प्रभु हम पे कृपा करना, प्रभु हम पे दया करना: भजन (Prabhu Humpe Daya Karna)


प्रभु हम पे कृपा करना, प्रभु हम पे दया करना: भजन

प्रभु हम पे कृपा करना,
प्रभु हम पे दया करना ।
बैकुंठ तो यही है,
हृदय में रहा करना ॥

गूंजेगे राग बन कर,
वीणा की तार बनके,
प्रगटोगे नाथ मेरे,
ह्रदय में प्यार बनके ।
हर रागिनी की धुन पर,
स्वर बन कर उठा करना,
बैकुंठ तो यही है,
हृदय में रहा करना ॥

प्रभु हम पे कृपा करना,
प्रभु हम पे दया करना ।
प्रभु हम पे कृपा करना,
प्रभु हम पे दया करना ।
बैकुंठ तो यही है,
हृदय में रहा करना ॥

नाचेंगे मोर बनकर,
हे श्याम तेरे द्वारे,
घनश्याम छाए रहना,
बनकर के मेघ कारे ।
बनकर के मेघ कारे ।
अमृत की धार बनकर,
प्यासों पे दया करना,
बैकुंठ तो यही है,
हृदय में रहा करना ॥

प्रभु हम पे कृपा करना,
प्रभु हम पे दया करना ।
प्रभु हम पे कृपा करना,
प्रभु हम पे दया करना ।
बैकुंठ तो यही है,
हृदय में रहा करना ॥

तेरे वियोग में हम,
दिन रात हैं उदासी,
अपनी शरण में लेलो,
हे नाथ ब्रज के वासी ।
हे नाथ ब्रज के वासी ।
तुम सो हम शब्द बन कर,
प्राणों में रमा करना,
बैकुंठ तो यही है,
हृदय में रहा करना ॥

प्रभु हम पे कृपा करना,
प्रभु हम पे दया करना ।
प्रभु हम पे कृपा करना,
प्रभु हम पे दया करना ।
बैकुंठ तो यही है,
हृदय में रहा करना ॥

Prabhu Humpe Daya Karna in English

Prabhu Humpe Daya Karna, Kripa Karna Daya Karna। Vaikunth Too Yahi Hai...
यह भी जानें

Bhajan Shri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navmi BhajanSundarkand BhajanRamayan Path BhajanVijayadashami BhajanMata Sita BhajanRam Sita Vivah BhajanShri Vishnu BhajanShri Krishna BhajanBrij BhajanBaal Krishna BhajanBhagwat BhajanJanmashtami Bhajan Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

शंकर शिव शम्भु साधु सन्तन सुखकारी: भजन

शंकर शिव शम्भु साधु सन्तन सुखकारी॥ निश दिन सिमरन करते, नाम पुण्यकारी॥

मन मेरा मंदिर, शिव मेरी पूजा: भजन

ॐ नमः शिवाय, सत्य है ईश्वर, शिव है जीवन, सुन्दर यह संसार है। तीनो लोक हैं तुझमे, तेरी माया अपरम्पार है॥

शिव अद्भुत रूप बनाए: भजन

शिव अद्भुत रूप बनाए, जब ब्याह रचाने आए। भुत बेताल थे..

हे शिव शंकर परम मनोहर: भजन

हे शिव शंकर परम मनोहर सुख बरसाने वाले, दुःख टालते भव से तार ते शम्भू भोले भाले..

दानी बड़ा ये भोलेनाथ, पूरी करे मन की मुराद!

दानी बड़ा ये भोलेनाथ, पूरी करे मन की मुराद, देख ले माँग के माँग के...

महल को देख डरे सुदामा: भजन

महल को देख डरे सुदामा, का रे भई मोरी राम मड़ईया, कहाँ के भूप उतरे..

अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो: भजन

अरे द्वारपालों कहना से कह दो, दर पे सुदामा गरीब आ गया है।

मंदिर

🔝