Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel
Hanuman Chalisa - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Durga Chalisa -

बाबा खाटू श्याम को आखिर गुलाब क्यों अर्पित करते हैं? (Why Devotees offer roses to Khatu Shyam?)

बाबा खाटू श्याम को आखिर गुलाब क्यों अर्पित करते हैं?
राजस्थान के सीकर में स्थित खाटू श्याम मंदिर में प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग बाबा श्याम के दर्शन के लिए आते हैं। हर दिन बाबा खाटू श्याम का विशेष श्रृंगार और आरती की जाती है। भक्त बाबा श्याम को गुलाब के फूल भी चढ़ाते हैं। बाबा खाटू श्याम को गुलाब के फूल क्यों चढ़ाए जाते हैं? आइये जानते हैं इसके पीछे की असली वजह।
सनातन धर्म में गुलाब के फूल को प्रेम का प्रतीक माना जाता है। जब भक्त बाबा श्याम को गुलाब के फूल अर्पित करते हैं। तब यह भक्त और भगवान के बीच प्रेम और अटूट विश्वास को प्रदर्शित करता है। इसके अलावा गुलाब का फूल चढ़ाते समय साधक अपनी गलतियों के लिए क्षमा मांगता है। बाबा श्याम को प्रसन्न करने और मनोकामना पूरी करने के लिए उन्हें गुलाब के फूल भी चढ़ाए जाते हैं।

मान्यता के अनुसार बाबा खाटू श्याम को गुलाब के फूल चढ़ाने से साधक की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं और बाबा श्याम साधक की सभी गलतियों को माफ कर देते हैं। धार्मिक मान्यता के अनुसार जो साधक बाबा श्याम के इस मंदिर में जाता है। उन्हें हर बार बाबा श्याम का एक अलग रूप देखने को मिलता है। कहा जाता है कि कभी-कभी इनके आकार में बदलाव भी देखा गया है।

Why Devotees offer roses to Khatu Shyam? in English

Every day special adornment and aarti of Baba Khatu Shyam is performed. Devotees also offer rose flowers to Baba Shyam.
यह भी जानें

News Baba Shyam NewsRose Flowers NewsShyam Nagari NewsPhalgun Month NewsKhatushyamji NewsSalasar Balaji Dham NewsRajasthan NewsSalasar NewsSujangarh NewsKhatu Ji NewsKhatu NewsBaba Shyam News

अगर आपको यह हिंदी न्यूज़ पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस हिंदी न्यूज़ को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

गर्मी के मौसम में रामलला को पहनाए गए शिबोरी हस्तकला से सुसज्जित वस्त्र

गर्मी के नौ दिन को देखते हुए प्रभु श्री रामलला की पोशाक में भी बदलाव किया गया है।

बाबा महाकाल का राजर्षि श्रृंगार किया गया मखाने की माला पहनाया गया

श्री महाकालेश्वर मंदिर में आज ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की षष्ठी तिथि पर बाबा महाकाल का राजसी स्वरूप में शृंगार किया गया।

श्री भागवत कथा, एमडी कॉलेज, सिरसागंज फिरोजाबाद

परम पूज्य आचार्य पदमचन्द्र उपाध्याय जी की ओजमयी वाणी में दिव्य श्रीमद भागवत कथा का श्रवण होगा। श्रीमद भागवत कथा प्रसारण यू टूब प्लेटफ़र्म पर किया जाता है।

लखीमपुर खीरी बालाजी मंदिर में बड़ा मंगल पर उमड़ें हजारों श्रद्धालु

लखीमपुर खीरी के महेवागंज में शारदा नगर बालाजी मंदिर का अपना विशेष महत्व है। आज ज्येष्ठ माह के बड़े मंगलवार को हजारों श्रद्धालु मंदिर पहुंचते हैं। दशकों से लोग अपने प्रिय हनुमान जी का आशीर्वाद लेने के लिए बड़ी संख्या में यहां आते रहे हैं।

इंदौर समाचार: खजराना महाकाल मंदिर में बनेगा जिगजैग कॉरिडोर

खजराना महाकाल मंदिर की तर्ज पर जिगजैग कॉरिडोर बनाया जाएगा। श्रद्धालुओं की भीड़ को नियंत्रित करने और दर्शन को आसान बनाने के लिए प्रशासन इस कॉरिडोर का निर्माण करेगा।

अयोध्या समाचार: रामनगरी धार्मिक पर्यटन का केंद्र बन गई है

अयोध्या समाचार: रामनगरी धार्मिक पर्यटन का केंद्र बन गई है। चार महीने में दो करोड़ भक्तों ने किए रामलला के दर्शन!

अगरतला बुद्ध मंदिर में बुद्ध पूर्णिमा मनाई गई

अगरतला बुद्ध मंदिर ने गुरुवार को एक विशेष प्रार्थना सभा के साथ बौद्ध धर्म का सबसे पवित्र दिन, 2568वां बुद्ध पूर्णिमा मनाया।

Hanuman Chalisa -
Ram Bhajan -
×
Bhakti Bharat APP