga and Ashtami.

Main To Aarti Utaron Re Santoshi Mata Ki।
Main To Aarti Utaron Re Santoshi Mata Ki।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।

Badi Mamata Hai Bada Pyar Maa Ki Aankhon Me।
Maa Ki Aankhon Me।
Badi Karuna Maya Dular Maa Ki Aankhon Me।
Maa Ki Aankhon Me।
Kyoon Na Dekhoon Main Barambar Maa Ki Aankhon Me।
Maa Ki Aankhon Me।
Dikhe Har Ghadi Naya Chamatkar Aankhon Me।
Maa Ki Aankhon Me।
Nraty Karo Jhoom Jhoom, Chham Chhama Chham Jhoom Jhoom,
Jhanki Niharon Re।

Main To Aarti Utaron Re Santoshi Mata Ki।
Main To Aarti Utaron Re Santoshi Mata Ki।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।

Sada Hoti Hai Jai Jai Kar Maa Ke Mandir Me।
Maa Ki Aankhon Me।
Nitt Jhanjhar Ki Hove Jhankar Maa Ke Mandir Me।
Maa Ki Aankhon Me।
Sada Manjeere Karate Pukar Maa Ke Mandir Me।
Maa Ki Aankhon Me।
Varadan Ke Bhare Hain Bhandar, Maa Ke Mandir Me।
Maa Ki Aankhon Me।
Deep Dharo Dhoop Karoon, Prem Sahit Bhakti Karoon,
Jeevan Sudharon Re।

Main To Aarti Utaron Re Santoshi Mata Ki।
Main To Aarti Utaron Re Santoshi Mata Ki।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।
Jai Jai Santoshi Mata Jai Jai Maa।

BhajanMaa Durga BhajanMata Bhajan


If you love this article please like, share or comment!

* If you are feeling any data correction, please share your views on our contact us page.
** Please write your any type of feedback or suggestion(s) on our contact us page. Whatever you think, (+) or (-) doesn't metter!

गुरु मेरी पूजा, गुरु गोबिंद, गुरु मेरा पारब्रह्म!

गुरु मेरी पूजा गुरु गोबिंद, गुरु मेरा पारब्रह्म, गुरु भगवंत, गुरु मेरा देव अलख अभेव...

ऐसे मेरे मन में विराजिये!

ऐसे मेरे मन में विराजिये, कि मै भूल जाऊं काम धाम, गाऊं बस तेरा नाम...

जैसे तुम सीता के राम...

जैसे तुम सीता के राम, जैसे लक्ष्मण के सम्मान, जैसे हनुमत के भगवान...

अमृत बेला गया आलसी सो रहा बन आभागा !

बेला अमृत गया, आलसी सो रहा, बन आभागा, साथी सारे जगे, तू न जागा...

मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...

मेंरो मन लग्यो बरसाने में, जहाँ विराजे राधा रानी, मन हट्यो दुनियाँदारी से, मन हट्यो दुनियाँदारी से...

हे रोम रोम मे बसने वाले राम!

हे रोम रोम मे बसने वाले राम, जगत के स्वामी, हे अन्तर्यामी, मे तुझ से क्या मांगूं।

जिसकी लागी रे लगन भगवान में..!

जिसकी लागी रे लगन भगवान में, उसका दिया रे जलेगा तूफान में।

भजमन राम चरण सुखदाई।

भज मन राम चरण सुखदाई॥ जिहि चरननसे निकसी सुरसरि संकर जटा समाई...

जय हो शिव भोला भंडारी!

जय हो शिव भोला भंडारी लीला अपरंपार तुम्हारी, लेके नाम, तेरा नाम, तेरे धाम आ गए,

तेरी मुरली की मैं हूँ गुलाम...

तेरी मुरली की मैं हूँ गुलाम, मेरे अलबेले श्याम। अलबेले श्याम मेरे मतवाले श्याम॥

^
top