चूरमा के लड्‍डू बनाने की विधि (Churma Ke Laddu Recipe)

चूरमा के लड्‍डू बनाने की विधि

बनाने की विधि:
एक सकरे बर्तन (परात) में गेहूं का आटा व सूजी मिला लेते हैं। अब इस आटे को पिघले हुए घी में डाल कर अच्छी तरह से मिला लेते हैं। जब आटे में घी मिल जाए तब इसमें थोड़ा सा दूध को डालकर सख्त आटा गूंथ कर तैयार कर लेते हैं। और एक घंटे के लिए आटे को अच्छी तरह ढक कर रख देते हैं। एक घंटे के बाद गुंदे आटे में से एक नीबू के आकर के बराबर की लोइयां तोड़ लेते हैं।

और इन लोइयों को दोनों हाथों की हथेलियों के बीच मे रख कर दवा कर चपटा कर लेते हैं। एक कढ़ाई में घी डाल कर धीमी आंच पर हल्का गर्म होने के बाद इसमें लोइयों को डाल कर तल लेते हैं। जब ये लोइयां दोनों तरफ सुनहरी हो जाए तब इनको एक थाली निकाल लेते हैं और ठंडा होने देते हैं।

ठंडी हो जाने के बाद इन लोइयों को टुकड़ों में तोड़ कर मिक्सर में डाल कर बारीक पीस लेते हैं और चूरमा को एक छलनी की सहायता से छान लेते हैं। जब सारा चूरमा बन जाए तब इस चूरमा को एक कढ़ाई में धीमी आंच पर घी डाल कर कलछी से चलाते हुए थोड़ा और भून लेते हैं।
भून जाने के बाद इसको एक बर्तन में निकाल कर उसमें बूरा, काजू के टुकड़े (अन्य मेवा) व इलाइची पाउडर डाल कर अच्छी तरह मिला लेते हैं। अब इस मिश्रण से हाथों की सहायता से लड्डू बना लेते हैं। इस प्रकार भोग के लिए चूरमा के लड्‍डू तैयार हो जाते हैं।

आवश्यक सामग्री:
गेहूं का आटा, सूजी, घी, दूध, बूरा(तगार**)
काजू, इलाइची, अन्य मेवा

संबंधित अन्य नाम:
चूरमा लडवा, राजस्‍थानी चूरमा लड्‍डू

** तगार: बूरा ना मिलने की कंडीशन में, तगार का प्रयोग किया जा सकता है।

Churma Ke Laddu Recipe in English

Mix wheat flour and Semolina / Suji in a hot pan.

Bhog-prasad Laddu Bhog-prasadChurma Ke Ladoo Bhog-prasad

अगर आपको यह bhog-prasad पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस bhog-prasad को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

सूजी का हलवा बनाने की विधि

भोग लगाने के लिए सूजी का हलवा तैयार करने के सरल विधि...

पोड़ पीठा भोग

पोड पिठा एक ऐसा स्वादिष्ट भोग है जो भगवान जगन्नाथ का सबसे पसंदीदा व्यंजन है।

मूंग दाल खिचड़ी बनाने की विधि

मकर संक्रांति पर यही मूँग दाल की खिचड़ी बनाई जाती है। बृजभूमि एवं उत्तर भारत के मंदिरों मे यह खिचड़ी बहुत प्रसिद्ध है।

पंचामृत बनाने की विधि

हिंदू / जैन समाज में पूजा के बाद पंचामृत प्रसाद के रूप में दिया जाता है। आइये जानते हैं! रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाने मे सहायक पंचामृत बनाने की सरल विधि..

सिंघाड़े का हलवा बनाने की विधि

सिंघाड़े का हलवा बन कर तैयार हो जाता है। कतलियों को अपने स्वादानुसार काजू अथवा बादाम 1-1 चम्मच से सजा लेते हैं।

गाजर का हलवा बनाने की विधि

कटे हुए मेवे में से कुछ मेवे गाजर का हलवा को सजाने के लिए बचा लेते हैं।...

सूजी की खीर बनाने की विधि

सूजी की खीर बनाते समय यह ध्यान अवश्य रखना चाहिए। कि बनाते समय खीर को चमचे की सहायता से थोड़ी-थोड़ी देर में अवश्य चलाते रहें।

🔝