Navratri
Chaitra Navratri Specials 2024 - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Hanuman Chalisa -

कौशांबी का अद्भुत गर्दभ मेला देश के कोने-कोने से पहुँचते हैं व्यापारी (Traders from every corner of the country reach the wonderful Gardabha Mela of Kaushambi)

कौशांबी का अद्भुत गर्दभ मेला देश के कोने-कोने से पहुँचते हैं व्यापारी
कड़ा में माता शीतला के दरबार में हर साल लगने वाला गर्दभ मेला सोमवार से शुरू हुआ। इस दो दिवसीय मेले में दूर-दूर से व्यापारी अपना सामान लेकर आ रहे हैं। कौशांबी के इस प्राचीन और अद्भुत मेले में देश के कोने-कोने से व्यापारी आते हैं। यहां गधे खरीदे और बेचे जाते हैं जिनकी संख्या लाखों में होती है। यहां आने वाले धोबी समुदाय के लोग अपने बच्चों का रिश्ता भी तय करते हैं।
दो दिवसीय मेला सोमवार और मंगलवार को लगेगा। यहां प्रतापगढ़, फतेहपुर, कानपुर, वाराणसी, रायबरेली के अलावा राजस्थान, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड से हजारों व्यापारी आते हैं। यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। यह मेला चैत्र माह की सप्तमी और अष्टमी को लगता है।

Traders from every corner of the country reach the wonderful Gardabha Mela of Kaushambi in English

The Gardabh mela, held every year in the court of Mata Shitala in Kada, started from Monday.
यह भी जानें

News Kaushambis Gardabh Mela NewsMata Shitala NewsMela Of Kaushambi NewsMaa Vaishno Devi Temple NewsShitala Devi NewsShitala Mata Mandir News

अगर आपको यह हिंदी न्यूज़ पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस हिंदी न्यूज़ को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

उज्जैन समाचार: भस्मारती में बाबा महाकाल का त्रिनेत्र श्रृंगार किया गया

चैत्र शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि पर विश्व प्रसिद्ध श्री महाकालेश्वर मंदिर में तड़के भस्म आरती के दौरान बाबा महाकाल का त्रिनेत्र और मुंड माला से श्रृंगार किया गया।

रामनवमी पर सूर्य की किरणों से होगा रामलला का तिलक

अयोध्या में रामनवमी पर सूर्य की किरणों से होगा रामलला का तिलक।

बिजासन देवी मंदिर मध्य प्रदेश: मन्नत पूरी होने पर माता को अर्पित किए जाते हैं पीतल के घंटे

बिजासन देवी मंदिर में मनोकामना पूरी होने पर माता को चढ़ाई जाती हैं पीतल की घंटियां।

राजस्थान जोधपुर: नवरात्रि के पहले दिन ईडाणा माता का अग्नि स्नान

राजस्थान के जोधपुर जिले के मेहरानगढ़ में ऐतिहासिक ईडाणा माता का मंदिर है। मां ईडाणा साल के दोनों नवरात्रि के दिनों में अग्नि स्नान करती हैं।

बाबा खाटू श्याम को आखिर गुलाब क्यों अर्पित करते हैं?

हर दिन बाबा खाटू श्याम का विशेष श्रृंगार और आरती की जाती है। भक्त बाबा श्याम को गुलाब के फूल भी चढ़ाते हैं।

गर्मी से बचने के लिए रामलला पांच बार सोने की कटोरी में मधुपर्क ले रहे हैं

गर्मी के मौसम को देखते हुए रामलला के प्रसाद में मधुपर्क को शामिल कर लिया गया है।

चैत्र नवरात्रि पर सुगम विंध्याचल दर्शन

चैत्र नवरात्रि में मां विंध्यवासिनी के कपाट 24 घंटे खुले रहेंगे और आरती के समय मंदिर बंद रहेगा।

Hanuman Chalisa -
Hanuman Chalisa -
×
Bhakti Bharat APP