श्री कुबेर अष्टोत्तर शतनामावली - 108 नाम (Shri Kuber Ashtottara Shatanamavali - 108 Names)


ॐ कुबेराय नमः ॥
ॐ धनदाय नमः ॥
ॐ श्रीमाते नमः ॥
ॐ यक्षेशाय नमः ॥
ॐ गुह्य​केश्वराय नमः ॥
ॐ निधीशाय नमः ॥
ॐ शङ्करसखाय नमः ॥
ॐ महालक्ष्मीनिवासभुवये नमः ॥
ॐ महापद्मनिधीशाय नमः ॥
ॐ पूर्णाय नमः ॥ 10 ॥

ॐ पद्मनिधीश्वराय नमः ॥
ॐ शङ्ख्यनिधिनाथाय नमः ॥
ॐ मकराख्यनिधिप्रियाय नमः ॥
ॐ सुखसम्पतिनिधीशाय नमः ॥
ॐ मुकुन्दनिधिनायकाय नमः ॥
ॐ कुन्दाक्यनिधिनाथाय नमः ॥
ॐ नीलनित्याधिपाय नमः ॥
ॐ महते नमः ॥
ॐ वरन्नित्याधिपाय नमः ॥
ॐ पूज्याय नमः ॥ 20 ॥

ॐ लक्ष्मिसाम्राज्यदायकाय नमः ॥
ॐ इलपिलापतये नमः ॥
ॐ कोशाधीशाय नमः ॥
ॐ कुलोचिताय नमः ॥
ॐ अश्वारूढाय नमः ॥
ॐ विश्ववन्द्याय नमः ॥
ॐ विशेषज्ञानाय नमः ॥
ॐ विशारदाय नमः ॥
ॐ नलकूबरनाथाय नमः ॥
ॐ मणिग्रीवपित्रे नमः ॥ 30 ॥

ॐ गूढमन्त्राय नमः ॥
ॐ वैश्रवणाय नमः ॥
ॐ चित्रलेखामनःप्रियाय नमः ॥
ॐ एकपिनाकाय नमः ॥
ॐ अलकाधीशाय नमः ॥
ॐ पौलस्त्याय नमः ॥
ॐ नरवाहनाय नमः ॥
ॐ कैलासशैलनिलयाय नमः ॥
ॐ राज्यदाय नमः ॥
ॐ रावणाग्रजाय नमः ॥ 40 ॥

ॐ चित्रचैत्ररथाय नमः ॥
ॐ उद्यानविहाराय नमः ॥
ॐ विहरसुकुथूहलाय नमः ॥
ॐ महोत्सहाय नमः ॥
ॐ महाप्राज्ञाय नमः ॥
ॐ सदापुष्पक वाहनाय नमः ॥
ॐ सार्वभौमाय नमः ॥
ॐ अङ्गनाथाय नमः ॥
ॐ सोमाय नमः ॥
ॐ सौम्यादिकेश्वराय नमः ॥ 50 ॥

ॐ पुण्यात्मने नमः ॥
ॐ पुरूहुतश्रियै नमः ॥
ॐ सर्वपुण्यजनेश्वराय नमः ॥
ॐ नित्यकीर्तये नमः ॥
ॐ निधिवेत्रे नमः ॥
ॐ लंकाप्राक्तन नायकाय नमः ॥
ॐ यक्षिनीवृताय नमः ॥
ॐ यक्षाय नमः ॥
ॐ परमशान्तात्मने नमः ॥
ॐ यक्षराजे नमः ॥ 60 ॥

ॐ यक्षिणि हृदयाय नमः ॥
ॐ किन्नरेश्वराय नमः ॥
ॐ किंपुरुशनाथाय नमः ॥
ॐ नाथाय नमः ॥
ॐ खट्कायुधाय नमः ॥
ॐ वशिने नमः ॥
ॐ ईशानदक्ष पार्स्वस्थाय नमः ॥
ॐ वायुवाय समास्रयाय नमः ॥
ॐ धर्ममार्गैस्निरताय नमः ॥
ॐ धर्मसम्मुख संस्थिताय नमः ॥ 70 ॥

ॐ नित्येश्वराय नमः ॥
ॐ धनाधयक्षाय नमः ॥
ॐ अष्टलक्ष्म्याश्रितलयाय नमः ॥
ॐ मनुष्य धर्मण्यै नमः ॥
ॐ सकृताय नमः ॥
ॐ कोष लक्ष्मी समाश्रिताय नमः ॥
ॐ धनलक्ष्मी नित्यवासाय नमः ॥
ॐ धान्यलक्ष्मीनिवास भुवये नमः ॥
ॐ अश्तलक्ष्मी सदवासाय नमः ॥
ॐ गजलक्ष्मी स्थिरालयाय नमः ॥ 80 ॥

