मेरे राम इतनी किरपा करना, बीते जीवन तेरे चरणों में: भजन (Mere Ram Itni Kripa Karna Beete Jeevan Tere Charno Me)


मेरे राम इतनी किरपा करना, बीते जीवन तेरे चरणों में: भजन

मेरे राम इतनी किरपा करना,
बीते जीवन तेरे चरणों में ॥

मेरे राम मेरे घर आ जाना,
शबरी के बेर तुम खा जाना,
मुझे दर्शन अपने दिखा जाना,
मुझे मुक्ति मिले अपने कर्मो से,
मेरे राम इतनी कीरपा करना,
बीते जीवन तेरे चरणों में ॥

जब जनम लूँ मैं तेरी दासी बनु,
तेरी सेवा करूँ सन्यासी बनु,
हर जनम में मैं तेरी पूजा करूँ,
ना करना विमुख मेरे धर्मो से,
मेरे राम इतनी कीरपा करना,
बीते जीवन तेरे चरणों में ॥

बस इतनी हमपे दया करना,
नाम तेरा भजे मेरा मनवा,
नहीं दूर कभी हो तेरी सूरत,
प्रभु आन बसों मेरे नयनो में,
मेरे राम इतनी कीरपा करना,
बीते जीवन तेरे चरणों में ॥

भटके जब जीवन की नैया,
प्रभु पार लगाना बनके खिवैया,
जब दिखे ना कही मुझे उजियारा,
ले लेना अपने चरणों में,
मेरे राम इतनी कीरपा करना,
बीते जीवन तेरे चरणों में॥

मेरे राम इतनी किरपा करना,
बीते जीवन तेरे चरणों में ॥

Mere Ram Itni Kripa Karna Beete Jeevan Tere Charno Me in English

Mere Ram Itni Kirpa Karna, Beete Jeevan Tere Charnon Mein ॥
यह भी जानें

Bhajan Shri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navmi BhajanSita Navmi BhajanHanuman Janmotsav BhajanRam Mandir Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

संकट के साथी को हनुमान कहते हैं: भजन

दुनिया के मालिक को भगवान कहते हैं, संकट के साथी को हनुमान कहते हैं॥

उड़े उड़े बजरंगबली, जब उड़े उड़े - भजन

उड़े उड़े बजरंगबली, जब उड़े उड़े, हनुमान उड़े उड़ते ही गये, सब देख रहे है..

झुमर झलके अम्बा ना, गोरा गाल पे रे: भजन

ऐ भई रे भई रे, ढोलीड़ा तने विनवु रे, म्हारी माता सारू, ढोल वगाडजो रे, झुमर झलके अम्बा ना, गोरा गाल पे रे ॥

मिश्री से भी मीठा नाम तेरा: भजन

मिश्री से भी मीठा नाम तेरा, तेरा जी मैया, ऊँचे पहाड़ो पर डेरा डेरा जी, तेरा मंदर सुनहरी शेरावालिये ॥

मन के मंदिर में प्रभु को बसाना: भजन

मन के मंदिर में प्रभु को बसाना, बात हर एक के बस की नहीं है, खेलना पड़ता है जिंदगी से, भक्ति इतनी भी सस्ती नहीं है ॥

नन्द बाबा के अंगना देखो बज रही आज बधाई: भजन

नन्द बाबा के अंगना देखो, बज रही आज बधाई, नगाड़ा जोर से बजा दे, मैं नृत्य करन को आई, नगाड़ा जोर से बजा दे, मैं नृत्य करन को आई ॥

शिव समा रहे मुझमें: भजन

शिव समा रहे मुझमें, और मैं शुन्य हो रहा हूँ, शिव समा रहे मुझमें..

मंदिर

Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel