Hanuman ChalisaSawan 2022

राम जपते रहो, काम करते रहो: भजन (Ram Japate Raho, Kam Karte Raho)


राम जपते रहो, काम करते रहो: भजन

राम जपते रहो, काम करते रहो ।
वक्त जीवन का, यूँही निकल जायेगा ।
अगर लगन सच्ची, भगवन से लग जायेगी ।
तेरे जीवन का नक्शा, बदल जायेगा ।
राम जपते रहो, काम करते रहो ।

लाख चौरासी भ्रमण, किया दुख सहन ।
पाया मुश्किल से तब, एसा मानुष तन ।
राह चलते चलो कर किसी की नजर ।
पैर नाजुक है नीचे फिसल जायेगा ।
राम जपते रहो, काम करते रहो ।

कौल तूने किया, मैँ करूँगा वफ़ा ।
पर गया भूल कुछ, ना कमाया नफा ।
आके मस्ती में तू, मूलधन खा गया ।
आखिरी में तेरा, सर कुचल जायेगा ।
राम जपते रहो, काम करते रहो ।

खैर बीती जो, अब संभालो जरा ।
प्रेम गदगद हो, आँसू निकालो जरा ।
वो दया पात्र हरी का, भरो नीर से ।
भरते भरते एक दिन, छलक जायेगा ।
राम जपते रहो, काम करते रहो ।

छोड़कर छल कपट, मोह माया जतन ।
लौ प्रभू से लगाना, जगदम्बा शरण ।
मोम सा है ज़िगर, इन दयासिंधु का ।
असर पड़ते ही फौरन, पिघल जायेगा ।
राम जपते रहो, काम करते रहो ।

राम जपते रहो, काम करते रहो ।
वक्त जीवन का, यूँही निकल जायेगा ।
अगर लगन सच्ची, भगवन से लग जायेगी ।
तेरे जीवन का नक्शा, बदल जायेगा ।
राम जपते रहो, काम करते रहो ।

Ram Japate Raho, Kam Karte Raho in English

Ram Japte Raho, Kam Karte Raho । Waqt Jeevan Ka, Yunhi Nikal Jayega ।
यह भी जानें

Bhajan Shri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navmi BhajanSita Navami BhajanJanaki Jayanti BhajanSundarkand BhajanRamayan Path BhajanVijayadashami BhajanRam Sita Vivah BhajanShri Vishnu BhajanInspirational BhajanMorning BhajanDainik BhajanDaily BhajanPujya Rajan Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं - भजन

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं, राम नारायणं जानकी बल्लभम । कौन कहता हे भगवान आते नहीं..

वाक् देवी हे कलामयी हे सुबुद्धि सुकामिनी - भजन

वाक् देवी हे कलामयी हे सुबुद्धि सुकामिनी ज्ञान रूपे सुधि अनूपे हे सरस्वती नामिनी !...

कृष्ण भजन

जन्माष्टमी, राधाष्टमी, होली, भागवत कथा, गीता पाठ, कीर्तन, भजन संध्या मे प्रसिद्ध श्री कृष्ण भजन..

हे गोविन्द हे गोपाल अब तो जीवन हारे - भजन

हे गोविन्द हे गोपाल अब तो जीवन हारे । अब तो जीवन हारे प्रभु शरण है तिहारे..

खुल गया बैंक राधा, रानी के नाम का: भजन

खुल गया बैंक राधा, रानी के नाम का, बैठा बनके मैनेजर, कान्हा नंदगांव का, बैठा बनके मैनेजर, कान्हा नंदगांव का ॥

चले है भोला, सज धज के: भजन

भोला तन पे भस्म लगाये, मन में गौरा को बसाये, चले है भोला, सज धज के, संखिया मंगल गाती हैं, भूत प्रेत बाराती हैं ॥

भोला नही माने रे नहीं माने - भजन

भोला नही माने रे नहीं माने, मचल गए नचबे को, भोला नहीं माने रे नहीं माने, मचल गए नचबे को, डम डम डमरू बाजे प्यारी, नाच रहे भोले भंडारी, कैसे लहर लहर लगे लहराने, मचल गए नचबे को..

Hanuman ChalisaSavan 2022
Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App