Download Bhakti Bharat APPSawan 2022

मथुरा के पेड़े बनाने की विधि (Mathura Ke Pede Recipe)

मथुरा के पेड़े बनाने की विधि

भगवान श्री कृष्ण की जन्म स्थली मथुरा के पेड़े जन मानस में काफी प्रसिद्ध हैं। लोग जब भी मथुरा आते हैं, तब अपने साथ इन पेड़ों को जरूर लेकर जाते हैं। आइए इन प्रसिद्ध पेड़ों को घर मे बनाने की विधि जानते हैं...

पेड़े बनाने की विधि:
एक कढ़ाई में दो चम्मच घी डालकर कर धीमी आंच पर हल्का गर्म करते हैं। अब इस कढ़ाई में मावा/खोया* को डाल कर एक कलछी की सहायता से लगातार चलाते हुए भूनते हैं। तीन से चार मिनट भूनने के बाद मावा जब सुनहरे(गोल्डन ब्राउन) हो जाए तो इसमें एक चम्मच चीनी डाल कर अच्छी तरह मिलाने के बाद गैस को बन्द कर देते हैं। और मावा को किसी अन्य बर्तन में निकाल लेते हैं।

मावा में बूरा (तगार**) व इलाइची पाउडर डाल कर अच्छी तरह मिला लेते हैं। और मिश्रण को हाथ में लेकर एक गोला या लड्डू बना लेते हैं, तथा अब इस लड्‍डू को दोनों हाथों की हथेलियों के बीच में रख कर हल्का सा दबा देते हैं। इस प्रकार से पेड़ा बन कर तैयार हो जाते हैं।

पेड़े बनाने की आवश्यक सामग्री:
मावा(खोया), घी, चीनी
बूरा या तगार, इलाइची

संबंधित अन्य नाम:
खोया पेड़ा, मावा पेड़ा, मथुरा के पेड़े, ब्राउन पेड़े

* खोया: उत्तर भारत में काफी जगहों पर मावा को खोया भी बोला जाता है।
** तगार: बूरा ना मिलने की कंडीशन में, तगार का प्रयोग किया जा सकता है।

Mathura Ke Pede Recipe in English

Let's know the method of making these famous Mathura Ke Pede at home.
यह भी जानें

Bhog-prasad Peda Bhog-prasadShri Krishna Bhog-prasadBaal Krishna Bhog-prasadJanmashtami Bhog-prasad

अगर आपको यह bhog-prasad पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस bhog-prasad को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

सूजी का हलवा बनाने की विधि

भोग लगाने के लिए सूजी का हलवा तैयार करने के सरल विधि...

सिंघाड़े का हलवा बनाने की विधि

सिंघाड़े का हलवा बन कर तैयार हो जाता है। कतलियों को अपने स्वादानुसार काजू अथवा बादाम 1-1 चम्मच से सजा लेते हैं।

समा के चावल की खीर बनाने की विधि

अधिकतम व्रत जिसमें अन्न ग्रहण करना वर्जित होता है, उस व्रत में समा के चावल की खीर का उपयोग किया जाता है। आइए जानें इसे बनाने की विधि...

मखाने की खीर बनाने की विधि

व्रत, कथा, भोज, रक्षाबंधन तथा जन्माष्टमी में प्रयोग आने वाली प्रमुख मिष्ठान, मखाने की खीर बनाने की सरल रेसिपी...

पंचामृत बनाने की विधि

हिंदू / जैन समाज में पूजा के बाद पंचामृत प्रसाद के रूप में दिया जाता है। आइये जानते हैं! रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाने मे सहायक पंचामृत बनाने की सरल विधि..

साबूदाने की खीर बनाने की विधि

...इस प्रकार भोग के लिए आपकी साबुदाने की खीर बन कर तैयार हो गई।

चावल की पारंपरिक खीर बनाने की विधि

सबसे पहले चावलों को अच्छी तरह धोने के बाद आधा घण्टे के लिए भिगोने रख देते हैं।

Hanuman ChalisaSavan 2022
Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App