Download Bhakti Bharat APP

हम को मन की शक्ति देना - प्रार्थना (Hum Ko Mann Ki Shakti Dena)


हम को मन की शक्ति देना - प्रार्थना

हम को मन की शक्ति देना,
मन विजय करें ।
दूसरों की जय से पहले,
खुद को जय करें ।

भेदभाव अपने दिल से,
साफ कर सकें ।
दोस्तों से भूल हो तो,
माफ कर सकें ।
झूठ से बचे रहें,
सच का दम भरें ।
दूसरों की जय से पहले,
खुद को जय करें ।

हम को मन की शक्ति देना,
मन विजय करें ।
दूसरों की जय से पहले,
खुद को जय करें ।

मुश्किलें पड़े तो हम पे,
इतना कर्म कर ।
साथ दे तो धर्म का,
चलें तो धर्म पर ।
खुद पे हौसला रहे,
बदी से ना डरें ।
दूसरों की जय से पहले,
खुद को जय करें ।

हम को मन की शक्ति देना,
मन विजय करें ।
दूसरों की जय से पहले,
खुद को जय करें ।

हम को मन की शक्ति देना,
मन विजय करें ।
दूसरों की जय से पहले,
खुद को जय करें ।

Hum Ko Mann Ki Shakti Dena in English

Ham Ko Mann Ki Shakti Dena, Mann Vijai Karain। Dusaron Ki Jai Se Pahale, Khud Ko Jai Karain।
यह भी जानें

Bhajan Arya Samaj BhajanVed BhajanVedic BhajanHawan BhajanYagya BhajanMotivational BhajanMorning BhajanDainik BhajanDaily BhajanPrarthana BhajanVandana BhajanJain BhajanJainism BhajanSchool BhajanCollage BhajanGurukul BhajanInspirational BhajanShanti Dham BhajanPrayer Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

राघवजी तुम्हें ऐसा किसने बनाया: भजन

ऐसा सुंदर स्वभाव कहाँ पाया, राघवजी तुम्हें ऐसा किसने बनाया । पर नारी पर दृष्टि न ड़ाली..

भजन: मैं तो संग जाऊं बनवास, स्वामी..

मैं तो संग जाऊं बनवास, स्वामी ना करना निराश, पग पग संग जाऊं जाऊं बनवास...

राम ही पार लगावेंगे: भजन

अजी मैं तो राम ही राम भजूँ री मेरे राम, राम ही पार लगावेंगे..

भजन: ओ मईया तैने का ठानी मन में

ओ मईया तैने का ठानी मन में, राम-सिया भेज दये री बन में, दीवानी तैने का ठानी मन में...

दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी: भजन

दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी, इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन..

माँ की लाल रे चुनरिया, देखो लहर लहर लहराए: भजन

माँ की लाल रे चुनरिया, देखो लहर लहर लहराए, माँ की नाक की नथनिया, दमदम दमदम दमकी जाए, माँ की लाल रे चुनरियाँ, देखो लहर लहर लहराए ॥

दुःख की बदली, जब जब मुझ पे छा गई: भजन

दुःख की बदली, जब जब मुझ पे छा गई, सिंह सवारी करके, मैया आ गई, वो आ गई वो आ गई, वो आ गई मेरी माँ, दुख की बदली,
जब जब मुझ पे छा गई, सिंह सवारी करके, मैया आ गई ॥

Hanuman Chalisa
Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App