मूंग दाल खिचड़ी बनाने की विधि (Moong Dal Khichdi Recipe)

आवश्यक सामग्री:
चावल: १ कटोरी
मूंग दाल: १/४ कटोरी (छिलके वाली)
घी: २ बड़े चम्मच
हल्दी: १/४ छोटी चम्मच
जीरा: १ चम्मच
हींग: २ चुटकी

बनाने की विधि:
सबसे पहले चावल व दाल को अच्छी तरह धो कर साफ कर 20 मिनट के लिए भिगोने के लिए रख देते हैं। 20 मिनट बाद भींगी हुई दाल और चावल से पानी अलग कर लेते हैं। अब इन दाल चावल को एक कुकर में डालकर उसमे 6-7 कटोरी पानी डाल देते हैं। इसके बाद इसमें हल्दी, नमक एवम 1 चम्मच घी डालकर कुकर का ढ़क्कन बंद कर देते हैं। अब कुकर को मध्यम आंच पर रखकर खिचड़ी को पकने देते हैं। जब कुकर में 5-6 सीटी आ जाएं तब गैस को बंद कर देते हैं।

8-10 मिनट के बाद कुकर की सीटी निकाल कर उसके ढक्कन को खोले लेते हैं। और चमचे से खिचड़ी को मिला लेते हैं। अब एक छोटे पेन में घी डालकर मध्यम आंच पर गरम करतें हैं। जब घी अच्छे से गरम हो जाए तब हींग और जीरा डाल देते हैं। जीरा चिटकने लगे तब गैस को बंद कर इस तड़के को खिचड़ी में डाल कर अच्छी तरह से मिला देते हैं। इस प्रकार मूंग दाल की खिचड़ी बन कर तैयार हो जाती है।

धार्मिक महत्ता:
मकर संक्रांति पर यही मूँग दाल की खिचड़ी बनाई जाती है।
बृजभूमि एवं उत्तर भारत के मंदिरों मे यह खिचड़ी बहुत प्रसिद्ध है।

Moong Dal Khichdi Recipe in English

This moong dal khichdi is made on Makar Sankranti. This khichdi is very famous in the temples of Brijbhumi and North India.
यह भी जानें

Bhog-prasad Khichdi Bhog-prasadMoong Dal Bhog-prasadMoong Dal Khichdi Bhog-prasadMakar Sankranti Bhog-prasadSankranti Bhog-prasad

अगर आपको यह bhog-prasad पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस bhog-prasad को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

सूजी का हलवा बनाने की विधि

भोग लगाने के लिए सूजी का हलवा तैयार करने के सरल विधि...

पोड़ पीठा भोग

पोड पिठा एक ऐसा स्वादिष्ट भोग है जो भगवान जगन्नाथ का सबसे पसंदीदा व्यंजन है।

मूंग दाल खिचड़ी बनाने की विधि

मकर संक्रांति पर यही मूँग दाल की खिचड़ी बनाई जाती है। बृजभूमि एवं उत्तर भारत के मंदिरों मे यह खिचड़ी बहुत प्रसिद्ध है।

पंचामृत बनाने की विधि

हिंदू / जैन समाज में पूजा के बाद पंचामृत प्रसाद के रूप में दिया जाता है। आइये जानते हैं! रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाने मे सहायक पंचामृत बनाने की सरल विधि..

सिंघाड़े का हलवा बनाने की विधि

सिंघाड़े का हलवा बन कर तैयार हो जाता है। कतलियों को अपने स्वादानुसार काजू अथवा बादाम 1-1 चम्मच से सजा लेते हैं।

गाजर का हलवा बनाने की विधि

कटे हुए मेवे में से कुछ मेवे गाजर का हलवा को सजाने के लिए बचा लेते हैं।...

सूजी की खीर बनाने की विधि

सूजी की खीर बनाते समय यह ध्यान अवश्य रखना चाहिए। कि बनाते समय खीर को चमचे की सहायता से थोड़ी-थोड़ी देर में अवश्य चलाते रहें।

🔝