शक्तिपीठ मंदिर - Shaktipeeth Mandir

विशाल प्रांगण के साथ आधुनिक सुविधाओं से समृद्ध माँ दुर्गा के इस मंदिर को शक्तिपीठ मंदिर के नाम से जाना जाता है। मंदिर के बिल्कुल ही सामने, मुख्य सड़क के दूसरी ओर गीता गायत्री धाम भी स्थित है।

गुरुग्राम के हुडा सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन से यह मंदिर 2 किलोमीटर दूर स्थित है, जहाँ आर्य समाज रोड से होते हुए मंदिर तक पहुँचा जा सकता है। आर्य समाज रोड से आते हुए मंदिर से एक किलोमीटर पहिले, रास्ते मे ही गुरुग्राम के प्राचीनतम मंदिरों मे से एक, श्री मोहन कुंड राधा कृष्ण मंदिर के भी दर्शन किए जासकते हैं

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

  • आधुनिक सुविधाओं से संपन्न माँ दुर्गा मंदिर।
  • नवग्रह धाम के लिए भी प्रसिद्ध मंदिर।

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

जानकारियां - Information

धाम
Shri Panchmukhi HanumanSalasar BalajiShri GaneshShri Sai MaharajShri Ram DarwarMaa DurgaShri Radha KrishnaPanch Mukhi Satyeshwar Mahadev
Navgrah DhamShani MaharajYagyashala
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Flower Shop, RO Water, Water Cooler, Satsang Hall, AC Hall, Power Backup, Shoe Store, Washrooms, CCTV Security, Sitting Benches, Music System, Office, Garden, Kund
धर्मार्थ सेवाएं
सामुदायिक भवन, चिकित्सा केंद्र
समर्पित
माँ दुर्गा
फोटोग्राफी
🚫 नहीं (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

क्रमवद्ध - Timeline

2013

हनुमान धाम एवं शिवालय की स्थापना वर्ष।

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
South City I, Sector 40 Gurugram Haryana
सड़क/मार्ग 🚗
Arya Samaj Road >> Shrimati Santhosh Yadav Road
रेलवे 🚉
Gurgaon Railway Station
हवा मार्ग ✈
Indira Gandhi International Airport, New Delhi
निर्देशांक 🌐
28.454478°N, 77.058121°E
शक्तिपीठ मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/shaktipeeth-mandir-gurugram

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती: ॐ जय जगदीश हरे!

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे। भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥

आरती: श्री हनुमान जी

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ वातात्मजं वानरयुथ मुख्यं, श्रीरामदुतं शरणम प्रपद्धे॥

आरती: श्री शनि - जय शनि देवा

जय शनि देवा, जय शनि देवा, जय जय जय शनि देवा। अखिल सृष्टि में कोटि-कोटि जन करें तुम्हारी सेवा।

🔝