सीता नवमी | वट सावित्री व्रत | आज का भजन! | भक्ति भारत को फेसबुक पर फॉलो करें!

मथुरा के पेड़े बनाने की विधि


मथुरा के पेड़े बनाने की विधि

भगवान श्री कृष्ण की जन्म स्थली मथुरा के पेड़े जन मानस में काफी प्रसिद्ध हैं। लोग जब भी मथुरा आते हैं, तब अपने साथ इन पेड़ों को जरूर लेकर जाते हैं। आइए इन प्रसिद्ध पेड़ों को घर मे बनाने की विधि जानते हैं...

पेड़े बनाने की विधि:
एक कढ़ाई में दो चम्मच घी डालकर कर धीमी आंच पर हल्का गर्म करते हैं। अब इस कढ़ाई में मावा/खोया* को डाल कर एक कलछी की सहायता से लगातार चलाते हुए भूनते हैं। तीन से चार मिनट भूनने के बाद मावा जब सुनहरे(गोल्डन ब्राउन) हो जाए तो इसमें एक चम्मच चीनी डाल कर अच्छी तरह मिलाने के बाद गैस को बन्द कर देते हैं। और मावा को किसी अन्य बर्तन में निकाल लेते हैं।

मावा में बूरा (तगार**) व इलाइची पाउडर डाल कर अच्छी तरह मिला लेते हैं। और मिश्रण को हाथ में लेकर एक गोला या लड्डू बना लेते हैं, तथा अब इस लड्‍डू को दोनों हाथों की हथेलियों के बीच में रख कर हल्का सा दबा देते हैं। इस प्रकार से पेड़ा बन कर तैयार हो जाते हैं।

पेड़े बनाने की आवश्यक सामग्री:
मावा(खोया), घी, चीनी
बूरा या तगार, इलाइची

संबंधित अन्य नाम:
खोया पेड़ा, मावा पेड़ा, मथुरा के पेड़े, ब्राउन पेड़े

* खोया: उत्तर भारत में काफी जगहों पर मावा को खोया भी बोला जाता है।
** तगार: बूरा ना मिलने की कंडीशन में, तगार का प्रयोग किया जा सकता है।

Available in English - Mathura Ke Pede Recipe
Let's know the method of making these famous Mathura Ke Pede at home.

Bhog-prasadPeda Bhog-prasad


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

पंचामृत बनाने की विधि

हिंदू समाज में पूजा के बाद पंचामृत प्रसाद के रूप में दिया जाता है। आइये जानते हैं! पंचामृत बनाने की सरल विधि..

सूजी का हलवा बनाने की विधि

भोग लगाने के लिए सूजी का हलवा तैयार करने के सरल विधि...

मूंग दाल के मगौड़े बनाने की विधि

...डार्क ब्राउन हो जाने के बाद उन्हें एक प्लेट में निकाल लेते हैं इसी प्रकार मिश्रण से सारे मगौड़े बना लेते हैं।

तिल-गुड़ के लड्डू बनाने की विधि

...जब मिश्रण हल्का गरम हो तभी लड्डू बना लें ठंडा होने पर लड्डू नहीं बन पाएँगे।

साबूदाना खिचड़ी बनाने की विधि

साबूदाना को एक बर्तन में साफ पानी में डाल कर निकाल लेते है धुले हुए साबूदानों को आधा कप पानी डाल कर ५ से६ घंटे के लिए भिगोने रख देते हैं...

बाजरा की मङियाँ बनाने की विधि

...गूथे हुए आटे की टिक्की बना कर तैयार कर लेते हैं। इस प्रकार एक बार में तीन से चार टिक्की एक कढ़ाई में तली जा सकती हैं।

अनरसे बनाने की विधि

...अनरसे को तलने के लिए घी न ज्यादा गरम हो और न ज्यादा ठंडा।

रस खीर बनाने की विधि

...भारत के कुछ जगहों पर, रस खीर को दूध के साथ मिलाकर भी बनाया जाता है।

मीठे पुआ बनाने की विधि

जब घी अच्छी तरह गरम हो जाए* तब हाथ से पांच छह पुआ गरम घी में डाल देते हैं...

close this ads
^
top