करवा चौथ | अहोई अष्टमी | आज का भजन!

साबूदाना खिचड़ी बनाने की विधि (Sabudana Khichdi Recipe)


बनाने की विधि:
साबूदाना को एक बर्तन में साफ पानी में डाल कर निकाल लेते है धुले हुए साबूदानों को आधा कप पानी डाल कर ५ से६ घंटे के लिए भिगोने रख देते हैं।

पांच-छह घंटे के बाद जब साबूदाने फूल जाए तब इनको हाथ या चम्मच से चलाते हुए अलग-अलग कर लेते हैं। अब एक भारी तली की कढ़ाई में आधी चम्मच घी डाल कर मध्यम आंच पर गरम कर मूंगफली को डाल कर हल्का गुलाबी होने तक भून कर किसी अन्य बर्तन में निकाल लेते हैं।

अब इसी कढ़ाई में दो बड़ी चम्मच घी डाल कर मध्यम आंच पर गरम करते हैं।जब घी गरम हो जाए तब इसमें जीरा डाल कर चिटका लेते हैं। फिर इसमें करी पत्ता व हरी मिर्च को डाल कर दस से पंद्रह सेकंड तक भून लेते हैं। कटे हुए आलुओं को भी डाल कर कलछी से चलाते हुए दो-तीन मिनट तक भून लेते हैं। इसमें काली मिर्च पाउडर और कटे हुए टमाटर डाल कर मिला देते हैं. और आंच को धीमा कर इसमें साबूदाने डाल कर दो मिनट तक चलाते हुए हल्दी पाउडर व नमक को भी डाल कर अच्छी तरह मिला लेते हैं।

इसके बाद दो मिनट के लिए साबुदाने को ढक कर पकाते हैं। दो मिनट के बाद ढ़क्कन हटा कर साबूदाना को कलछी से चलाने के बाद फिर दो तीन मिनट तक ढक कर पकाते हैं।दो-तीन मिनट के बाद जब ढक्कन को हटा कर देखते हैं। अब साबुदाने पारदर्शी हो गए हैं तो इसमे भूनी हुई मूंगफली के दाने,बारीक कटी हरी धनियां, नींबू का रस डाल कर अच्छी तरह मिला कर दो-तीन मिनट तक फिर से पका लेते हैं। फिर गैस को बन्द कर देते हैं। खिचड़ी को किसी अन्य बर्तन में निकाल लेते हैं।इस प्रकार से भोग लगाने के लिए साबुदाने की खिचड़ी तैयार हो जाती है।

आवश्यक सामग्री:
एक कप साबूदाना
दो तीन बड़ी चम्मच घी
आधा कप मूंगफली के दाने
एक बड़ा उबला आलू
एक टमाटर
दो बारीक कटी हरी मिर्च
एक चौथाई कप कटा हुआ धनियां
आठ दस करी पत्ता
आधा नींबू का रस
आधा चमंच जीरा
एक चौथाई चम्मच हल्दी पाउडर
आधी चम्मच काली मिर्च
नमक स्वादानुसार

Sabudana Khichdi Recipe - Available in English

Take a vessel and put sabudana in it in a clean water, add half a cup of water into the washed sabudana and soak it for 5 to 6 hours...
यह भी जानें

Bhog-prasadKhichdi Bhog-prasadSabudana Bhog-prasad


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

चावल की पारंपरिक खीर बनाने की विधि

सबसे पहले चावलों को अच्छी तरह धोने के बाद आधा घण्टे के लिए भिगोने रख देते हैं।

मखाने की खीर बनाने की विधि

व्रत, कथा, भोज, रक्षाबंधन तथा जन्माष्टमी में प्रयोग आने वाली प्रमुख मिष्ठान, मखाने की खीर बनाने की सरल रेसिपी...

गुड़ की खीर बनाने की विधि

...इस प्रकार छ्ट पूजा में भोग के लिए गुड़ की खीर बन कर तैयार हो जाती है।

साबूदाने की खीर बनाने की विधि

...इस प्रकार भोग के लिए आपकी साबुदाने की खीर बन कर तैयार हो गई।

रस खीर बनाने की विधि

...भारत के कुछ जगहों पर, रस खीर को दूध के साथ मिलाकर भी बनाया जाता है।

समा के चावल की खीर बनाने की विधि

अधिकतम व्रत जिसमें अन्न ग्रहण करना वर्जित होता है, उस व्रत में समा के चावल की खीर का उपयोग किया जाता है। आइए जानें इसे बनाने की विधि...

सूजी का हलवा बनाने की विधि

भोग लगाने के लिए सूजी का हलवा तैयार करने के सरल विधि...

पंचामृत बनाने की विधि

हिंदू समाज में पूजा के बाद पंचामृत प्रसाद के रूप में दिया जाता है। आइये जानते हैं! पंचामृत बनाने की सरल विधि..

पारंपरिक मोदक बनाने की विधि!

इनका प्रयोग गणेशोत्सव के दौरान भोग लगाने में किया जाता है, आइए जानते हैं पारंपरिक तरीके से मोदक बनाने की सरल विधि...

बेसन के लड्‍डू बनाने की विधि

बेसन के लड्‍डू गजानन श्री गणेश को अति प्रिय हैं, अतः इनका प्रयोग गणेशोत्सव के दौरान खूब होता है, आइए जानते हैं इन्हें बनाने की सरल विधि...

top