ॐ राज्यलक्ष्मीजन्मगेहाय नमः ॥
ॐ धैर्यलक्ष्मी-कृपाश्रयाय नमः ॥
ॐ अखण्डैश्वर्य संयुक्ताय नमः ॥
ॐ नित्यानन्दाय नमः ॥
ॐ सुखाश्रयाय नमः ॥
ॐ नित्यतृप्ताय नमः ॥
ॐ निधित्तरै नमः ॥
ॐ निराशाय नमः ॥
ॐ निरुपद्रवाय नमः ॥
ॐ नित्यकामाय नमः ॥ 90 ॥

ॐ निराकाङ्क्षाय नमः ॥
ॐ निरूपाधिकवासभुवये नमः ॥
ॐ शान्ताय नमः ॥
ॐ सर्वगुणोपेताय नमः ॥
ॐ सर्वज्ञाय नमः ॥
ॐ सर्वसम्मताय नमः ॥
ॐ सर्वाणिकरुणापात्राय नमः ॥
ॐ सदानन्दक्रिपालयाय नमः ॥
ॐ गन्धर्वकुलसंसेव्याय नमः ॥
ॐ सौगन्धिककुसुमप्रियाय नमः ॥ 100 ॥

ॐ स्वर्णनगरीवासाय नमः ॥
ॐ निधिपीठ समस्थायै नमः ॥
ॐ महामेरुत्तरस्थायै नमः ॥
ॐ महर्षिगणसंस्तुताय नमः ॥
ॐ तुष्टाय नमः ॥
ॐ शूर्पणकज्येष्ठाय नमः ॥
ॐ शिवपूजारताय नमः ॥
ॐ अनघाय नमः ॥ 108 ॥

ॐ राजयोगसमायुक्ताय नमः ॥
ॐ राजसेखरपूज्याय नमः ॥
ॐ राजराजाय नमः ॥ 111 ॥

॥ इति श्री कुबेर अष्टोत्तर शतनामावलिः संपूर्णम्‌ ॥

Shri Kuber Ashtottara Shatanamavali - 108 Names in English

ॐ Kuberaya Namah ॥ ॐ Dhanadaya Namah ॥ ॐ Shrimate Namah ॥ ॐ Yaksheshaya Namah ॥ ॐ Guhyakeshvaraya Namah...
यह भी जानें
नामावली: श्री कुबेर अष्टोत्तर शतनामावली - 108 नाम | Shri Kuber Ashtottara Shatanamavali - 108 Names

नामावली: श्री कुबेर अष्टोत्तर शतनामावली - 108 नाम | Shri Kuber Namavali Youtube Video Shri Kuber Ashtottara Shatanamavali in Hindi, Sanskrit Aur English | Shri Kuber 108 Names


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

श्री कृष्णाष्टकम् - आदि शंकराचार्य

भजे व्रजैक मण्डनम्, समस्त पाप खण्डनम्, स्वभक्त चित्त रञ्जनम्, सदैव नन्द नन्दनम्...

श्री कृष्णाष्टकम्

वसुदॆव सुतं दॆवं कंस चाणूर मर्दनम्। दॆवकी परमानन्दं कृष्णं वन्दॆ जगद्गुरुम्...

मधुराष्टकम्: धरं मधुरं वदनं मधुरं - श्रीवल्लभाचार्य कृत

अधरं मधुरं वदनं मधुरं नयनं मधुरं हसितं मधुरं। हृदयं मधुरं गमनं मधुरं मधुराधिपते रखिलं मधुरं॥

माता सीता अष्टोत्तर-शतनाम-नामावली

ॐ सीतायै नमः। ॐ जानक्यै नमः। ॐ देव्यै नमः। ॐ वैदेह्यै नमः। ॐ राघवप्रियायै नमः। ॐ रमायै नमः...

श्री रुद्राष्टकम् - श्री गोस्वामितुलसीदासकृतं

नमामीशमीशान निर्वाणरूपं विभुं व्यापकं ब्रह्मवेदस्वरूपम्। निजं निर्गुणं निर्विकल्पं निरीहं...

बिल्वाष्टोत्तरशतनामस्तोत्रम्

त्रिदलं त्रिगुणाकारं त्रिनेत्रं च त्रियायुधम्। त्रिजन्म पापसंहारं एकबिल्वं शिवार्पणम् ॥

श्री शिवसहस्रनामावली

ॐ स्थिराय नमः। ॐ स्थाणवे नमः। ॐ प्रभवे नमः। ॐ भीमाय नमः। ॐ प्रवराय नमः। ॐ वरदाय नमः। ॐ वराय नमः। ॐ सर्वात्मने नमः...

🔝