सीता नवमी | वट सावित्री व्रत | आज का भजन! | भक्ति भारत को फेसबुक पर फॉलो करें!

श्री राम मनोकामना सिद्ध हनुमान मंदिर - Shri Ram Manokamna Siddh Hanuman Mandir


updated: Oct 23, 2016 23:08 PM बारें में | समय सारिणी | फोटो प्रदर्शनी | कैसे पहुचें | कॉमेंट्स


श्री राम मनोकामना सिद्ध हनुमान मंदिर (Shri Ram Manokamna Siddh Hanuman Mandir) - Yamuna Bazar, New Delhi - 110006 Delhi Delhi

Deep follower of Shri Ram Bhakt Bajrang Bali Maharaj, first Guru Swami Tulsidas Ji Maharaj dedicated himself to his inspiration श्री राम मनोकामना सिद्ध हनुमान मंदिर (Shri Ram Manokamna Siddh Hanuman Mandir). Near Neeli Chatri Mandir, gate no 2 Salimgarh Fort, on the banks of the River Yamuna.

Temple History

According to legend, the Mughal ruler Aurangzeb said to Mahant Swami Tulsidas Maharaj to show any miracle. Tulsi Das Ji said that I do not know about miracles, and it is just something that can Bajrangbali pleased. Emperor`s army put him in the prison. Suddenly a flock of monkeys began to trouble the Mughal emperor, Aurangzeb upset and wanted to know the cause of the incident. It is communicated, you or your soldiers suffered a Hanuman devotee.

So Swami Tulsidas Maharaj released with respect after emperor`s commanded. Tulsidas abbot took the statue of Hanuman via gate No. 2 of the fort, and placed Shri Hanuman statue with the edge of the river Yamuna. Since then, this place was dear to pious wishes Hanuman devotees.

ये भी जानें

समय सारिणी

दर्शन समय
5:00 AM - 12:30 AM, 4:00 PM - 10:00 PM
आरती
Summer: 8:00 AM, 8:00 PM
Winter: 8:00 AM, 8:00 PM

History in Hindi

पौराणिक कहानी के अनुसार, महंत स्वामी तुलसीदास जी महाराज को मुगल शासक औरंगज़ेब ने कोई चमत्कार दिखाने के लिए कहा। पर तुलसी दास जी बोले, कि मुझे कोई चमत्कार नही आता है, बस बजरंगबली की कृपा है और वो ही कुछ कर सकते हैं। और मुगल शासक की सेना ने उनको बंदीग्रह मे डाल दिया। अचानक से मुगल शासक को बंदरों का झुंड परेशान करने लगा, परेशान होकर औरंगज़ेब ने इस सब घटना का कारण जानना चाहा तो बताया गया, आपने या आपके सैनिकों ने किसी हनुमान भक्त को बहुत पीड़ा दी है।

अतः मुगल शासक ने स्वामी तुलसीदास महाराज को स-सम्मान छोड़ने की आज्ञा दी। महंत तुलसीदास हनुमान जी के मूर्ति साथ लेकर, किले के दरवाजे नंबर 2 से निकले ,और उसी के सामने यमुना किनारे हनुमान जी को स्थापित की। तभी से ये जगह पवित्र मनोकामना हनुमान भक्तों के लिए प्रिय हो गई।

फोटो प्रदर्शनी

Photo in Full View
Entry view of temple with two of shikhar and green view along with peepal tree

Entry view of temple with two of shikhar and green view along with peepal tree

Eighth generation of sadhu or peethadhish dedicated to Lord Hanuman

Eighth generation of sadhu or peethadhish dedicated to Lord Hanuman

Metro track on river Yamuna and  Shastri Park Metro station is visible with this location.

Metro track on river Yamuna and Shastri Park Metro station is visible with this location.

Ocher colored temple shikars are located on bank of river Yamuna attached with ring road.

Ocher colored temple shikars are located on bank of river Yamuna attached with ring road.

जानकारियां

धाम
Left-Righ: Maa SheetalaShri Radha KrishnaShri Ram FamilyMaa KaliMaa SantoshiMaa SarswatiShivling with GanShri Shani MaharajNavgrah DhamShri Ganpati DhamSamadhi Five Guru JiYagyashalaBaba Ram jeevan JiShri Manokamna Hanuman Ji
Maa TulsiPeepal Tree
बुनियादी सेवाएं
Drinking Water, Prasad, Shoe Store
संस्थापक
Swami Tulsidas Ji Maharaj
स्थापना
Around 1700
समर्पित
Lord Hanuman
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

कैसे पहुचें

कैसे पहुचें
मेट्रो: Chandni Chowk, Kashmere Gate, Shastri Park | क्या संभव है? दिल्ली मेट्रो से मंदिर दर्शन...
सड़क/मार्ग: Srinagar - Kanyakumari highway >> Mahatma Gandhi Road (Ring Road) >> Grand Trunk Road
पता
Yamuna Bazar, New Delhi - 110006 Delhi Delhi
निर्देशांक
28.662815°N, 77.241341°E
श्री राम मनोकामना सिद्ध हनुमान मंदिर - Shri Ram Manokamna Siddh Hanuman Mandir गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/manokamna-siddh-hanuman-yamuna-bazar

अगला मंदिर दर्शन

अपने विचार यहाँ लिखें

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती: श्री हनुमान जी

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ वातात्मजं वानरयुथ मुख्यं, श्रीरामदुतं शरणम प्रपद्धे॥

आरती: श्री बालाजी

ॐ जय हनुमत वीरा, स्वामी जय हनुमत वीरा। संकट मोचन स्वामी तुम हो रनधीरा॥

आरती: श्री बाल कृष्ण जी

आरती बाल कृष्ण की कीजै, अपना जन्म सफल कर लीजै। श्री यशोदा का परम दुलारा...

close this ads
^
top