सीता नवमी | वट सावित्री व्रत | आज का भजन! | भक्ति भारत को फेसबुक पर फॉलो करें!

सूजी का हलवा बनाने की विधि


सूजी का हलवा बनाने की विधि

बनाने की विधि:
सबसे पहले एक भारी तली वाली कढ़ाई में घी डालकर मध्यम आंच पर पिघला लेते हैं। अब इस में सूजी को लगातार कलछी से चलाते हुए गुलाबी(गोल्डन ब्राउन) होने तक भून लेते हैं। और फिर उसके बाद आंच को धीमा कर लेते हैं।

भुनी हुई सूजी में पानी व चीनी डाल कर कलछी से चलाते रहते हैं। जब हलवा में चीनी घुल जाए और मिश्रण गाढ़ा हो जाए तब इसमें कटी हुई मेवा (काजू , बादाम , किसमिस व अन्य मेवा) डाल कर अच्छी तरह मिला देते हैं। अब हलवा में दो तीन चम्मच घी डालकर कर अच्छी तरह मिला लेते हैं, जिससे हलवा रवादार व चमकदार हो जाता है। अब हलवा में इलाइची पाउडर डाल कर मिला लेते हैं। गैस को बन्द कर देते हैं। तथा हलवे को अन्य बर्तन में निकाल लेते हैं इस प्रकार भोग लगाने के लिए सूजी का हलवा तैयार हो जाता है।

आवश्यक सामग्री:
सूजी, घी, चीनी, पानी
काजू, बादाम, किसमिस, इलाइची

Available in English - Suji Ka Halwa Recipe
Firstly, put a ghee in a pan and melt it in a medium flame...
ये भी जानें

Bhog-prasadSuji Halwa Bhog-prasadNavratri Bhog-prasad


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

पंचामृत बनाने की विधि

हिंदू समाज में पूजा के बाद पंचामृत प्रसाद के रूप में दिया जाता है। आइये जानते हैं! पंचामृत बनाने की सरल विधि..

सूजी का हलवा बनाने की विधि

भोग लगाने के लिए सूजी का हलवा तैयार करने के सरल विधि...

मूंग दाल के मगौड़े बनाने की विधि

...डार्क ब्राउन हो जाने के बाद उन्हें एक प्लेट में निकाल लेते हैं इसी प्रकार मिश्रण से सारे मगौड़े बना लेते हैं।

तिल-गुड़ के लड्डू बनाने की विधि

...जब मिश्रण हल्का गरम हो तभी लड्डू बना लें ठंडा होने पर लड्डू नहीं बन पाएँगे।

साबूदाना खिचड़ी बनाने की विधि

साबूदाना को एक बर्तन में साफ पानी में डाल कर निकाल लेते है धुले हुए साबूदानों को आधा कप पानी डाल कर ५ से६ घंटे के लिए भिगोने रख देते हैं...

बाजरा की मङियाँ बनाने की विधि

...गूथे हुए आटे की टिक्की बना कर तैयार कर लेते हैं। इस प्रकार एक बार में तीन से चार टिक्की एक कढ़ाई में तली जा सकती हैं।

अनरसे बनाने की विधि

...अनरसे को तलने के लिए घी न ज्यादा गरम हो और न ज्यादा ठंडा।

रस खीर बनाने की विधि

...भारत के कुछ जगहों पर, रस खीर को दूध के साथ मिलाकर भी बनाया जाता है।

मीठे पुआ बनाने की विधि

जब घी अच्छी तरह गरम हो जाए* तब हाथ से पांच छह पुआ गरम घी में डाल देते हैं...

close this ads
^
top