श्याम के बिना तुम आधी: भजन (Shyam Ke Bina Tum Aadhi)


श्याम के बिना तुम आधी: भजन

श्याम के बिना तुम आधी,
तुम्हारे बिना श्याम आधे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे,
आठो पहर जो रहे अंग संग,
उस सांवरे की एक झलक,
दिखला दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ॥

मैं तो संवारे के रंग मे राजी,
बाँध घुँघरू भी पग मे नाची,
कैसो निष्ठुर भयो यशोदा का लाला,
बात मेरे ह्रदय की ना मानी,
अपनो के संग यूँ करते नहीं,
सांवरे को नेक* समझा दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ॥

छवि श्याम की बसाई लई चित मे,
खड़ी बाट निहारू नित्-नित् मैं,
श्याम के बिना मुझे कुछ नहीं सुझे,
श्याम के बिना जाऊ कित मैं,
कैसे बुझे प्यास नैनो की,
रास्ता कोई तो दिखला दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ॥

कही केशव कही पे कन्हैया,
कही नटवर रास रचैया,
मेरी भी नैय्या अटकी भँवर मे,
पार कर देना बनके खिवैया,
विनती मेरी भी इत्ती** सी,
बंसी बजैया तक पहुँचा दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ॥

श्याम के बिना तुम आधी,
तुम्हारे बिना श्याम आधे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ॥

आठो पहर जो रहे अंग संग,
उस सांवरे की एक झलक,
दिखला दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ॥
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ॥

* नेक: थोड़ा
** इत्ती: इतनी

Shyam Ke Bina Tum Aadhi in English

Shyam Ke Bina Tum Aadhi, Tumhare Bina Shyam Aadhe, Radhe Radhe Radhe Radhe
यह भी जानें

Bhajan Shri Krishna BhajanBrij BhajanBaal Krishna BhajanBhagwat BhajanJanmashtami BhajanLaddu Gopal BhajanRadhashtami BhajanShri Radha Krishna BhajanShri Radha Rani BhajanLakhbir Singh BhajanLakkha Bhajan

अन्य प्रसिद्ध श्याम के बिना तुम आधी: भजन वीडियो

श्याम के बिना तुम आधे राधे: Ram Kumar Lakkha From Chanda Cassettes

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

जय जय सुरनायक जन सुखदायक: भजन

जय जय सुरनायक जन सुखदायक प्रनतपाल भगवंता। गो द्विज हितकारी जय असुरारी सिधुंसुता प्रिय कंता ॥

राम नाम जपते रहो, जब तक घट घट मे प्राण

राम नाम जपते रहो, जब तक घट घट मे प्राण । राम भजो, राम रटो..

जिनके हृदय श्री राम बसे: भजन

जिनके हृदय श्री राम बसे, उन और को नाम लियो ना लियो । जिनके हृदय श्री राम बसे..

भजन: इतनी शक्ति हमें देना दाता

इतनी शक्ति हमें देना दाता, मनका विश्वास कमजोर हो ना..

भजन: मेरी झोपड़ी के भाग, आज खुल जाएंगे

मेरी झोपड़ी के भाग, आज खुल जाएंगे, राम आएँगे, राम आएँगे आएँगे..

जय श्री वल्लभ, जय श्री विट्ठल, जय यमुना श्रीनाथ जी।

जय श्री वल्लभ, जय श्री विट्ठल, जय यमुना श्रीनाथ जी । कलियुग का तो जीव उद्धार्या, मस्तक धरिया हाथ जी..

भजन: सूरज की गर्मी से जलते हुए तन को...

जैसे सूरज की गर्मी से जलते हुए तन को मिल जाये तरुवर की छाया, ऐसा ही सुख मेरे मन को मिला है...

🔝