प्रभु को अगर भूलोगे बन्दे, बाद बहुत पछताओगे (Prabhu Ko Agar Bhuloge Bande Need Kahan Se Laoge)


प्रभु को अगर भूलोगे बन्दे, बाद बहुत पछताओगे

प्रभु को अगर भूलोगे बन्दे,
बाद बहुत पछताओगे,
पैसे से भोजन लाओगे,
भूख कहा से लाओगे,
पैसे से भोजन लाओगे,
भूख कहा से लाओगे,
प्रभु को अगर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे ॥

पैसे के खातिर तू बन्दे,
करता रहा हेरा फेरी,
घी में डालडा, डालडा में घी,
करते नही तनिक देरी,
सुंदर वक़्त को कब तक बन्दे,
व्यर्थ में यू ही गवाओगे,
पैसे से बिस्तर लाओगे,
नींद कहा से लाओगे,
प्रभु को अगर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे ॥

साबुन से इस् तन को बन्दे,
धोता रहा तू मल-मल के,
मन तो तेरा गंदा रह गया,
तीरथ करता चल-चल के,
प्रभु शरण में नही गए तो,
बाद बहुत पछताओगे,
पैसे से गहना लाओगे,
रूप कहा से लाओगे,
प्रभु को अगर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे ॥

संगीत है शक्ति ईश्वर का,
इसका ही गुणगान करो,
मन को बांधो तन को साधो,
कभी नही अभिमान करो,
अगर साधना नही करोगे,
अंत समय पछताओगे,
पैसे से सरगम सीखोगे,
दर्द कहा से लाओगे,
प्रभु को अगर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे ॥

प्रभु को अगर भूलोगे बन्दे,
बाद बहुत पछताओगे,
पैसे से भोजन लाओगे,
भूख कहा से लाओगे,
पैसे से भोजन लाओगे,
भूख कहा से लाओगे,
प्रभु को अगर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे ॥

Prabhu Ko Agar Bhuloge Bande Need Kahan Se Laoge in English

Prabhu Ko Agar Bhuloge Bande, Baad Bahut Pachhtaoge ॥

Bhajan Ratnesh Chaturvedi BhajanShiva Chaturvedi Bhajan

अन्य प्रसिद्ध प्रभु को अगर भूलोगे बन्दे, बाद बहुत पछताओगे वीडियो

प्रभु को अगर भूलोगे बन्दे, बाद बहुत पछताओगे - रघुपति तिवारी

प्रभु को अगर भूलोगे बन्दे, बाद बहुत पछताओगे - धीरज कांत

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

शंकर शिव शम्भु साधु सन्तन सुखकारी: भजन

शंकर शिव शम्भु साधु सन्तन सुखकारी॥ निश दिन सिमरन करते, नाम पुण्यकारी॥

मन मेरा मंदिर, शिव मेरी पूजा: भजन

ॐ नमः शिवाय, सत्य है ईश्वर, शिव है जीवन, सुन्दर यह संसार है। तीनो लोक हैं तुझमे, तेरी माया अपरम्पार है॥

शिव अद्भुत रूप बनाए: भजन

शिव अद्भुत रूप बनाए, जब ब्याह रचाने आए। भुत बेताल थे..

हे शिव शंकर परम मनोहर: भजन

हे शिव शंकर परम मनोहर सुख बरसाने वाले, दुःख टालते भव से तार ते शम्भू भोले भाले..

दानी बड़ा ये भोलेनाथ, पूरी करे मन की मुराद!

दानी बड़ा ये भोलेनाथ, पूरी करे मन की मुराद, देख ले माँग के माँग के...

महल को देख डरे सुदामा: भजन

महल को देख डरे सुदामा, का रे भई मोरी राम मड़ईया, कहाँ के भूप उतरे..

अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो: भजन

अरे द्वारपालों कहना से कह दो, दर पे सुदामा गरीब आ गया है।

मंदिर

🔝