close this ads

बधाई भजन: लल्ला की सुन के मै आयी यशोदा मैया देदो!


नवजात शिशु के जन्म बधाई की खुशी में यह गीत, भजन भारत मे बहुत लोकप्रिय हैं!

लल्ला की सुन के मै आयी यशोदा मैया देदो बधाई,
कान्हा की सुनके मै आयी यशोदा मैया देदो बधाई,
लाला जनम सुन आयी यशोदा मैया देदो बधाई।

देदो बधाई मैया देदो बधाई,
लल्ला की सुन के मै आयी यशोदा मैया देदो बधाई।

टीका भी लूँगी मैया, बिंदियां भी लूँगी,
रेशम की लूँगी रजाई यशोदा मैया देदो बधाई।

साड़ी भी लूँगी मैया, लहँगा भी लूँगी,
धोती भी लूँगी मैया, कुर्ता भी लूँगी,
पगडि की होगी चढ़ाई यशोदा मैया देदो बधाई।

हरवा भी लूँगी मैया, चुड़ि भी लूँगी,
कंगना पे होगी चढ़ाई यशोदा मैया देदो बधाई।

चन्द्र सखी भज, बाल कृष्ण छवि,
नित नित जाऊँ बलिहारी यशोदा मैया देदो बधाई।

Read Also
» दिल्ली मे कहाँ मनाएँ श्री कृष्ण जन्माष्टमी। | भोग प्रसाद
» श्री कृष्ण जन्माष्टमी - Shri Krishna Janmashtami
» दिल्ली और आस-पास के प्रसिद्ध श्री कृष्ण मंदिर। | जानें दिल्ली मे ISKCON मंदिर कहाँ-कहाँ हैं? | दिल्ली के प्रमुख श्री कृष्ण प्रणामी मंदिर।
» ब्रजभूमि के प्रसिद्ध मंदिर! | भारत के चार धाम
» आरती: श्री बाल कृष्ण जी | भोग आरती: श्रीकृष्ण जी

Available in English - Lalla Ki Sun Ke Mai Aayi Yashoda Maiya Dedo Badhai
[b]This song or bhajan is very popular in the Hindu community of India, during the celebration of ne

BhajanShri Krishna BhajanJanamashtmi BhajanNewborn BhajanBadhai Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

तू प्यार का सागर है...

तू प्यार का सागर है, तेरी एक बूँद के प्यासे हम। लौटा जो दिया तूने, चले जायेंगे जहां से हम...

भजन: सूरज की गर्मी से जलते हुए तन को...

जैसे सूरज की गर्मी से जलते हुए तन को मिल जाये तरुवर की छाया, ऐसा ही सुख मेरे मन को मिला है...

भजन: वैष्णव जन तो तेने कहिये, जे...

वैष्णव जन तो तेने कहिये, जे पीड परायी जाणे रे। पर दुःखे उपकार करे तो ये...

भजन: शरण में आये हैं हम तुम्हारी

शरण में आये हैं हम तुम्हारी, दया करो हे दयालु भगवन। सम्हालो बिगड़ी दशा हमारी...

भजन: क्षमा करो तुम मेरे प्रभुजी!

क्षमा करो तुम मेरे प्रभुजी, अब तक के सारे अपराध। धो डालो तन की चादर को...

मात अंग चोला साजे..

मात अंग चोला साजे, हर रंग चोला साजे, मात की महिमा देखो, ज्योत दिन रैना जागे...

सावन की बरसे बदरिया...

सावन की बरसे बदरिया, माँ की भीगी चुनरीया, भीगी चुनरिया माँ की...

तेरे दरबार मे मैया खुशी मिलती है!

तेरी छाया मे, तेरे चरणों मे, मगन हो बैठूं, तेरे भक्तो मे॥ तेरे दरबार मे मैया खुशी मिलती है...

मेरे मन के अंध तमस में...

मेरे मन के अंध तमस में, ज्योतिर्मय उतारो। जय जय माँ...

कभी फुर्सत हो तो जगदम्बे!

कभी फुर्सत हो तो जगदम्बे, निर्धन के घर भी आ जाना। जो रूखा सूखा दिया हमें...

^
top