नगरी हो अयोध्या सी, रघुकुल सा घराना हो (Nagri Ho Ayodhya Si, Raghukul Sa Gharana Ho)


नगरी हो अयोध्या सी, रघुकुल सा घराना हो

नगरी हो अयोध्या सी,
रघुकुल सा घराना हो ।
और चरण हो राघव के,
जहाँ मेरा ठिकाना हो ॥

हो त्याग भारत जैसा,
सीता सी नारी हो ।

नगरी हो अयोध्या सी,
रघुकुल सा घराना हो ।
और चरण हो राघव के,
जहाँ मेरा ठिकाना हो ॥

श्रद्धा हो श्रवण जैसी,
शबरी सी भक्ति हो ।

नगरी हो अयोध्या सी,
रघुकुल सा घराना हो ।
और चरण हो राघव के,
जहाँ मेरा ठिकाना हो ॥

मेरी जीवन नैया हो,
प्रभु राम खेवैया हो ।

नगरी हो अयोध्या सी,
रघुकुल सा घराना हो ।
और चरण हो राघव के,
जहाँ मेरा ठिकाना हो ॥

सरयू का किनारा हो,
निर्मल जल धारा हो ।

नगरी हो अयोध्या सी,
रघुकुल सा घराना हो ।

कौशल्या सी माई हो,
लक्ष्मण सा भाई ।
और स्वामी तुम्हारे जैसा,
मेरा रघुराई हो ॥

नगरी हो अयोध्या सी,
रघुकुल सा घराना हो ।

श्रद्धा हो श्रवण जैसी,
शबरी सी भक्ति हो ।
हनुमान के जैसे निष्ठा,
और शक्ती हो ॥

और चरण हो राघव के,
जहाँ मेरा ठिकाना हो ॥

Nagri Ho Ayodhya Si, Raghukul Sa Gharana Ho in English

Nagri Ho Ayodhya Si, Raghukul Sa Gharana Ho । Aur Charan Ho Raghav Ke
यह भी जानें

Bhajan Shri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navmi BhajanSundarkand BhajanRamayan Path BhajanVijayadashami BhajanMata Sita BhajanRam Sita Vivah BhajanAyodhya BhajanRam Mandir BhajanJanmbhoomi BhajanRam Janmbhoomi BhajanTripti Shaqya Bhajan

अन्य प्रसिद्ध नगरी हो अयोध्या सी, रघुकुल सा घराना हो वीडियो

नगरी हो अयोध्या सी, रघुकुल सा घराना हो - देवी हेमलता शास्त्री जी

नगरी हो अयोध्या सी - Maithili Thakur, Rishav Thakur, Ayachi Thakur

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली: भजन

राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली। कृष्ण नाम के हीरे मोती...

ले चल अपनी नागरिया, अवध बिहारी साँवरियाँ: भजन

ले चल अपनी नागरिया, अवध बिहारी साँवरियाँ । लें चल अपनी नागरिया ।..

भोले के कांवड़िया मस्त बड़े मत वाले हैं: भजन

चली कांवड़ियों की टोली, सब भोले के हमजोली, गौमुख से गंगाजल वो लाने वाले हैं।

बैल दी सवारी कर आया हो: भजन

बैल दी सवारी कर आया हो, मेरा भोला भंडारी, भोला भंडारी मेरा शम्भू जटाधारी,

मेरे सोये भाग जगा भी दो: भजन

मेरे सोये भाग जगा भी दो, शिव डमरू वाले, शंकर भोले भाले ।..

शंकर के द्वारे चले काँवरिया: भजन

शंकर के द्वारे चले काँवरिया, भोले के प्यारे चले काँवरिया..

भोले तेरी कृपा से युग आते युग जाते है: भजन

भोले तेरी कृपा से, युग आते युग जाते है, युगो युगो से ब्रह्मा विष्णु

🔝