close this ads

माँ ब्रह्माणी मंदिर


updated: Jul 03, 2018 08:35 AM About | Timing | Highlights | Donate | Photo Gallery | Video | How to Reach | Comments


माँ ब्रह्माणी मंदिर (Maa Brahmani Temple) - Naglataur Jaswant Nagar, Etawah, Uttar Pradesh - 206245

माँ ब्रह्माणी मंदिर (Maa Brahmani Temple) is the largest center of faith in Etawah, Ferozabad, Agra, Bhind, Gwalior, Mainpuri, Auraiya district and other adjoining areas, popular identity as Barmani. The Siddhapith temple is the construction with the help of first shilpi Vishvakarma, built with the entrance of 12 gates and nine grah. Nine wells are also established around the temple area. Know About Temple in Hindi

मुख्य आकर्षण

  • One of The Most Famous Mata Mandir in Firozanad, Mainpur and Etawah
  • 12 Gate, 9 Grah, Beesa Yantra Sthapit.

समय सारिणी

दर्शन समय
4:00 AM - 11:45 PM
आरती
8:00 AM, 7:00-8:00 PM
त्यौहार

हिन्दी मे जानें

इटावा, फिरोजाबाद, आगरा, भिण्ड, ग्वालियर, मैनपुरी, औरैया जनपद एवं अन्य आस-पास के क्षेत्र की आस्था का सबसे बड़ा केंद्र है यह सिद्धपीठ माँ ब्रह्माणी देवी मंदिर, यह जगह/मंदिर/ क्षेत्र स्वयं में ही बरमानी नाम से ही प्रसिद्ध है। मंदिर के गर्भग्रह का निर्माण बीसा यंत्र के साथ स्वयं आदि शिल्पी विश्वकर्मा जी ने द्वादश/12 द्वार तथा नौ ग्रहों की स्थापना के साथ निर्मित किया था। मंदिर क्षेत्र के आस-पास नौ कुएँ भी स्थापित हैं।

ऐसी मान्यता है कि यमुना नदी के पार्श्व में जसवंतनगर के बीहड़ों के बीच स्थित यह मंदिर आदिकालीन शक्ति पूजा का स्मरण कराता है। मंदिर की स्थापना के संबंध में विभिन्न मत हैं।
प्रचलित कहानी के अनुसार: महाराजा भदावर माता ब्रह्माणी को म्यांमार / बर्मा देश से एक शर्त पर लेकर आये थे। शर्त ये थी जिस जगह तुमने पीछे मुड़कर देखा में वही रुक जाऊंगी इसी जगह पर आकर राजा को एक आवाज सुनाई दी तो राजा ने पीछे मुड़कर देखा तो माता की मूर्ती ने विशाल रूप धारण कर लिया, और शर्त के अनुसार मंदिर का निर्माण महाराजा भदावर ने करवाया था। भदावर के राजा द्वारा मंदिर की स्थापना लगभग सन् 1500 के आस-पास हुई थी। आज भी भदावर क्षेत्र का शाही परिवार माता को अपनी कुल देवी मानता है, तथा समय-समय पर पूजा अर्चना करने आता रहिता है।

हिंदू कैलेंडर के अनुसार वर्ष में 3 बार चैत्र, अषाढ़, तथा अश्विन/क्वार के महीनों में मंदिर पर हर्षोल्लास एवं शांति के साथ विशाल मेले का आयोजन होता है। मुख्यतया चैत्र नवरात्रि में यहां अधिक भीड़ होती है। मेले में लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं माता के दर्शन करने आते हैं। माता ब्रह्माणी की कृपा से हज़ारों की संख्या में झंडा/नेजा चढ़ाए जाते हैं। पुलिस प्रशासन भी मेले की सुरक्षा हेतु सी सी टीवी कैमरे तथा अतिरिक्त सुरक्षा बल की मदद से पूरे मेले पर नजर रखता हैं।

वर्तमान में, मंदिर प्रांगण के साथ भगवान शिव तथा श्री हनुमंत लाल का मंदिर भी स्थापित है। भक्त माता के दर्शन हेतु विभिन्न प्रकार से माँ की पूजा-अर्चना करते हैं। कई बार लेट-लेट कर, तो कई बार किलोमीटर दूर पैदल चलकर देवी माँ को प्रसन्न करते हैं।

दान पात्र

किसी समय भदावर नरेश की प्रिय स्थली वर्तमान समय में जीर्णोद्धार के लिए तरस रही है, भक्तजनों से अनुरोध है कि मंदिर परिसर के रख-रखाव के लिए बढ़-चढ़ कर योगदान करें।

अधिक जानकारी के लिए मंदिर के महंत से संपर्क करें या हमें लिखें! BhaktiBharat.com@gmail.com

फोटो प्रदर्शनी

Photo in Full View
बीहड़ी क्षेत्र में ब्राह्मणी देवी की प्रतिमा

बीहड़ी क्षेत्र में ब्राह्मणी देवी की प्रतिमा

Maa Brahmani Temple

Mata Brahmani garbhgrah.

Mata Brahmani garbhgrah.

Shri Hanumant Lal in outer temple.

Shri Hanumant Lal in outer temple.

Shivalay in temple premises.

Shivalay in temple premises.

Main outer most entry gate.

Main outer most entry gate.

Maa Brahmani Temple

Maa Brahmani Temple

Maa Brahmani Temple

Maa Brahmani Temple

Maa Brahmani Temple

जानकारियां

प्रचलित नाम
बरमानी, बरमानी मंदिर, माँ ब्रह्माणी देवी मंदिर, Barmani, Barmani Mandir, Maa Brahmani Devi Mandir
धाम
Maa BrahmaniMata UmaMaa RamaMaa KaliMaa RudraniShri GaneshBaba Bhairav Nath
Shivling with GanShri Hanuman
YagyashalaMaa TulsiPeepal TreeBanana TreeVat Vriksh
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Drinking Water, Hand Pump, Shose Store, Solar Panel, Sitting Benches, Well
स्थापना
Satyug
समर्पित
Maa Brahmani Devi
फोटोग्राफी
Yes (It's not ethical to capture photograph inside the temple when someone engaged in worship! Please also follow temple`s Rules and Tips.)

वीडियो प्रदर्शनी

कैसे पहुचें

कैसे पहुचें
सड़क/मार्ग: Agra - Lucknow Expressway >> Balrai - Jaswantnagar Road >> Bramhani Devi Road
रेलवे: Balrai, Jaswantnagar, Etawah
नदी: Yamuna
पता
Naglataur Jaswant Nagar, Etawah, Uttar Pradesh - 206245
निर्देशांक
26.879316°N, 78.819381°E
माँ ब्रह्माणी मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/barmani

अगला मंदिर दर्शन

अपने विचार यहाँ लिखें

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

श्री सूर्य देव - जय जय रविदेव।

जय जय जय रविदेव जय जय जय रविदेव। रजनीपति मदहारी शतलद जीवन दाता॥

श्री सूर्य देव - ऊँ जय कश्यप नन्दन।

ऊँ जय कश्यप नन्दन, प्रभु जय अदिति नन्दन। त्रिभुवन तिमिर निकंदन, भक्त हृदय चन्दन॥

श्री सूर्य देव - ऊँ जय सूर्य भगवान।

ऊँ जय सूर्य भगवान, जय हो दिनकर भगवान। जगत् के नेत्र स्वरूपा, तुम हो त्रिगुण स्वरूपा।

^
top