भजन: गणपति आज पधारो, श्री रामजी की धुन में। (Ganapati Aaj Padharo Shri Ramaji Ki Dhun Me)


गणपति आज पधारो, श्री रामजी की धुन में।
गणपति आज पधारो, श्री रामजी की धुन में।

रामजी की धुन में, श्री रामजी की धुन में।
मोदक भोग लगाओ, श्री रामजी की धुन में॥ गणपति आज पधारो॥

गणपति आज पधारो और रिद्धि सिद्धि लाओ।
सुख आनंद बरसाओ, श्री रामजी की धुन में॥ गणपति आज पधारो॥

हनुमंत आज पधारो, देवा पवन वेग से आओ।
बल बुद्धि दे जाओ, श्री रामजी की धुन में॥ गणपति आज पधारो॥

ब्रम्हाजी पधारो, माता ब्रम्हाणी को लाओ।
वेद ज्ञान समझाओ, श्री रामजी की धुन में॥ गणपति आज पधारो॥

नारद आज पधारो, छम छम, छम कर ताल बजाओ।
नारायण गुण गाओ, श्री रामजी की धुन में॥ गणपति आज पधारो॥

प्रेम मगन हो जाओ भक्तो, राम नाम गुण गाओ।
सुर मंदिर में आओ, श्री रामजी की धुन में॥ गणपति आज पधारो॥

गणपति आज पधारो, श्री रामजी की धुन में।
गणपति आज पधारो, श्री रामजी की धुन में।

Read Also
» गणेशोत्सव - Ganeshotsav
» दिल्ली और आस-पास के प्रसिद्ध श्री गणेश मंदिर।
» पारंपरिक मोदक बनाने की विधि! | मावा के मोदक बनाने की विधि | बेसन के लड्‍डू बनाने की विधि

Ganapati Aaj Padharo Shri Ramaji Ki Dhun Me in English

Ramji Ki Dhun Mein, Shri Ramji Ki Dhun Mein । Modak Bhog Lagao, Shri Ramji Ki Dhun Mein

BhajanShri Ganesh BhajanShri Ram BhajanGrah Pravesh Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

भजन: यही आशा लेकर आती हूँ..

यही आशा लेकर आती हूँ हर बार तुम्हारे मंदिर में, कभी नेह की होगी मुझपर भी बौछार तुम्हारे मंदिर में...

भजन: श्री कृष्णा गोविन्द हरे मुरारी..

श्री कृष्णा गोविन्द हरे मुरारी, हे नाथ नारायण वासुदेवा॥

भजन: भए प्रगट कृपाला दीनदयाला।

भए प्रगट कृपाला दीनदयाला, कौसल्या हितकारी । हरषित महतारी, मुनि मन हारी, अद्भुत रूप बिचारी ॥ लोचन अभिरामा, तनु घनस्यामा...

भजन: राम सिया राम, सिया राम जय जय राम!

मंगल भवन अमंगल हारी, द्रबहुसु दसरथ अजर बिहारी। राम सिया-राम सिया राम...

राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।

राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली। कृष्ण नाम के हीरे मोती...

बांके बिहारी मुझको देना सहारा!

बांके बिहारी मुझे देना सहारा, कहीं छूट जाए ना दामन तुम्हारा॥ तेरे सिवा दिल में समाए ना कोई...

भजन: चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है।

चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है। ऊँचे पर्वत पर रानी माँ ने दरबार लगाया है।

भजन: मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की।

मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की। जय जय संतोषी माता जय जय माँ॥

भजन: मन लेके आया, माता रानी के भवन में।

मन लेके आया, माता रानी के भवन में, बड़ा सुख पाया, बड़ा सुख पाया...

भजन: दुर्गा है मेरी माँ, अम्बे है मेरी माँ!

दुर्गा है मेरी माँ अम्बे है मेरी माँ, जय बोलो जय माता दी, जो भी दर पे आए, जय हो...

🔝