मंदिर श्री खोले के हनुमान जी - Mandir Shri Khole Ke Hanuman Ji Coming Soon

मंदिर श्री खोले के हनुमान जी (Mandir Shri Khole Ke Hanuman Ji) is the great efforts of Shri Radhe Lal Chaube Ji on the old Ashram of Nirmal Dasji Maharaj.

प्रचलित नाम: खोले के हनुमान जी

समय - Timings

दर्शन समय
5:00 AM - 11:45 PM
8:30 AM: Morning Arati
9:00 PM: Sandhya Arati
9:30 PM: Sandhya Arati on Tuesday and Saturday
त्यौहार

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
मंदिर श्री खोले के हनुमान जी

मंदिर श्री खोले के हनुमान जी

मंदिर श्री खोले के हनुमान जी

मंदिर श्री खोले के हनुमान जी

मंदिर श्री खोले के हनुमान जी

मंदिर श्री खोले के हनुमान जी

मंदिर श्री खोले के हनुमान जी

मंदिर श्री खोले के हनुमान जी

जानकारियां - Information

मंत्र
॥ जय जय श्री राम, जय जय हनुमान ॥
धाम
YagyashalaAkhand DhuniMaa TulsiPeepal TreeVat Vriksh
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Drinking Water, Shose Store, Solar Panel, Sitting Benches, Fountain, Office, Jan Suvidha
धर्मार्थ सेवाएं
25+ Kitchens
संस्थापक
Shri Radhe Lal Chaube Ji
स्थापना
देख-रेख संस्था
Shri Natwar Ashram Sewa Samiti
महंत
समर्पित
Shri Hanuman Ji
वास्तुकला
प्राचीन दुर्ग शैली / Old Fort Style
फोटोग्राफी
🚫 नहीं (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

क्रमवद्ध - Timeline

1961

पंडित राधेलाल चौबे ने मंदिर के विकास के लिए नरवर आश्रम सेवा समिति की स्थापना की।

वीडियो - Video Gallery

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Laxman Doongri, Delhi Bypass Road, Jaipur Rajasthan - 302002 Jaipur Rajasthan
सड़क/मार्ग 🚗
Alwar-Jaipur Road >> Hanuman Mandir Marg
रेलवे 🚉
Jaipur
निर्देशांक 🌐
26.934124°N, 75.85373°E
मंदिर श्री खोले के हनुमान जी गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/khole-ke-hanumanji

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

श्री हनुमान जी आरती

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ आरती कीजै हनुमान लला की । दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥..

त्रिमूर्तिधाम: श्री हनुमान जी की आरती

जय हनुमत बाबा, जय जय हनुमत बाबा । रामदूत बलवन्ता..

श्री बालाजी आरती, ॐ जय हनुमत वीरा

ॐ जय हनुमत वीरा, स्वामी जय हनुमत वीरा। संकट मोचन स्वामी तुम हो रनधीरा॥

🔝